• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Bina
  • 5 साल बाद कोर्ट में चश्मदीद गवाह के बयान के बाद 6 लोगों पर हुआ हत्या का मामला दर्ज
--Advertisement--

5 साल बाद कोर्ट में चश्मदीद गवाह के बयान के बाद 6 लोगों पर हुआ हत्या का मामला दर्ज

देवरीकलां | एसडीएम राकेश मोहन त्रिपाठी के निर्देश पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम ने नगर के होटल, ढाबा एवं...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 03:20 AM IST
देवरीकलां | एसडीएम राकेश मोहन त्रिपाठी के निर्देश पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम ने नगर के होटल, ढाबा एवं स्वीट्स सहित चार स्थानों पर छापा मारकर खाद्य पदार्थों के नमूने लिए। खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के जिलाधिकारी राजेश राय के नेतृत्व में सबसे पहले ताजमहल ढाबा पर छापा मारा गया जहां गेहूं के आटे के नमूने लिए गए, इसके बाद सिलारी रोड स्थित केके ढाबा पर छापा मारा जहां फ्रिज में रखी चार बियर की बोतल जब्त की गईं। इसके बाद टीम खत्री ढाबा पर पहुंची जहां रसोई तेल का सैंपल लिया गया। इसके बाद खाद्य विभाग की टीम ने झुनकु पुल के पास बीकानेर स्वीट्स की दुकान एवं निर्माण स्थल का जायजा लिया और मावा का सैंपल लिया। इस कार्रवाई के दौरान नजूल अधिकारी पीएस ठाकुर मौजूद थे।

बरोदियानौनागिर का मामला | 5 मार्च 2013 को घटना हुई थी

भास्कर संवाददाता | खुरई

पांच साल बाद चश्मदीद बाबा गुलाबदास के कोर्ट में धारा 164 के तहत कलमबंद बयान देने के बाद पुलिस ने बरोदिया नौनागिर के पास युवक अमर सिंह पिता पर्वत सिंह दांगी की खेत में जलने से मौत के मामले की फाइल को रिओपन किया। उसके बाद चश्मदीद के आधार पर 6 लोगों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। जिसमें तीन नामजद आरोपी इमरान, अरमान, रिजवान निवासी बरोदिया नौनागिर हैं, वहीं तीन आरोपी अन्य हैं, जिनकी पहचान होना बाकी है।

एसडीओ पुलिस रवि भदौरिया ने बताया कि उरदौना निवासी बाबा गुलाबदास घटना स्थल के सामने बरोदियानौनागिर ठाकुरबाबा मंदिर में पुजारी था। जो बाबा बन गया था और वहीं रहता था। वह घटना का चश्मदीद गवाह है। उसने कोर्ट में उपस्थित होकर धारा 164 के बयान दर्ज कराए, उसके बाद अभियोजन से राय लेने के बाद आरोपियों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। अब नगर थाना प्रभारी मामले की जांच करेंगे।

भय के कारण बाबा बाहर चला गया था: चश्मदीद गवाह बाबा गुलाबदास ने घटना देखी थी। उस समय उससे पूछताछ भी हुई थी। लेकिन आरोपी दबंग होने से भय के कारण बाबा ने कुछ नहीं बताया। वह भय के कारण बरोदिया नौनागिर का मंदिर छोड़कर चला गया। उसने बताया कि वह पांच साल हरिद्वार, ऋषिकेश सहित कई धार्मिक स्थानों पर रहा। अभी तीन माह पहले ही यहां लौटा था। उसके बाद कोर्ट में जाकर बयान दर्ज कराए।

आरोपी अन्य मामले में पहले ही जेल थे जो जमानत पर रिहा हैंं : आरोपी इमरान, अरमान, रिजवान पहले ही अन्य मामले में जेल गए थे जो बाद में जमानत पर रिहा हो गए। दो माह पहले उनके द्वारा किशोरी बालिका को केरोसिन डालकर जलाने का मामला सामने आया था।

यह है मामला

राहतगढ़-खुरई रोड पर बरोदिया नौनागिर से दो किमी पहले बनी यज्ञशाला के सामने स्थित चने के खेत में 05 मार्च 2013 को 32 वर्षीय युवक की अधजली लाश मिली थी। मृतक की पहचान अमर सिंह पिता पर्वत सिंह दांगी निवासी बरोदिया नौनागिर के रूप में हुई थी। वह स्वयं के खेत में जली अवस्था में मृत पाया गया था। उस समय मृतक के परिजनों के ने बताया था कि मृतक अमर सिंह 04 मार्च 2013 की रात 8 बजे घर से खेत की ओर गया था। रात भर घर न लौटने के कारण उसका पुत्र उसे ढूंढने सुबह करीब 8 बजे खेत गया, वहां उसकी अधजली लाश मिली थी। जिसकी सूचना उसने घर पर दी थी। उसके बाद परिजनों ने करीब 12.30 बजे थाने में सूचना दी थी। उस समय एफएसएल के वरिष्ठ वैज्ञानिक डाॅ. अस्थाना ने बताया था कि युवक का जिंदा अवस्था में जलना पाया गया है। वह स्वयं जला या किसी ने उसे जलाया, यह पोस्टमार्टम के बाद पता चलेगा। युवक जलने के बाद करीब 20 मीटर दूर तक भागा, उसके बाद वह गिर पड़ा। बैठी हुई अवस्था में जलने से उसके हाथ सहित शरीर भी जला लेकिन पिछला हिस्सा नहीं जल पाया। वह चने के बीच गिरा हुआ था। जलने वाले स्थान से बोरा, काला शाॅल, गमछा जला पाया गया। जूते पास में उतरे रखे हुए थे। 5 लीटर की केरोसिन की कुप्पी पाई गई जिसमें पौन लीटर केरोसिन मौजूद था। ढक्कन जला हुआ पाया गया। वहां जली हुई डायरी, मोबाइल भी पाया गया जो पूरी तरह जल चुके थे।

जिले की खबरें

होटल- ढाबों सहित चार स्थानों पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के छापे

चोरी पकड़ने में पुलिस नाकाम, किसान ने किया इनाम घोषित

बीना | एक जून को सेंट्रल बैंक से किसान रविंद्र बबेले के एक लाख रुपए चुराने वाले चोर को 14 दिन बाद भी पुलिस पकड़ने में नाकाम रही तो किसान ने चोर का पता बताने वाले व्यक्ति को 5 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है। इसके लिए किसान बबेले ने एसडीओपी को ज्ञापन भी सौंपा है। उन्होंने बताया कि वे एक जून को किसान क्रेडिट कार्ड के तहत एक लाख रुपए का ऋण सेंट्रल बैंक में जमा करने गए थे। इसी दौरान चोर उनके बैग से रुपए चोरी कर भाग गया। सीसीटीवी कैमरों में चोर की तस्वीर भी कैद हुई। यह फुटेज पुलिस को दिए थे आैर रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। मगर 14 दिन बीतने के बाद भी पुलिस चोर को पकड़ने में नाकाम रही। किसान बबेले ने बताया कि इसके 7 दिन बाद मध्यांचल बैंक से किर्रावदा निवासी एक किसान के 33 हजार रुपए चोरी चले गए थे। उस चोर को भी पुलिस नहीं पकड़ पाई है।

अवैध रेत उत्खनन, परिवहन कर रहे तीन ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त, तीन आरोपियों को जेल भेजा

खुरई| ग्रामीण थाना पुलिस ने अवैध उत्खनन एवं रेत परिवहन कर रहे तीन ट्रैक्टर- ट्रॉलियों को जब्त कर कार्रवाई की है। तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर जेल भेजा गया। पुलिस के मुताबिक खुरई- बीना रोड पर निर्तला के पास आरोपी देवराज चढ़ार, हलीम खान निवासी ककरूवा को रेत का अवैध परिवहन करते हुए पकड़ा। दूसरे मामले में आरोपी मुकीम पिता नूर मोहम्मद उम्र 34 साल निवासी देवली थाना कुरवाई तथा तीसरे मामले में आरोपी मोहर पिता गनेशराम रैकवार उम्र 30 वर्ष निवासी चकड़धूमी, थाना कुरवाई को अवैध रेत परिवहन में गिरफ्तार किया गया। तीनों ट्रैक्टर- ट्रॉलियों की रेत जब्त की गई। जिस पर गौड़ खनिज अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।

ठेका की जमीन को लेकर हुआ विवाद,पति प|ी को पीटा

बीना| खिमलासा में ठेका की जमीन को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बड़ा की आरोपियों ने डंडे से पति प|ी की पिटाई कर दी। जिससे दोनों घायल हो गए। पीडितों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि खिमलासा वार्ड क्रमांक 2 के निवासी अमोल पिता गणपत कुशवाहा उम्र 40 वर्ष को ठेका की जमीन को लेकर गांव के ही लोगों से विवाद हो गया। विवाद के चलते गुरूवार की सुबह 6 बजे हरप्रसाद कुशवाहा,हरगोविंद कुशवाहा,दामोदर कुशवाहा एवं लल्ली कुशवाहा ने डंडे से मारपीट कर दी यह देख उसकी प|ी हीराबाई उसे बचाने आई तो आरोपियों ने उसके साथ भी मारपीट शुरू कर दी जिससे दोनों घायल हो गए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..