--Advertisement--

मेहनत से मुकाम पाने वाले बच्चों का सम्मान

अंबेडकर तिराहा खिमलासा रोड पर रविवार को अहिरवार समाज संघ द्वारा नव वर्ष मिलन समारोह का आयोजन किया गया है। इसमें...

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 05:10 AM IST
अंबेडकर तिराहा खिमलासा रोड पर रविवार को अहिरवार समाज संघ द्वारा नव वर्ष मिलन समारोह का आयोजन किया गया है। इसमें समाज के बोर्ड परीक्षा में 80 प्रतिशत से ज्यादा अंक हासिल करने वाले मेधावी बेटा-बेटियों, संघ के आह्वान पर तेरहवी न करने वाले लोगों, समाज कल्याण के क्षेत्र में उत्कृष्ट काम करने वाले लोगों व बुजुर्ग लोगों को शील्ड, श्रीफल शाल, पेन डायरी, प्रमाण पत्र आदि देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि प्रदेश उपाध्यक्ष अहिरवार समाज संघ एमएल वर्मा, प्रदेश महासचिव रघुवीर सिंह चौधरी, संभागीय अध्यक्ष दुर्गा प्रसाद अहिरवार ने संरक्षक आरपी रोहित की अध्यक्षता में समारोह की शुरूआत की। अतिथियों ने संबोधित कर विचार व्यक्त किए और समाज कल्याण के लिए कार्य करने पर जोर दिया। समाज की बेटा-बेटियों को शिक्षित करने की बात कहीं। समाज में फैली कुरूतियां, अंधविश्वास, भ्रांतिया आदि को मिटाने कहा। खिरिया वार्ड निवासी गंगू लम्बरदार ने संत रविदास मंदिर एवं बाबा साहेब अंबेडकर की धर्मशाला बनाने के लिए 40 खंती जमीन दान में दी। कार्यक्रम का संचालन ब्लॉक उपाध्यक्ष प्रकाश अहिरवार ने किया और आभार कार्यक्रम संयोजक जिला अध्यक्ष दशरथ कुमार अहिरवार ने व्यक्त किया। इस मौके पर पन्नालाल अहिरवार, मीना, डां. अवधेश गौतम, गोवर्धन अहिरवार, आरपी रोहित, दयाराम अहिरवार, आलमचंद अहिरवार, गोवर्धन, दमरूलाल, मुकेश, रामबाबू, धर्मेंद्र, छोटेलाल, जयराम, आकाश, ललितकुमार, जयराम अहिरवार सहित शहर और ग्रामीण अंचलों से आए अहिरवार समाज के सैकड़ों लोग मौजूद थे।

कुर्मी समाज का संकल्प : हम मृत्युभोज नहीं करेंगे

बीना। कुर्मी क्षत्रिय समाज की सामाजिक बैठक सरदार बल्लभ पटेल छात्रावास प्रांगण में हुई। जिसमें समाज के लोगों ने चर्चा कर मृत्यूभोज का बहिष्कार एवं समाज में उपयोगी एवं सार्थक शिक्षा पर ध्यान देने, मेधावी छात्र-छात्राओं की मदद करने का प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक में बुंदेलखंड कुर्मी जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह पटेल बरयावदा, रघुराज पटेल, संतोष पटेल, शालकराम कुर्मी, राजेंद्र पटेल, डां. रामसेवक पटेल, अजय, राधेश्याम, शिवकेश, महेश , नीतिराज, सोहन, मुन्नालाल पटेल, एसके निरंजन, श्रीकांत पटेल, राहुल पटेल सहित बीना एवं खुरई से समाज के पुरूष व महिलाएं मौजूद थी।

खास और बदलाव