• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • weather report for UP, MP, Bihar, Maharashtra, Heavy Rainfall in Bihar and Maharashtra, warning for UP

मानसून /बिहार में खतरे के निशान के करीब पहुंची कोसी, महाराष्ट्र में पुल बहा; उप्र में भारी बारिश की चेतावनी



बिहार में बगहा के सेमरा में तरुआनवा के पास दोन नहर का बांध टूट गया। बिहार में बगहा के सेमरा में तरुआनवा के पास दोन नहर का बांध टूट गया।
X
बिहार में बगहा के सेमरा में तरुआनवा के पास दोन नहर का बांध टूट गया।बिहार में बगहा के सेमरा में तरुआनवा के पास दोन नहर का बांध टूट गया।

  • बिहार में जोरदार बारिश से 6 नदिया उफान पर, मुजफ्फरपुर में बांध टूटा
  • उप्र में 10 जुलाई तक 167.5 मिमी बारिश हुई, पूर्वी हिस्सों के कई जिलों में भरा बारिश
  • महाराष्ट्र में पालघर में भारी बारिश में पुल का हिस्सा बहा, ठाणे में दीवार गिरी 

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 05:53 PM IST

नई दिल्ली. मानसून ने अब पूरे भारत को कवर कर लिया है। बिहार में लगातार बारिश से नदियां उफान पर हैं। महाराष्ट्र में पालघर, पुणे, ठाणे और कोंकण इलाकों में भारी बारिश हो रही है। बारिश के चलते नासिक के त्रयंब्केश्वर स्थित ज्योर्तिलिंग मंदिर में बुधवार को पानी भर गया थ। उधर, पूर्वी उत्तरप्रदेश में बस्ती, गोंडा, बहराइच में लगातार बारिश के चलते बाढ़ की स्थिति बन गई है। मध्यप्रदेश में बारिश थमी हैं, लेकिन मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले 48 घंटों में हल्की बारिश हो सकती है। 

  • बिहार: कोसी बैराज से छोड़ा गया डेढ़ लाख क्यूसेक पानी  

    बिहार: कोसी बैराज से छोड़ा गया डेढ़ लाख क्यूसेक पानी  

    राज्य में एक सप्ताह से हो रही बारिश से नदियां उफान पर हैं। नेपाल में भी भारी बारिश हो रही है, जिसके चलते कोसी खतरे के निशान के करीब पहुंच गई। कोसी बैराज से डेढ़ लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इसके साथ ही बागमती, लालबकेया, कमला बलान, महानंदा और भुतही नदी का जलस्तर भी खतरे के निशान के नजदीक पहुंच गया। मुजफ्फरपुर में तेज बहाव के चलते नदी पर बना बांध टूट गया। पश्चिमी चंपारण के बगहा में नदी के तेज बहाव से नहर का बांध टूट गया। इससे करीब 10 गांवों में पानी भर गया। बिहार में अभी तक मानसून की बारिश औसत से कम हुई है। पटना में अभी तक 206 मिमी बारिश हुई। यह औसत से 16 मिमी कम है। पिछले साल अब तक 196 मिमी बारिश हुई थी। भागलपुर में अभी तक 301.4 मिमी बारिश हुई है। यह औसत से 13 मिमी कम है। इसी तरह मुजफ्फरपुर में अब तक 193.9 मिमी बारिश हुई है। यहां औसत से 79.3 मिमी बारिश अधिक हुई है।

  • महाराष्ट्र: मुंबई में शहर को पानी सप्लाई करने वाली तुलसी जलाशय लबालब भरा 

    महाराष्ट्र: मुंबई में शहर को पानी सप्लाई करने वाली तुलसी जलाशय लबालब भरा 

    महाराष्ट्र के कई हिस्सों में शुक्रवार को भी बारिश जारी है। सबसे ज्यादा असर पालघर, पुणे, ठाणे और कोंकण इलाकों में रहा। गुरुवार को हुई बारिश से पालघर में एक ब्रिज का हिस्सा पानी में बह गया। वहीं, देर रात ठाणे में एक दीवार पर पेड़ गिरा। मुंबई में शहर को पानी सप्लाई करने वाली तुलसी जलाशय लबालब भर गया है। महाराष्ट्र के अन्य इलाकों की बात करें तो वेंगुरला में 156 मिमी, महाबलेश्वर में 121 मिमी, हरनाई में 85 मिमी, कोलाबा (मुंबई) में 58 मिमी, रत्नागिरि में 55 मिमी, माथेरान में 38 मिमी, परभणी में 27 मिमी और सांताक्रूज (मुंबई) में 25 मिमी बारिश हुई है।

  • उत्तरप्रदेश: मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के लिए जारी की चेतावनी

    उत्तरप्रदेश: मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के लिए जारी की चेतावनी

    प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों में अगले 48 घंटों तक भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की गई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से हो रही बारिश से गोंडा, बहराइच, बस्ती समेत कई अन्य जिलों में निचले इलाकों में पानी भर गया। घाघरा नदी का जलस्तर भी खतरे के निशान के पास पहुंच गया। मौसम विभाग के मुताबिक, राज्य में 10 जुलाई तक राज्य में 167.5 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। बारिश से जुड़े हादसों में यूपी में 1 मई से 10 जुलाई तक 225 मौतें हो चुकी हैं। 

  • मध्यप्रदेश: राजधानी समेत 38 जिलों में पड़ सकती हैं बौछारें 

    मध्यप्रदेश: राजधानी समेत 38 जिलों में पड़ सकती हैं बौछारें 

    राज्य के अधिकांश हिस्सों में शुक्रवार की सुबह से बादल छाए हुए हैं, साथ ही तेज हवाएं चल रही हैं। बीते 24 घंटों के दौरान राज्य के कुछ ही स्थानों पर बूंदाबांदी हुई है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, दो-तीन दिन बाद प्रदेश में हिमालय की तराई में जा सकता है। इसका असर यह होगा कि अगले एक हफ्ते तक भोपाल समेत प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में तेज बारिश नहीं होगी। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में अब तक मानसून सक्रिय रहने से सामान्य 212.8 मिमी से 25 फीसदी ज्यादा 265.3 मिमी बारिश हो चुकी है। भोपाल में सामान्य 223.1 मिमी से 30 फीसदी अधिक 289.8 मिमी बारिश हो चुकी है। 

COMMENT