मप्र / ट्रेनिंग व रिसर्च में ब्रिटेन करेगा मप्र पुलिस की मदद

UK police will help in training and research
X
UK police will help in training and research

  • पुलिस मुख्यालय पहुंचा ब्रिटिश उच्च‍ आयोग का दल, डीजीपी व पुलिस अधिकारियों के साथ की बैठक
  • ब्रिटिश उच्च‍ आयोग के दल ने डायल-100 का भी किया अवलोकन

Jul 18, 2019, 05:07 AM IST

भोपाल . पुलिस कार्यप्रणाली के आधुनिकीकरण एवं नवाचार के क्षेत्र में मप्र देश के दूसरे राज्यों से काफी आगे है। मप्र आकर हमने इसे प्रत्यक्ष महसूस किया है। यह कहना है नई दि‍ल्ली स्थित ब्रिटिश उच्च‍ आयोग में राजनीतिक एवं द्विपक्षीय मामलों के प्रमुख रिचर्ड बारलो का। बारलो के नेतृत्व में भोपाल आई ब्रिटिश हाई कमीशन की टीम ने बुधवार को पुलिस महानिदेशक विजय कुमार सिंह से मुलाकात की। इंडो-ब्रिटिश योजना के अंतर्गत भारत और ब्रिटिश सरकार मानव तस्करी की रोकथाम तथा महिला व बच्चों की सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग कर रहे हैं।

 

मप्र पुलिस की कार्यप्रणाली से प्रभावित होकर ब्रिटेन ने मप्र पुलिस को प्रशिक्षण एवं शोध कार्यों के लिए आर्थिक अनुदान देने का फैसला किया है। इसी सिलसिले में ब्रिटिश हाई कमीशन की टीम भोपाल आई है। पुलिस मुख्यालय में हुई बैठक में ब्रिटिश हाई कमीशन में राजनीतिक एवं द्विपक्षीय मामलों की उप प्रमुख सोफी रोज, एडीजी महिला अपराध अन्वेष मंगलम, एडीजी प्रशिक्षण अनुराधा शंकर, आईजी प्रशिक्षण जितेंद्र सिंह, ब्रिटिश हाई कमीशन के प्रोग्राम मैनेजर प्रधान बोरा, मप्र पुलिस अकादमी भौंरी के उपनिदेशक विनीत कपूर एवं अंतरराष्ट्रीय सामाजिक संस्था एफएक्सबी इंडिया सुरक्षा के प्रोजेक्ट मैनेजर सत्य प्रकाश सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे। विशेष पुलिस महानिदेशक प्रशिक्षण संजय राणा ने ब्रिटिश टीम को बताया कि मप्र पुलिस के प्रशिक्षण को शोध केंद्रित किया गया है।

 

राजधानी आए ब्रिटिश उच्चायोग के हेड रिचर्ड बारलो और डिप्टी हेड सोफी रोज ने राज्य स्तरीय पुलिस कंट्रोल रूम का भी भ्रमण किया। एडीजी (दूरसंचार) उपेंद्र जैन ने डायल-100 की जानकारी देते हुए राज्य स्तरीय पुलिस कंट्रोल रूम का भ्रमण कराया। अधिकारियों ने डायल-100 (एफआरवी) का भी अवलोकन कराया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना