• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bina
  • रेलवे कर्मचारियों ने शहर की बिजली केबल काटी, 15 वार्डों में 5 घंटे अंधेरा
--Advertisement--

रेलवे कर्मचारियों ने शहर की बिजली केबल काटी, 15 वार्डों में 5 घंटे अंधेरा

Bina News - विद्युत विभाग की 11 हजार वोल्टेज की केबिल रविवार को झांसी रेलवे गेट के पास रेलवे कर्मचारियों ने खुदाई करते समय काट...

Dainik Bhaskar

Apr 16, 2018, 03:35 AM IST
रेलवे कर्मचारियों ने शहर की बिजली केबल काटी, 15 वार्डों में 5 घंटे अंधेरा
विद्युत विभाग की 11 हजार वोल्टेज की केबिल रविवार को झांसी रेलवे गेट के पास रेलवे कर्मचारियों ने खुदाई करते समय काट दी। जिससे शहर के करीब 15 वार्डों में 5 घंटे तक बिजली सप्लाई बंद रही। शिकायत मिलने पर विद्युत कर्मी पहुंचे और जायजा लिया। बाद में उन्होंने बिजली लाइन को ग्रामीण फीडर से जोड़ कर बिजली समस्या बहाल की।

केबल काटने का मामला सुबह करीब साढ़े 10 बजे का बताया गया है। शहर की बिजली ग्रामीण फीडर से जोड़ने के बाद दोपहर ढाई बजे बिजली आई। मामले में विद्युत विभाग अधिकारियों ने अज्ञात रेलवे कर्मचारियों के खिलाफ जीआरपी को लिखित आवेदन देकर कार्रवाई करने की मांग की है।

डीई नितिन डहेरिया, एई बीएस तोमर ने बताया कि सुबह करीब साढ़े 10 बजे शहर के कुछ वार्डों की अचानक बिजली चली गई। बिजली जाने पर फाॅल्ट को खोजने के लिए विद्युत कर्मचारियों को भेजा, लेकिन विद्युत पोलों पर किसी तरह का फाॅल्ट नहीं मिला। झांसी गेट के पास जमीन के अंदर से निकली 11 हजार वोल्टेज की केबिल 300 स्कावर एमएम 70 मीटर की केबिल कटी मिली, जो रेलवे कर्मचारियों ने खुदाई के दौरान काट दी थी। केबिल कटने के कारण विभाग को करीब 6 लाख रूपए का नुकसान हुआ है।

एई तोमर ने कहा केबल कटने से कॉलेज तिराहा से स्टेशन के आस-पास के वार्डों की लाइट करीब 5 घंटे बंद रही। जिसमें राजीव, गांधी, भीम वार्ड, गणेश वार्ड, नानक वार्ड, भगत सिंह वार्ड, इंदिरा गांधी वार्ड, शिवाजी वार्ड, सुभाष वार्ड, मस्जिद वार्ड, राम वार्ड, पाठक वार्ड, आचवल वार्ड, शिव वार्ड, शास्त्री वार्ड आदि वार्डों की बिजली गुल रही। जिसे बाद में ग्रामीण फीडर से जोड़ कर दोपहर ढाई बजे चालू की गई।

वोल्टेज की हो सकती है परेशानी : एसई

12 किमी में फैले ग्रामीण फीडर में ग्रामीण क्षेत्र के साढ़े 4 हजार बिजली कनेक्शन हैं। जिस पर इन वार्डों के ढाई हजार कनेक्शन का लोड और अधिक बढ़ गया है जिससे वोल्टेज की समस्या एवं विद्युत कटौती की संभावना बढ़ना बताई जा रही है। एई तोमर ने बताया कि केबल सुधारने में करीब 10 दिन लगेंगे। जब तक इन वार्डों को ग्रामीण फीडर से जोड़ा जाएगा। इस संबंध में जीआरपी एसआई एचएस वर्मा ने कहा बिजली विभाग से आवेदन मिला है, जांच कराई जा रही है।

बिजली कर्मचारियों ने यह केबल काटी।

मीटर रीडरों की हड़ताल : बिल नहीं पहुंचे

खुरई | बिजली विभाग के मीटर रीडर 27 दिन से हड़ताल पर हैं जिससे अप्रैल के बिजली बिल घरों तक नहीं पहुंचे हैं। हालांकि स्थाई कर्मचारी बिल बांट रहे हैं लेकिन उनकी संख्या कम होने से समस्या हो रही है जबकि बिल अदा करने की आखिरी तारीख 21 अप्रैल है। अशोक कुमार, निखिल ने कहा मीटर रीडिंग नहीं हुई है। कितना बिल भरना है यह समझ में नहीं आ रहा है। अब दफ्तर जाकर बिल निकलवाना पड़ेगा। मीटर रीडर उमाशंकर वर्मन, तारेश कुशवाहा, अनंत मिश्रा, सुबोध शर्मा, रामसिंह घोषी, कुलदीप राजपूत, प्रवेन्द्र राय ने मंत्री भूपेन्द्र सिंह को ज्ञापन सौंपकर नियमितीकरण, फिक्स वेतनमान सहित पांच सूत्रीय मांगों को दोहराया है।

X
रेलवे कर्मचारियों ने शहर की बिजली केबल काटी, 15 वार्डों में 5 घंटे अंधेरा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..