बीना

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Bina
  • दलित आंदोलन का असर दूसरे दिन भी; 15 घंटे देरी से चली ट्रेनें, इंटरनेट बंद-कारोबार प्रभावित
--Advertisement--

दलित आंदोलन का असर दूसरे दिन भी; 15 घंटे देरी से चली ट्रेनें, इंटरनेट बंद-कारोबार प्रभावित

दलित आंदोलन का असर बीना में दूसरे दिन भी जारी रहा। पूरे दिन इंटरनेट सेवाएं ठप्प रही। इससे सरकारी दफ्तर सहित अन्य...

Dainik Bhaskar

Apr 04, 2018, 03:30 AM IST
दलित आंदोलन का असर दूसरे दिन भी; 15 घंटे देरी से चली ट्रेनें, इंटरनेट बंद-कारोबार प्रभावित
दलित आंदोलन का असर बीना में दूसरे दिन भी जारी रहा। पूरे दिन इंटरनेट सेवाएं ठप्प रही। इससे सरकारी दफ्तर सहित अन्य कार्य जो नेट से होते हैं प्रभावित रहें। इधर पुलिस भी शहर में गस्त करती रही और दलित समुदाय के लोगों पर नजर रखे रही। हालांकि शहर में शांति भरा माहौल रहा और सागर सहित अन्य जिलों में हुई दंगा, हिंसा के संबंध चर्चाए होती रही।

दलित आंदोलन का सबसे ज्यादा असर ट्रेन यातायात पर पड़ा। दिल्ली से बीना की ओर आने वाली कई ट्रेनें 15 घंटे तक देरी से पहुंची। जिस कारण यात्री परेशान रहे। हालांकि बीना से दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनें समय पर पहुंची। लेट चलने वाली ट्रेनों की बोगियां भी खाली रही।

डिप्टी एसएस एसके पंथी ने बताया कि सोमवार की रात में आने वाली ट्रेनें देरी से पहुंची। जिसमें श्रीधाम एक्सप्रेस 9 घंटा 49 मिनट, सचखंड एक्सप्रेस 10 घंटा, प्रतापगढ़ एक्सप्रेस 10 घंटा 41 मिनट, शान ए भोपाल 12 घंटा 47 मिनट, गोंडवाना एक्सप्रेस 11 घंटा 15 मिनट, मालवा एक्सप्रेस 14 घंटा 4 मिनट, सदन एक्सप्रेस 14 घंटा 32 मिनट, कुशीनगर एक्सप्रेस 1 घंटा 25 मिनट, पठानकोट एक्सप्रेस 6 घंटा, सूरत मुज्जफर ट्रेन 7 घंटा 24 मिनट देरी से पहुंची है। इसके अलावा स्टेशन पर नहीं रुकने वाली करीब एक दर्जन ट्रेनें भी देरी से गुजरी है।शताब्दी एक्सप्रेस भी 53 मिनट देरी से गुजरी।

बीना से दमोह जाने वाली पैसेंजर ट्रेन आउटर पर करीब 45 मिनट तक खड़ी रही। जिससे यात्री परेशान हुए। मंगलवार की सुबह 8 बजे सही समय पर ट्रेन स्टेशन से रवाना हुई थी। जो कुछ दूरी चलने के बाद उत्कृष्ट विद्यालय के पास खड़ा कर दिया। जो 8 बजकर 38 मिनट तक खड़ी रही। जिससे ट्रेन में सवार यात्री परेशान रहे।

बीना आने वाली ट्रेनें 12 से 15 घंटे देरी से चल रही हैं। स्टेशन पर भीड़। इनसेट आऊटर पर खड़ी दमोह-बीना पैंसेंजर।

दुरंतो एक्सप्रेस के जनरेटर से निकल रहा था धुंआ

दुरंतो एक्सप्रेस से धुंआ की जानकारी मिलने पर ट्रेन को रेलवे स्टेशन पर रोका और ट्रेन का निरीक्षण करने के लिए अफसर पहुंचे। देखा तो ट्रेन के जनरेटर से धुंअा निकल रहा था। जिस कारण ट्रेन को स्टेशन पर करीब 7 मिनट तक रोक कर रखा गया और फिर गंतव्य स्थान के लिए रवाना किया। जानकारी अनुसार निजामुद्दीन से मद्रास जा रही दुरंतो एक्सप्रेस आगासाैद रेलवे स्टेशन से निकल रही थी। जिसकी एक बोगी से रेलवे कर्मचारियों ने धुंआ निकलते हुए देखा तो उसकी जानकारी बीना रेलवे स्टेशन को दी। स्थानीय स्टेशन से थ्रो निकलने वाली इस ट्रेन को स्टेशन पर रोका गया। जिसका बारिकी से निरीक्षण किया गया। पता चला कि धुंअा ट्रेन के जनरेटर से निकल रहा था। ट्रेन को सही पाते हुए उसे गंतव्य स्थान के रवाना कर दिया गया।



X
दलित आंदोलन का असर दूसरे दिन भी; 15 घंटे देरी से चली ट्रेनें, इंटरनेट बंद-कारोबार प्रभावित
Click to listen..