• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bistan
  • बस ने बाइक को मारी टक्कर, 20 मिनट तड़पते रहे, 1 की मौत, 1 घायल
--Advertisement--

बस ने बाइक को मारी टक्कर, 20 मिनट तड़पते रहे, 1 की मौत, 1 घायल

Bistan News - बिस्टान रोड पर एक तेज रफ्तार बस ने पीछे से बाइक को तेज टक्कर मार दी। बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:10 AM IST
बस ने बाइक को मारी टक्कर, 20 मिनट तड़पते रहे, 1 की मौत, 1 घायल
बिस्टान रोड पर एक तेज रफ्तार बस ने पीछे से बाइक को तेज टक्कर मार दी। बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर घायल हो गया। घटना के बाद दोनों घायल करीब 20 मिनट तक सड़क पर ही तड़पते रहे लेकिन अस्पताल पहुंचाने मदद को तैयार नहीं हुए। एक ऑटो चालक तैयार हुआ तो उसके साथ जाने को राजी नहीं था। विवाद के बाद एक पुलिस जवान घायलों को जिला अस्पताल लेकर पहुंचा। यहां एक ने दम तोड़ दिया जबकि दूसरे का उपचार जारी है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक सतीश पिता मोतीराम माैर्य (40) निवासी बजरंगनगर जैतापुर बाइक (एमपी10बीए-2147) से प्रदीपसिंह (35) निवासी कमलानगर के साथ बिस्टान से खरगोन आ रहा था। तभी दोपहर 2.15 बजे नहर की पुलिया पर बिस्टान की तरफ से आ रही खरगोन-मलतार यात्री बस (एमपी 09एफए-0976) ने बाइक को पीछे से तेज टक्कर मार दी। दोनों सवार बाइक से सड़क पर दूर जा गिरे। सतीश के सिर में अंदरुनी चोट लगने से उल्टी हो गई। घटना के तत्काल बाद बस चालक फरार हो गया। यात्री भी उतरकर बाहर आ गए। स्थानीय कारोबारियों मुताबिक बस चालक सवारी उतारने व बैठाने के लिए बीच सड़क पर बस खड़ी कर देते हैं। कई बार विवाद भी होते है लेकिन कभी पुलिस या यातायात विभाग ने कार्रवाई नहीं की।

राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे

5वीं के बच्चे अखबार नहीं पढ़ सके, 8वीं वाले % में उलझे

भास्कर संवाददाता | खरगोन

सरकारी स्कूल में बच्चों की बौद्धिक व शैक्षणिक हालत काफी कमजोर है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने जिला सहित प्रदेश के स्कूलों में राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे कराया। जिले में शिक्षा के स्तर का मखौल उड़ाने वाली सर्वे रिपोर्ट भी जारी हो चुकी है।

इसमें सामने आया कि 5वीं कक्षा के 50 फीसदी बच्चों को अखबार व किताब पढ़ना नहीं आता हैं। आठवीं के बच्चे प्रतिशत नहीं निकाल पाते है। विद्यार्थियों की स्थिति जानने के लिए अगस्त 2017 में जिले की 117 प्राथमिक व माध्यमिक स्कूलों में परीक्षा हुई थी। जिसमें तीसरी, पांचवीं व आठ‌वीं के 2478 बच्चों ने हिंदी, गणित, विज्ञान, पर्यावरण व सामाजिक विज्ञान के सवाल हल किए। कक्षा तीसरी की 59, पांचवीं की 61 व आठवीं की 51 स्कूलों को शामिल किया गया था।

घटना स्थल से बाइक हटाते रहवासी।

जिले की स्कूली शिक्षा की हकीकत सामने आई, 117 स्कूलों के 2478 बच्चों ने अगस्त 2017 में दी थी परीक्षा

यह रही जिले की औसत उपलब्धि रिपोर्ट

कक्षा तीसरी

विषय विद्यार्थी 30% से कम 30-50% 50-75% 75% से अधिक

हिंदी 666 11.41 25.23 45.05 18.32

गणित 666 4.35 16.82 40.24 38.59

पर्यावरण 666 10.81 20.72 39.34 29.13

कक्षा पांचवीं

विषय विद्यार्थी 30% से कम 30-50% 50-75% 75% से अधिक

हिंदी 712 16.71 18.68 41.85 22.75

गणित 712 28.93 28.09 35.25 7.72

पर्यावरण 712 17.81 24.30 43.12 14.75

कक्षा आठवीं

विषय विद्यार्थी 30% से कम 30-50% 50-75% 75% से अधिक

हिंदी 1100 18.27 25.27 38.27 18.18

गणित 1100 34.36 36.09 27.18 2.36

विज्ञान 1100 28.09 35.27 32.27 4.36

सा.विज्ञान 1100 28.91 32.91 32.55 5.64

मोबाइल से बना रहे थे वीडियो, पुलिस देख रही थी तमाशा

हादसे के बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई लेकिन कोई उसे अस्पताल नहीं ले गया। डायल 100 को फोन पर सूचना दी, जिससे वो भी नहीं पहुंची। कुछ लोग मोबाइल से वीडियो बनाने लगे। बाइक पर एक पुलिस जवान पहुंचा लेकिन उसने सक्रियता नहीं दिखाई। ऑटो चालक राम दांगी पहुंचे। उसकी सक्रियता से अस्पताल पहुंचाया। 10 मिनट बाद सतीश ने दम तोड़ दिया। प्रदीप खतरे से बाहर है।

खास बात-
खास बात-
खास बात-
ऐसा था परीक्षा पैटर्न

एनसीईआरटी द्वारा किए गए सर्वेक्षण में तीसरी व पांचवीं कक्षा से 45 प्रश्न पूछे थे। आठवीं के लिए 60 प्रश्न थे। एक ही पेपर हुआ था, जिसमें हिंदी, अंग्रेजी, गणित व विज्ञान विषयों के प्रश्न पूछे गए थे। टेस्ट की रिपोर्ट में सामने वाली कमियों को दूर करने की बात कही थी। तीनों कक्षाओं का अलग-अलग प्रतिशत के हिसाब से रिजल्ट घोषित किया।

X
बस ने बाइक को मारी टक्कर, 20 मिनट तड़पते रहे, 1 की मौत, 1 घायल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..