• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Bina
  • लाखों रुपए एडवांस लेकर माहेश्वरी ट्रेडर्स लापता, पुलिस ने किया केस दर्ज
--Advertisement--

लाखों रुपए एडवांस लेकर माहेश्वरी ट्रेडर्स लापता, पुलिस ने किया केस दर्ज

भास्कर संवाददाता | देवरीकलां देवरी नगर के मुख्य मार्ग पर राजेंद्र बड़कुल के मकान में नीचे के तल पर माहेश्वरी...

Danik Bhaskar | Feb 06, 2018, 04:25 AM IST
भास्कर संवाददाता | देवरीकलां

देवरी नगर के मुख्य मार्ग पर राजेंद्र बड़कुल के मकान में नीचे के तल पर माहेश्वरी ट्रेडर्स का बोर्ड लगा कर स्टील फर्नीचर, वुडन फर्नीचर और इलेक्ट्रॉनिक सहित घरेलू उपयोग की विभिन्न वस्तुओं की बिक्री 50% छूट पर लाखों रुपए एडवांस राशि लेकर बुकिंग कर धोखाधड़ी करने का मामला प्रकाश में आया है।

कंपनी के कर्मचारी ताला लगाकर चंपत हो गए हैं जैसे ही कर्मचारियों के चंपत होने की खबर नगर में फैली तो सोमवार की रात्रि करीब 8:00 बजे सैकड़ों लोगों का जमावड़ा लग गया। सूचना मिलने पर थाना प्रभारी अभिषेक वर्मा के निर्देश पर सहायक उपनिरीक्षक एनएस ठाकुर पहुंचे और माहेश्वरी ट्रेडर्स कंपनी की दुकान को सील कर दिया गया है। वहीं धोखाधड़ी के शिकार हुए सैकड़ों लोग पुलिस थाने पहुंचे अपनी व्यथा सुना रहे हैं।

सुखचैन वार्ड निवासी दीपांशु जैन ने बताया कि उन्होंने करीब 13000 रुपए की एडवांस बुकिंग माहेश्वरी ट्रेडर्स के नाम से 1 तारीख एवं 2 और 3 फरवरी को की थी जिसकी रसीद भी दुकान के कर्मचारियों द्वारा दी गई और आश्वासन दिया था कि 8 फरवरी को सामान की डिलेवरी होगी। इसी तरह कंपनी की दुकान के सामने रहने वाले मनोज जाटव ने बहन की शादी के लिए दहेज में देने के लिए सोफा सेट, पलंग और स्टील के डिब्बे, अलमारी, ड्रेसिंग आदि सामान के लिए 8400 रुपए एडवांस राशि जमा की थी। अब उन्हें पता चला कि कंपनी के कर्मचारियों दुकान के गेट पर ताला लगा दिया है।

हजारों रुपए जमा कर बुक किया था फर्नीचर

ग्राम बीना के निवासी सेवकराम ने बताया कि उन्होंने समान के नाम पर 18000 एडवांस राशि देकर पलंग, सोफा सेट और घर गृहस्थी का सामान बुक कराया था, जब उन्हें पता चला कि कंपनी के कर्मचारी भाग गए हैं तो वह देवरी आकर माहेश्वरी ट्रेडर्स की दुकान पर गए तो वहां पर ताला लगा मिला। अजीत जैन ने बताया कि उन्होंने एडवांस राशि देकर सामान बुक कराया था और 8 तारीख को कंपनी के कर्मचारियों द्वारा सामान की डिलेवरी की बात कही थी लेकिन वह चंपत हो गए हैं। सहायक उप निरीक्षक एनएस ठाकुर ने बताया कि थाना प्रभारी अभिषेक वर्मा के निर्देश पर माहेश्वरी ट्रेडर्स की दुकान में लगे तालों को सील कर दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। गौरतलब है कि ऐसी कंपनी जब अपना प्रचार प्रसार करती हैं तब क्या पुलिस और प्रशासन हाथ पर हाथ रखे बैठे ठगी होने का इंतजार करते रहते हैं।

माहेश्वरी ट्रेडर्स कंपनी में लगा ताला। इनसेट : कंपनी के खिलाफ ठगी के शिकार हुए लोगों ने किया प्रदर्शन।