• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Biyawara
  • पड़ताल: लापरवाही छुपाने योजना की विलोपित, अब ग्रामीण होंगे परेशान
--Advertisement--

पड़ताल: लापरवाही छुपाने योजना की विलोपित, अब ग्रामीण होंगे परेशान

पड़ताल: लापरवाही छुपाने योजना की विलोपित, अब ग्रामीण होंगे परेशान पीएचई ने बंद योजना के आंकड़े कम करने कई...

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 02:15 AM IST
पड़ताल: लापरवाही छुपाने योजना की विलोपित, अब ग्रामीण होंगे परेशान

पीएचई ने बंद योजना के आंकड़े कम करने कई योजनाओं को विलोपित कर दिया है। अब ग्रामीण पेयजल के लिए परेशान हो रहे हैं। ग्राम दुंदाहेड़ी में 20 साल पहले नलजल योजना बनी थी, 7 साल पहले हालाहेड़ी डेम में कुआं डूब गया, नया कुआं खोदने की बजाय इस योजना को रिकार्ड में नष्ट कर दिया। यहीं हालात गुमानी पुरा, ब्यावराकलां व अन्य गांव की योजना के हैं। चौसला गांव में एक मात्र जल स्त्रोत है, जिस पर दबंगो ने कब्जा जमा लिया, अब इन गांव के लोग 2 से 5 किमी दूर से पानी का परिवहन कर रहे हैं।

एक हजार से अधिक गांव के लोग कर रहे पेयजल का परिवहन

जिले की 622 पंचायतों में 18 सौ से अधिक गांव हैं। इनमें से एक हजार से अधिक गांवों में ग्रामीण 3 से 5 किमी दूर से पेयजल परिवहन कर रहे हैं। लोग बैलगाड़ी, साइकिल के साथ ही टैंकर का सहारा लेकर पानी स्वयं के खर्च से ला रहे, लेकिन जिला प्रशासन इसके लिए कोई योजना नहीं बना सका। यही हालात जिले के 10 शहरों के हैं, जहां दो से 5 दिन में पीने का पानी मिल रहा है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..