Hindi News »Madhya Pradesh »Bina» प्वाइंट सुधार रहे 2 कर्मचारियों की ट्रेन से कटकर मौत

प्वाइंट सुधार रहे 2 कर्मचारियों की ट्रेन से कटकर मौत

कुरवाई-कैथोरा स्टेशन से करीब 200 मीटर की दूरी पर डाउन लाइन का प्वांइंट सुधार रहे दो कर्मचारी ट्रैक पर अा रही राजधानी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 11, 2018, 03:10 AM IST

प्वाइंट सुधार रहे 2 कर्मचारियों की ट्रेन से कटकर मौत
कुरवाई-कैथोरा स्टेशन से करीब 200 मीटर की दूरी पर डाउन लाइन का प्वांइंट सुधार रहे दो कर्मचारी ट्रैक पर अा रही राजधानी एक्सप्रेस से टकरा गए। हादसे में एक की मौके पर ही मौत हो गई और दूसरे की कुछ देर बाद मौत हो गई। हादसा शुक्रवार की रात करीब 11 बजे का है।

जानकारी अनुसार डिपो इंचार्ज को सूचना मिली की डाउन लाइन का प्वांइंट फेल है। ड्यूटी पर तैनात डिपो इंचार्ज ने ईएसएम संजय शर्मा (48) निवासी पूर्वी रेलवे कॉलोनी एवं मंडीबामौरा में पदस्थ पाॅइंटमैन गंजबासोदा निवासी मनोहरलाल पंथी (55) को प्वांइंट सुधारने के लिए भेजा था। दोनो कर्मचारी मरम्मत कर रहे थे। तभी ट्रैक पर 120 की स्पीड से आ रही राजधानी एक्सप्रेस को लाइन दे दी गई। दोनों कर्मचारियों को संभलने का मौका भी नहीं मिला और वे ट्रेन की चपेट में आ गए जिससे मौत हो गई। ईएसएम शर्मा के ऊपर से ट्रेन निकल गई और पाॅइंट्समैन पंथी ट्रैन की टक्कर से दूर जा फिंके। ड्राइवर ने ट्रेन रोकी और वॉकी-टॉकी से घटना की सूचना देकर दो पेट्रोलिंग करने वाले कर्मचारियों को मौके पर भेजा। मौके पर दृश्य दिल दहला देने वाला था। उस वक्त मनोहर पंथी जीवित था।

दोनों कर्मचारियों ने उसे पटरी से उठाकर एक तरफ किया। लगभग 45 मिनिट तक वह जीवित रहा और फिर उसकी मौत हो गई। इधर हादसे में मृत हुए दोनों कर्मी के परिवार में मातम छाया रहा। देर शाम मृतक शर्मा का शव बीना उनके निवास पर लाया गया। परिजन बिलख-बिलख कर रो रहे थे। हादसे से रेलवे विभाग में भी शोक व्याप्त है। कुछ अधिकारियों-कर्मचारियों में रोष दिखा। उनका आरोप था कि रेलवे प्रशासन कर्मचारियों की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं है।

संजय शर्मा और दूसरे चित्र में मोहनलाल

सुरक्षा होती, तो बच जाती जान

रेलवे के एक कर्मी ने बताया कि जब किसी भी ट्रैक पर किसी कर्मचारी से कोई भी काम कराते हैं तो इसकी सूचना कंट्रोल रूम में दी जाती है, ताकि उस ट्रैक से गुजरने वाली ट्रेनों, मालगाड़ियों के ड्राइवर को कॉसन दिया जा सके। फेल पाॅइंट सुधारने के वक्त रात में काम कर रहे कर्मियों के साथ फ्लेगमेन होना चाहिए ताकि गाड़ियों के आने के दौरान वे कुछ दूरी पर खड़े होकर बता सके कि गाड़ी आ रही है। जब तक काम चल रहा है कि सिंगनल नहीं देना चाहिए या फिर काम करने वालो को जानकारी दे देना चाहिए कि गाड़ी आने का संकेत हो गया है। साथ ही अन्य सुरक्षा के इंतजाम है। लेकिन इन बातो का ध्यान नहीं रखने की बात बताई गई है।

सुबह उठाया शवों को कुरवाई में पीएम

शुक्रवार रात में ही सूचना गंजबासौदा जीआरपी और कंट्रोल रूम को दी गई, लेकिन समय पर कोई नहीं पहुंचा। सुबह करीब 5.30 बजे जीआरपी ने शवों को उठाया और पीएम के लिए कुरवाई सीएचसी भेजा। हादसे के कारणों की जांच रेलवे द्वारा की जा रही है। मृतक संजय शर्मा डब्ल्यूसीआरईयू के भूतपूर्व सहायक सचिव थे। इस ह्दय विदारक घटना में सभी दु:खी हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bina News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: प्वाइंट सुधार रहे 2 कर्मचारियों की ट्रेन से कटकर मौत
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bina

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×