Hindi News »Madhya Pradesh »Bistan» सर्चिंग में जुटे वनकर्मियों को नहीं मिले तेंदुए के पगमार्क

सर्चिंग में जुटे वनकर्मियों को नहीं मिले तेंदुए के पगमार्क

साेमवार सुबह उमरखली क्षेत्र में दिखे तेंदुए की सर्चिंग जारी है। हालांकि मंगलवार को तेंदुआ दिखा ना उसके पगमार्क...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 23, 2018, 03:45 AM IST

सर्चिंग में जुटे वनकर्मियों को नहीं मिले तेंदुए के पगमार्क
साेमवार सुबह उमरखली क्षेत्र में दिखे तेंदुए की सर्चिंग जारी है। हालांकि मंगलवार को तेंदुआ दिखा ना उसके पगमार्क मिले, लेकिन ग्रामीणों व किसानों में इसको लेकर दहशत बरकरार है। साेमवार को कुंदा नदी क्षेत्र में तेंदुए ने बकरी का शिकार किया था। इसके पहले भी बकरियों के शिकार की बातें ग्रामीणों ने कही है।

मंगलवार को वनकर्मियों ने कुंदा नदी में स्थित खोह के पास रखे पिंजरे से मृत बकरी को निकालकर पीएम करवाया। डिप्टी रेंजर रमेश चौहान ने बताया नदी की खोह व मिट्‌टी खदान होने से पगमार्क नहीं मिले है। लेकिन इसके पूर्व दिशा में पेनपुर या अन्य स्थान पर जाने की आशंका है। वनकर्मियों ने बताया शिकार की गंध में तेंदुए के आने का अनुमान था। इसलिए मृत बकरी को पिंजरे में रखा था। मंगलवार शाम तक वनकर्मी कुत्ते को पिंजरे में रखने की बात कह रहे थे।

लोगों को सतर्क किया है

तेंदुए को लेकर सर्चिंग जारी है। मंगलवार को पगमार्क नहीं मिले। इसके एक स्थान पर नहीं होने से रेस्क्यू टीम नहीं बुलवाई है। लोगों को रात के समय समूह में खेतों में जाने व शोरशराबा करने के लिए कहा है। - शंकरलाल मंडलोई, रेंजर, बिस्टान

उमरखली में वन विभाग ने पिंजरा लगाया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bistan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×