Hindi News »Madhya Pradesh »Bina» ठेकेदार ने नहीं दिया पेमेंट, 40 मजदूर सपरिवार पहुंचे एसडीएम के ऑफिस

ठेकेदार ने नहीं दिया पेमेंट, 40 मजदूर सपरिवार पहुंचे एसडीएम के ऑफिस

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाई गई रोड के ठेकेदार द्वारा बाहर के मजदूरों से काम तो करवा लिया गया, लेकिन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 03, 2018, 04:10 AM IST

ठेकेदार ने नहीं दिया पेमेंट, 40 मजदूर सपरिवार पहुंचे एसडीएम के ऑफिस
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाई गई रोड के ठेकेदार द्वारा बाहर के मजदूरों से काम तो करवा लिया गया, लेकिन काम का पेमेंट नहीं दिया। इस पर मजदूर अपने परिवार सहित एसडीएम दफ्तर पहुंचे और मजदूरी दिलाने की गुहार लगाई। एसडीएम ने एसडीओपी की मौजूदगी में ठेकेदार, रोड इंजीनियर को बुलाकर आमने-सामने बात की और मामले की हकीकत जानी। दिनभर चले मामले के बाद शाम को दोनों पक्षों में समझौता हुआ और मामला निपटा।

शनिवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे उमरिया जिला के करीब 40 मजदूर अपनी प|ी, बच्चों के साथ तहसील पहुंचे और ठेकेदार द्वारा मजदूरी नहीं देने के आरोप लगाते हुए एसडीएम से शिकायत और पेमेंट दिलाने गुहार लगाई। मजदूर कल्यान सिंह, रामचरण, बबुआ सहित अन्य ने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत गुरयाना से मुरयाना एवं बिहरना से परसोरा तक रोड बनाया गया है। यह रोड ठेकेदार शशी शंकर चौबे बनवा रहा था। जिसके यहां वे करीब 40 मजदूर मजदूरी कर रहे थे। उन्होंने दो माह दिन एवं रात में भी काम किया है। जिसका भुगतान 3 लाख 60 हजार रुपए ठेकेदार से बैठता था लेकिन नहीं दिया है। जब मजदूरी मांगी तो वह मारपीट करवाने की धमकी देते थे। कुछ दिन पहले कलेक्टर के यहां फरियाद लेकर गए थे। कलेक्टर ने बीना भेजा है।

इस पर एसडीएम डीपी द्विवेदी, एसडीओपी रक्षपाल सिंह यादव ने रोड ठेकेदार शशिशंकर चौबे, इंजीनियर केके अग्रवाल को दफ्तर बुलाया और दोनों पक्षों से चर्चा कर हकीकत जानी।

दिनभर चले मामले के बाद आखिर में शाम को दोनों में समझौता हुआ। मजदूरी राशि मिलने के बाद मजदूर अपने घर के लिए रवाना हो गए। एसडीएम द्विवेदी ने बताया कि ठेकेदार, रोड इंजीनियर को बुलाकर मामले की हकीकत जानी गई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bina

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×