मप्र / विधानसभा अध्यक्ष का सवाल- मप्र की लड़कियां महिला हॉकी अकादमी में क्यों नहीं खेल पा रही हैं

मप्र विधानसभा में गुरुवार को जमकर हंगामा हुआ। मप्र विधानसभा में गुरुवार को जमकर हंगामा हुआ।
X
मप्र विधानसभा में गुरुवार को जमकर हंगामा हुआ।मप्र विधानसभा में गुरुवार को जमकर हंगामा हुआ।

  • ग्वालियर की राज्य महिला खेल अकादमी में हुए फर्जीवाड़ा के जांच के आदेश
  • खेल मंत्री जीतू पटवारी कराएंगे अकादमी में हुई गड़बड़ियों की सभी बिंदुओं पर जांच

दैनिक भास्कर

Jul 18, 2019, 07:49 PM IST

भोपाल. विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने गुरुवार को खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी को ग्वालियर स्थित राज्य महिला हॉकी अकादमी में गड़बड़ियों की जांच के आदेश देते हुए कहा कि इस संबंध में उनके पास भी कुछ तथ्य हैं।

 

विधायक विनय सक्सेना द्वारा ध्यानाकर्षण सूचना के जरिए यह मामला उठाने पर अध्यक्ष प्रजापति ने सख्त रुख अपनाते हुए कहा कि अकादमी में मप्र की लड़कियां क्यों नहीं खेल पा रही हैं। बाहर की लड़कियां लाकर अगर आप पारितोषक जीत रहे हैं, तो यह कहीं न कहीं अपने प्रदेश की लड़कियों के साथ कुठाराघात है। अध्यक्ष ने कहा कि इसके अलावा जितने भी कागज प्रश्नकर्ता सदस्य ने दिए हैं, वे पूरे सदन के पटल पर रख दीजिए और सबकी जांच कराइए।

 

दो साल में लड़कियों के साथ क्या हुआ, ये भी जांचें : अध्यक्ष ने कहा "इसके अलावा जितनी लड़कियां वहां रह रही हैं, वह संज्ञान में लीजिए। यह मैं बोल रहा हूं। वहां पिछले दो साल से लड़कियों के साथ क्या क्या घटनाएं हुईं, इसको भी संज्ञान में लीजिए। वहां के अधिकारियों ने जो जो भी चीजें की हैं, उस पर एक्शन लीजिए। उसके कागज मैं आपको अलग से उपलब्ध करवा रहा हूं।" 

 

फर्जी तरीके से कराई गई उप्र के लड़कियों की एंट्री : अध्यक्ष के इस आदेश के बीच सदन में सदस्यों ने मेज थपथपाईं। वहीं मंत्री पटवारी ने कहा कि अध्यक्ष के आदेश का अक्षरश: पालन किया जाएगा। इसके पहले सदस्य विनय सक्सेना ने आरोप लगाया कि हॉकी अकादमी में काफी गड़बड़ियां हैं। उत्तर प्रदेश की महिला खिलाड़ियों को अकादमी में लाया गया है। उन्होंने फर्जी तरीके से आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज बनवाए हैं। 

 

फर्जी तरीके से बनाए गए दस्तावेज : विधायक विनय सक्सेना ने आरोप लगाया कि अकादमी में मध्यप्रदेश के खिलाड़ियों को तवज्जो नहीं देकर बाहर की खिलाड़ियों को तवज्जो दी गई और जमकर गड़बड़ियां करायी गईं। इन सबकी व्यापक जांच कराके खेल विभाग और अकादमियों के खिलाड़ियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। 


विधायक के विशेषाधिकार का मामला उठा 
विधानसभा में भाजपा के एक विधायक के विशेषाधिकार हनन से जुड़ा मामला उठा। शून्यकाल के दौरान पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और भाजपा विधायक डॉ सीतासरन शर्मा ने कहा कि एक विधायक ने विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया है। उन्होंने अध्यक्ष एनपी प्रजापति से आग्रह किया कि इस विषय को प्रश्नकाल के बाद लिया जाए। इस पर अध्यक्ष ने कहा कि वे नियमों के मुताबिक सदन चलता है। 

 

एसडीएम ने विधायक का अपमान किया 
पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक भूपेंद्र सिंह ने कहा कि विधायक महेश राय के साथ एसडीएम ने अपमानजनक व्यवहार किया। उन्होंने अनुरोध किया कि अध्यक्ष इस पर कोई व्यवस्था दें। इसी बीच भाजपा के कई अन्य विधायकों ने हंगामा करना शुरु कर दिया। अध्यक्ष प्रजापति ने नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव से कहा कि वे अपने दल के विधायकों को संभालें। 

 

नियुक्तियों में गड़बड़ियों की जांच करायी जाएगी - चौधरी
स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने कहा कि उज्जैन जिले में राजीव गांधी शिक्षा मिशन के तहत हुयी नियुक्तियों में गड़बड़ियों की जांच करायी जाएगी। चौधरी ने पूर्व मंत्री एवं भाजपा विधायक विजय शाह द्वारा ध्यानाकर्षण सूचना के जरिए यह मामला उठाए जाने पर कहा कि जिन नियुक्तियों का सदस्य ने जिक्र किया है, वे सभी पूर्ववर्ती भाजपा शासनकाल में ही हुई हैं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना