--Advertisement--

शॉर्टकट से आगे हो जाओगे, लेकिन टिक नहीं पाओगे

आज के युवा आगे बढ़ने के लिए शॉर्टकट अपनाना चाहते हैं। मैं ऐसे युवाओं से कहता हूं कि शॉर्टकट के माध्यम से लाइन में...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 02:11 AM IST
Bhopal - शॉर्टकट से आगे हो जाओगे, लेकिन टिक नहीं पाओगे
आज के युवा आगे बढ़ने के लिए शॉर्टकट अपनाना चाहते हैं। मैं ऐसे युवाओं से कहता हूं कि शॉर्टकट के माध्यम से लाइन में जाकर आगे तो खड़े हो जाओगे, लेकिन टिके कैसे रहोगे। क्योंकि बारी जब खुद को साबित करने की आएगी तो खुद ब खुद बाहर हो जाओगेे। जॉब के दौरान आपको सिंसियर होकर काम करना है और खुद को साबित करना होता है और यह तभी होगा जब आप में मोरेलिटी होगी। यह कहना है रामकृष्ण मिशन ग्वालियर के स्वामी सुप्रदीप्तानंद का। वे मंगलवार को बरकतउल्ला विवि में आयोजित युवा संवाद कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता उपस्थित थे। कार्यक्रम का आयोजन स्वामी विवेकानंद के शिकागो भाषण के 125 वर्ष पूरे होने के अवसर पर किया गया। इस दौरान उन्होंने युवाओं से चर्चा में विवेकानंद के उपदेशों को साझा किया। सुप्रदीप्तानंद ने कहा- मेन मेकिंग, कैरेक्टर बिल्डिंग एजुकेशन बहुत जरूरी है। जिस दिन युवाओं में मे आई हेल्प यू का एटीट्यूड आ जाएगा, तब आप सफलता की ओर बढ़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि एक उदाहरण देते हुए युवाओं को समझाया कि भगवान राम और रावण दोनों ही फिजिकली और इंटलेक्चुअल फिट थे। श्रीराम में मोरेलिटी थी, लेकिन रावण में नहीं। राम गुडनेस की वजह से विजयी हुए।

Event @ BU

नंबर वन आना है, लेकिन रास्ता नहीं मालूम

सुप्रदीप्तानंद ने बताया कि युवा नंबर वन तो आना चाहते हैं, लेकिन उनको रास्ता नहीं मालूम। जरूरत है कि एक बार से ज्यादा प्रयास करें। जल्दी हार मान कर बिल्कुल भी हताश न हों। दुनिया कुछ भी कहे, कोशिश करें।

X
Bhopal - शॉर्टकट से आगे हो जाओगे, लेकिन टिक नहीं पाओगे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..