Hindi News »Madhya Pradesh »Bistan» तीन संगठनों की हड़ताल से व्यवस्था गड़बड़ाई

तीन संगठनों की हड़ताल से व्यवस्था गड़बड़ाई

खरगोन |जिले में तीन विभागों के कर्मचारियों की हड़ताल से आमजन परेशान होने लगे हैं। लोगांे को सरकारी सुविधाएं नहीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 06, 2018, 02:15 AM IST

तीन संगठनों की हड़ताल से व्यवस्था गड़बड़ाई
खरगोन |जिले में तीन विभागों के कर्मचारियों की हड़ताल से आमजन परेशान होने लगे हैं। लोगांे को सरकारी सुविधाएं नहीं मिल पा रही है। वनकर्मियों की हड़ताल से जंगलों से सागौन के पेड़ों को काटा जा रहा है। जिले में रोजगार सहायक 22 दिन तो वनकर्मी 13 दिनों से हड़ताल पर है। जबकि ग्रामीण विस्तार अधिकारियों की हड़ताल से किसानों को न तो बीज मिल पा रहा है, न ही बोवनी को लेकर उचित सलाह। अपनी मांगों को लेकर तीनों संगठन अड़े हैं।

9 दिनों से हड़ताल- बीज मिला न सलाह

जिले में 28 मई से ग्रामसेवक हड़ताल पर चले गए हैं। 135 अधिकारियों की हड़ताल से ग्रामीण की कृषि व्यवस्था ठप हो गई है। सर्वेयर के समान वेतन और पदोन्नति की मांग को लेकर चल रही हड़ताल से ग्रामीणों को बीज और खेती की सलाह नहीं मिल पा रही है। जिलाध्यक्ष संतोष पाटीदार ने बताया हमने नारेबाजी कर सरकार का विरोध किया।

सोमवार को सागौन के 200 पेड़ कटे

19 सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल शुरू हुई। जंगल की सुरक्षा व्यवस्था चौपट हो गई है। काबरी, तितरानिया, सिरवले और बिस्टान में एक सप्ताह पूर्व सागौन के पेड़ काट थे। सोमवार फिर से अंधड़ के पास लंगड़ी बैड़ी के जंगल में 200 सागौन के पेड़ काट डाले। खंडवा के तस्कर यहां आ रहे हैं। जिलाध्यक्ष ओंकारसिंह डावर ने बताया विरोध में काली पट्‌टी बांधी।

22 दिनों से हड़ताल

रोजगार सहायक नियमितिकरण की मांग कर रहे हैं। इससे मनरेगा के जल संरक्षण, तालाब गहरी करण, खेत तालाब के काम बंद हैं। ग्रामीणों के पीएम आवास योजना की किस्त नहीं निकल रही है। विभिन्न पेंशन योजनाएं ठप है। संघ के जिला अध्यक्ष विजय सिंह चौहान ने बताया मंगलवार से क्रमिक भूख हड़ताल शुरू कर दी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bistan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×