बिस्टान

--Advertisement--

450 करोड़ खर्च, फिर भी फूट रही पाइपलाइन

एनवीडीए ईई से मांगा जवाब, सीईओ बाेले-पीएस को लिखेंगे भास्कर संवाददाता | खरगोन जिला पंचायत के सभागार में बुधवार...

Danik Bhaskar

Apr 06, 2018, 03:40 AM IST
एनवीडीए ईई से मांगा जवाब, सीईओ बाेले-पीएस को लिखेंगे

भास्कर संवाददाता | खरगोन

जिला पंचायत के सभागार में बुधवार दोपहर तीन बजे साधारण सभा की बैठक हुई। इसमें जिपं अध्यक्ष कमला केदार डाबर ने अफसरों की खबर ले डाली। उन्होंने एनवीडीए के अफसरों से कहा 530 करोड़ की नर्मदा उद्वहन योजना में 450 करोड़ खर्च कर डाले हैं। लेकिन अब भी केवल पानी की टेस्टिंग ही चल रही है। इसमें भी पाइप लाइन जगह-जगह फूट रहीं है।

अब 80 करोड़ रुपए योजना में बचा है। मामले में जिपं अध्यक्ष डाबर ने एक सप्ताह के भीतर जवाब प्रस्तुत करने का कहा है। महिला बाल विकास विभाग, पीडब्ल्यूडी व पीएचई ईई की अनुपस्थिति व पिछली बैठकों के जवाब न देने पर सीईओ सतीश कुमार ने पीएस को लिखने की चेतावनी दी।

पहला-दूसरा तैयार नहीं, तीसरे बैराज की तैयारी- नर्मदा उद्वहन योजना में 2013 से काम चालू है। इसमें ग्राम बांगरदा और पिपलाई में बैराज बनाया जाना है। लेकिन ये तैयार नहीं हुआ और ग्राम पीपरी में तीसरी लाइन की तैयार अफसर कर रहे हैं। जिपं अध्यक्ष और सदस्यों ने इस पर सवाल उठाए। बैठक में उपाध्यक्ष हरे सिंह गुर्जर, सदस्य रामलाल चौधरी, अहिल्या भालेराव, कमल वास्कले, अभिषेक वैष्णव, दिनेश यादव के साथ ही जिला पंचायत सीईओ सतीश कुमार उपस्थित थे।

मुद्दाें पर गर्माई बैठक






Click to listen..