• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Biyawara
  • खराब और सिकुड़ा बता कर लौटा रहे चना, केंद्र पर ही उपज छान रहे किसान
--Advertisement--

खराब और सिकुड़ा बता कर लौटा रहे चना, केंद्र पर ही उपज छान रहे किसान

कृषि उपज मंडी में बनाए समर्थन मूल्य पर चना, मसूर व सरसों की खरीदी में किसानों को दिक्कत आ रही है। किसानों का कहना है...

Danik Bhaskar | Apr 27, 2018, 02:00 AM IST
कृषि उपज मंडी में बनाए समर्थन मूल्य पर चना, मसूर व सरसों की खरीदी में किसानों को दिक्कत आ रही है। किसानों का कहना है कि उनकी उपज को घटिया बताकर मनमर्जी से खारिज किया जा रहा है। इसके अलावा किसान उनके द्वारा लाई फसलों को छलना लगाकर छानने पर भी आपत्ति जता रहे हैं। गुरुवार को भी मंडी में आए दर्जनों किसानों ने इस बात पर आक्रोश जताया। बरखेड़ी से आए किसान जगदीश कारपेंटर और भगोरा के राकेश सौंधिया ने बताया कि वह किराए के ट्रैक्टर-ट्राॅली से चना के बोरे लेकर केंद्र पर बेचने आए हैं। केंद्र के कर्मचारी इसे घटिया कह कर बारीक छलने से छानने के लिए कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि छलना इतना बारीक है कि प्रति क्विंटल 5 से 10 फीसदी छोटा चना अलग होने से उन्हें नुकसान हो रहा है। निपानिया के जगदीश और बरखेड़ा के मांगीलाल ने भी छलना से 10 फीसदी चना बाहर कर देने पर आपत्ति जताई।

हम्मालों के कारण भी हो रही दिक्कत : ग्रामीण घीसालाल और जगन्नाथ सिंह ने कहा कि समर्थन मूल्य केंद्र पर छलना लगाकर की जा रही खरीदी से उनके समय और राशि का नुकसान तो हो ही रहा है। वहीं केंद्र पर हम्मालों की संख्या कम होने से एक किसान की उपज तौलने में ही काफी समय लग रहा है।

एफएक्यू मापदंड से करा रहे खरीदी