ब्यावरा

--Advertisement--

गलियों में नल-जल योजना के पाइप रख ठेकेदार भूला

अतिक्रमण के कारण शहर की संकरी सड़कों और गली मोहल्लों के पतले रास्तों में शहरी पेयजल योजना के लिए मंगाए सैकड़ों पाइप...

Danik Bhaskar

May 13, 2018, 02:10 AM IST
अतिक्रमण के कारण शहर की संकरी सड़कों और गली मोहल्लों के पतले रास्तों में शहरी पेयजल योजना के लिए मंगाए सैकड़ों पाइप ठेकेदार ने ऐसे ही छोड़ रखे हैं। इससे रास्ता जहां और ज्यादा संकरा हो रहा है। वहीं दुर्घटनाओं की आशंका भी बढ़ रही है। नपा की पेयजल योजना पर काम कर रही एजेंसी को लाइन बिछने के बाद बाकी बचे पाइप तुरंत हटाना थे। इनकी वजह से कई वाहन चालक स्लिप हो चुके हैं।

यहां परेशानी: इंदौर नाका के पास रास्ते में पाइप डाले गए हैं। वहीं मंदिर रोड के पास भी यही स्थिति है। वाहन चालकों और लोगों के निकलने में परेशानियां हो रही है। हरिनारायण, देव चन्द्र, रवि वर्मा आदि ने कहा की नपा की एजेंसी द्वारा बीच रास्तों में छोड़े पाइप इन पाइप की वजह से आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं।


लाइन टेस्टिंग के बाद ही सुधर पाएगी टेस्ट

साढ़े 9 करोड़ की शहरी पेयजल योजना का अब तक शहरी क्षेत्र में 8 महीने में 80 फीसदी तक काम हो चुका है। जबकि अभी बाकी लाइन बिछाने के साथ ही पूरे शहर में नए सिरे से बिछाई गई नई लाइन से नल कनेक्शन, लाइन टेस्टिंग काम बाकी है। जानकारी के अनुसार नई लाइन से नल कनेक्शन व लाइन टेस्टिंग में जितनी देर होगी, उतना ही गली मोहल्लों की सड़कों की रिपेयरिंग का कार्य पिछड़ेगा। बारिश में हजारों लोग परेशान रहेंगे।

Click to listen..