• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bina
  • मालखेड़ी स्टेशन जाने वाली सड़क जर्जर; अंधेरा होने से लुटने का डर
--Advertisement--

मालखेड़ी स्टेशन जाने वाली सड़क जर्जर; अंधेरा होने से लुटने का डर

बीना जंक्शन का सहायक स्टेशन बीना मालखेड़ी दो मंडल के बीच में पिस रहा है। मालखेड़ी जबलपुर मंडल का आखिरी स्टेशन है...

Dainik Bhaskar

Apr 06, 2018, 03:40 AM IST
मालखेड़ी स्टेशन जाने वाली सड़क जर्जर; अंधेरा होने से लुटने का डर
बीना जंक्शन का सहायक स्टेशन बीना मालखेड़ी दो मंडल के बीच में पिस रहा है। मालखेड़ी जबलपुर मंडल का आखिरी स्टेशन है जबकि प्लेटफॉर्म के खत्म होने के कुछ दूरी के बाद भोपाल मंडल शुरू हो जाता है। यहां जाने वाली सड़क बहुत ही खराब है। रात में अंधेरा होने से मुसािफरों को लुटने का डर रहता है।

खुरई रेलवे गेट से मालखेड़ी सड़क एक साल पहले बनाई गई थी जो जर्जर हाे गई है स्ट्रीट लाइट न होने से शाम होते ही अंधेरा छा जाता है, जिससे ट्रेनों से आने-जाने वाले मुसािफरों को हरदम खतरा है। बीना स्टेशन की जगह मालखेडी रेलवे स्टेशन पर कई ट्रेनों का स्टाॅपेज तो कर दिया लेकिन यात्रियों को मिलने वाली सुविधाओं को रेलवे ने मुहैया नहीं करा पाई। मालखेड़ी रेलवे स्टेशन ना तो पर्याप्त टीन शेड़ है ना पीने के लिए पर्याप्त पानी और न ही आराम करने पर्याप्त प्रतिक्षालय। रेलवे स्टेशन पर आए दिन विद्युत कटौती के कारण रात के समय प्लेटफार्म क्रमांक 1 व 2 दोनों अंधेरे में रहते हैं।

गुरूवार को प्लेटफार्म पर मिले भोपाल निवासी देवेंद्र मिश्रा ने बताया कि उसे कटनी जाना है वह परिवार के साथ दोपहर को ट्रेन से बीना रेलवे स्टेशन पर आया तो उसे कटनी जाने कोई ट्रेन नहीं मिली। उसे पता चला कि मालखेडी रेलवे स्टेशन से हीराकुंड एक्सप्रेस कटनी के लिए मिलेगी तो वह मालखेड़ी आ गया। यहां उसे न तो कुछ खाने की दुकान मिली न ही प्रतिक्षालय। एक पेड़ के नीचे बैठकर ट्रेन का इंतजार करते रहे। इस संबंध में एडीईएन बीना स्वप्निल चौरसिया से चर्चा करना चाही लेकिन उन्होंने मोबाइल रिसीव नहीं किया।

ये है मालखेड़ी स्टेशन जाने वाली सड़क। यहां लाइट भी नहीं है जिससे परेशानी होती है।

X
मालखेड़ी स्टेशन जाने वाली सड़क जर्जर; अंधेरा होने से लुटने का डर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..