• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bistan
  • सफेद कपड़ों में आने की गुजारिश की थी 80 फीसदी से ज्यादा अनुयायी पहुंचे ईदगाह
--Advertisement--

सफेद कपड़ों में आने की गुजारिश की थी 80 फीसदी से ज्यादा अनुयायी पहुंचे ईदगाह

ईद : कारी लुकमान साहब ने विशेष नमाज अदा कराई, जिले में ज्यादातर जगह आज मनाएंगे भास्कर संवाददाता | खरगोन खरगोन...

Dainik Bhaskar

Jun 16, 2018, 02:10 AM IST
सफेद कपड़ों में आने की गुजारिश की थी 80 फीसदी से ज्यादा अनुयायी पहुंचे ईदगाह
ईद : कारी लुकमान साहब ने विशेष नमाज अदा कराई, जिले में ज्यादातर जगह आज मनाएंगे

भास्कर संवाददाता | खरगोन

खरगोन शहर के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब शुक्रवार को सबसे पहले ईद मनाई गई। जमात ने अनुयायियों से सफेद कपड़ों में ईदगाह में नमाज अदा करने की गुजारिश की थी। 80 फीसदी से ज्यादा अनुयायी उसमें ही पहुंचे।

सुबह 9 बजे बड़ी ईदगाह में मौलाना कारी लुकमान साहब की अगुवाई में ईद की विशेष नमाज हुई। मुस्लिम अनुयायियों ने एक-दूसरे को मुबारकबाद दी। 10 बजे औरंगपुरा स्थित दारुल उलूम में नमाज हुई। जामा मस्जिद तालाब चौक, हीरा मस्जिद अमननगर, मरकज मस्जिद मियामान मोहल्ला में भी विशेष नमाज हुई। जिले के ज्यादातर स्थानों पर शनिवार को ईद मनाई जाएगी।

ईद की नमाज अदा करते मुस्लिम समाजजन।

हिलाल कमेटी ने मशविरा कर घोषणा की - समाज प्रतिनिधियों ने बताया गुरुवार रात को ईशा की नमाज के बाद तक चांद न दिखने से ईद मनाना तय नहीं हो पाया था। खरगोन की हिलाल कमेटी ने देशभर के शहरों से मशविरा किया। बिस्टान रोड क्षेत्र में चांद दिखने की सूचना मिली। जिलानी नगर में हाफीज साहब सहित पांच धार्मिक विद्वानों ने चांद देखने की तस्दीक की। रात 10.30 बजे बाद उनकी शहादत (गवाही) पर निर्णय लिया शुक्रवार ईद मनाई जाएगी। सभी ने दस्तावेज पर गवाही दी। ऐसा खरगोन शहर के इतिहास में पहली बार होना बताया जा रहा है। अन्य शहरों से हिलाल कमेटी के लोगों को फोन आए। समाज के अल्ताफ आजाद व अनवर जिंद्रान ने बताया पहले भी देरी से चांद देरी से दिखने पर ईद मनाने की घोषणाएं होती रही हैं।

X
सफेद कपड़ों में आने की गुजारिश की थी 80 फीसदी से ज्यादा अनुयायी पहुंचे ईदगाह
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..