• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bistan
  • एकादशी पर रखी जाएगी माता की मूठ, टोकनियां खरीद रहे श्रद्धालु
--Advertisement--

एकादशी पर रखी जाएगी माता की मूठ, टोकनियां खरीद रहे श्रद्धालु

निमाड़ के सबसे बड़े लोकपर्व गणगौर की तैयारियां शुरू हो गई है। एकादशी मंगलवार से गांव सहित बन्हेर, पेनपुर व बाड़ी...

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2018, 02:15 AM IST
एकादशी पर रखी जाएगी माता की मूठ, टोकनियां खरीद रहे श्रद्धालु
निमाड़ के सबसे बड़े लोकपर्व गणगौर की तैयारियां शुरू हो गई है। एकादशी मंगलवार से गांव सहित बन्हेर, पेनपुर व बाड़ी खुर्द में इसकी शुरुआत होगी। इस दिन श्रद्धालु माता की बाड़ियों में बांस से बनी टोकनियां लेकर पहुंचेंगे। पुजारी द्वारा माता की मूठ रखी जाएगी। माता के जवारे बोने के लिए श्रद्धालु माता की टोपली लेने बसोड़ के घर पहुंच रहे है।

बसोड़ दिनेश व मुकेश वसारे ने बताया बिस्टान, बन्हेर, भग्यापुर, पेनपुर आदि गांवों के लिए करीब 3000 टोपलियां बनाई गई है। माता की मूठ रखने के साथ 8 दिनों तक महिलाएं माता की बाड़ियों में जाकर माता की आराधना करेगी। उल्लास, पवित्रता व श्रद्धा के पर्व पर गांवों में गणगौर माई व ईशर राजा की भक्ति की बयार बहेगी। पर्व की शुरुआत से पहले गलियों में “रंगो-रंगो रणुबाई का हाथ..., तोड़ो-तोड़ो रे डेडम डेड लिंबुआ तोड़ी लाऊजो..., घाटी चढ़ी न हऊं हारी वो चंदा..., म्हारा पीहर म बोई गणगौर सखी रे..., अना-बना म चंपो मवरियो...’ जैसे झालरिया गीत गूंजने लगे हैं।

श्रद्धालु टोकनी लेने बसोड़ परिवार के घर पहुंच रहे है।

गणगौर तीज पर खुलेंगे बाड़ियांे के पट

पं. बसंत दुबे ने बताया चैत्र नवरात्र के शुक्ल पक्ष की तीज को माता बाड़ी खुलेगी। श्रद्धालु दर्शन-पूजन करने पहुंचेंगे। इसी दिन श्रृंगारित रथों में माता के जवारों की टोकनियों को विराजित कर श्रद्धालु अपने घर ले जाएंगे। बन्हेर में 21 मार्च को माता की बाड़ी के पट खुलेंगे।

X
एकादशी पर रखी जाएगी माता की मूठ, टोकनियां खरीद रहे श्रद्धालु
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..