--Advertisement--

बिजली जाने पर बंद हो जाते हैं मरीजों के पंखे और कूलर

Biyawara News - सिविल अस्पताल में बड़ रही गर्मी से लगातार मरीजों की संख्या। -भास्कर भास्कर संवाददाता| ब्यावरा भीषण गर्मी के...

Dainik Bhaskar

May 10, 2018, 02:05 AM IST
बिजली जाने पर बंद हो जाते हैं मरीजों के पंखे और कूलर
सिविल अस्पताल में बड़ रही गर्मी से लगातार मरीजों की संख्या। -भास्कर

भास्कर संवाददाता| ब्यावरा

भीषण गर्मी के कारण लोगों की सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है। ब्यावरा सिविल अस्पताल में 15 दिन में करीब पांच हजार मरीज जांच व इलाज के लिए पहुंचे। वहीं सर्दी जुकाम, पेटदर्द उल्टी-दस्त से पीड़ित सैकड़ाें मरीज यहां भर्ती हुए। मगर तेज गर्मी में बार-बार बिजली गुल होने पर वैकल्पिक इंतजाम न होने से इन मरीजों को घंटों का समय बिना पंखे, कूलर व बिजली के गुजारा करना पड़ रहा है।

सिविल अस्पताल में इन दिनों 350 से 400 मरीज रोज आ रहे हैं। आम दिनों में इनकी संख्या 200 से 300 रहती है। अस्पताल में पर्याप्त स्टाफ न होने और 30 बेड की जगह 60 बेड लगाए जाने से व्यवस्थाएं गड़बड़ाई हुई हैं। उल्टी दस्त की मरीज ज्योति बाई ने बताया कि बिजली न रहने से गर्मी में तबीयत और बिगड़ जाती है। नलखेडा निवासी सुशीला बार्इ और ब्यावरा की तबस्सुम वी ने बताया कि अस्पताल में पेयजल का इंतजाम नहीं है। नापानेरा के जितेंद्र वर्मा ने स्टाफ कम होने से मरीजों की देखरेख में दिक्कत होने व बिजली जाने पर जनरेटर नहीं चलाए जाने की बात कही।


15 दिन में ओपीडी में पहुंचे 4851 मरीज

तारीख मरीज संख्या

25 अप्रैल 399

26 अप्रैल 402

27 अप्रैल 403

28 अप्रैल 344

29 अप्रैल 96

30 अप्रैल 165

01 मई 568

02 मई 352

03 मई 350

04 मई 360

05 मई 317

06 मई 84

07 मई 354

08 मई 322

09 मई 335

X
बिजली जाने पर बंद हो जाते हैं मरीजों के पंखे और कूलर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..