• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Biyawara
  • ब्यावरा-सिरोंज हाईवे चौड़ीकरण की प्रक्रिया शुरू, अप्रैल 2020 में बनेगा
--Advertisement--

ब्यावरा-सिरोंज हाईवे चौड़ीकरण की प्रक्रिया शुरू, अप्रैल 2020 में बनेगा

पिछले साल नेशनल हाईवे 752 बी में मर्ज किए गए ब्यावरा-सिरोंज स्टेट हाईवे को दस मीटर चौड़ा करने की कवायद शुरू कर दी गई...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 02:30 AM IST
ब्यावरा-सिरोंज हाईवे चौड़ीकरण की प्रक्रिया शुरू, अप्रैल 2020 में बनेगा
पिछले साल नेशनल हाईवे 752 बी में मर्ज किए गए ब्यावरा-सिरोंज स्टेट हाईवे को दस मीटर चौड़ा करने की कवायद शुरू कर दी गई है। मप्र रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने इस 92 किमी लंबे हाईवे के चौड़ीकरण के लिए काटे जाने वाले वृक्षों का सर्वे शुरू करा दिया है। चौड़ीकरण के लिए जरूरी जमीन के अधिग्रहण की प्रोसेस भी शुरू की जा रही है। यह काम दो चरणों में वर्ष 2020 तक पूरा किया जाएगा। पहले हिस्से में ब्यावरा से मधुसूदनगढ़ तक 42 किमी मार्ग व दूसरे हिस्से में मधुसूदनगढ़ से सिरोंज तक 50 किमी सड़क को चौड़ा किया जाएगा।

4 महीने में शुरू होगा काम: पेड़ों के सर्वे व भू अधिग्रहण की प्रोसेस अगस्त तक निर्माण एजेंसियां सड़क निर्माण का काम शुरू कर देंगी। इस हाईवे के लिए तय की गईं दो निर्माण एजेंसियों को हाईवे का निर्माण 2020 तक पूरा करना है।

ब्यावरा से मधुसूदनगढ़ रोड पर 165 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे

मधुसूदनगढ़ से सिरोंज तक चौड़ीकरण पर 204 करोड़ रुपए होंगे खर्च होंगे

ब्यावरा -सिरोंज मार्ग को 10 मीटर चौड़ा किया जाएगा।भास्कर

पेड़ों का सर्वे शुरू

विभाग को सड़क निर्माण के पहले इस हाईवे के आसपास आ रहे पेड़ों को काटने की परमिशन लेना होगी। इसके लिए एजेंसी ने इनकी गणना शुरू कर दी है। पेड़ों के सर्वे के साथ ही रास्ते को चौड़ा करने के लिए बीच में आ रहीं निजी जमीनों के अधिग्रहण की विज्ञप्तियां भी जारी की जा रही हैं। ताकि यह प्रोसेस 3-4 महीनों में पूरी की जा सके।

कुल 369 करोड़ आएगा हाईवे पर खर्च

ब्यावरा-सिरोंज के बीच 92 किमी लंबे हाईवे को 10 मीटर चौड़ा किया जाना है। इस पर 369 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। दो हिस्सों में होने वाले इस काम के पहले चरण में ब्यावरा से मधुसूदनगढ़ तक 42 किमी हिस्से को चौड़ा करने के लिए 165 करोड़ और दूसरे चरण में मधुसूदनगढ़ से सिरोंज तक 50 किमी लंबे हिस्से के चौड़ीकरण पर 204 करोड़ खर्च होंगे।

4 हजार से ज्यादा वाहनों की है आवाजाही

इस सड़क की फिलहाल चौड़ाई 6 मीटर है। इस पर से 24 घंटों में 4 हजार वाहन गुजरते हैं। एमपीआरडीसी के अनुसार ट्रैफिक का दबाव लगातार बढ़ने से इसे नेशनल हाईवे 752 बी का हिस्सा बनाया गया है।

इन रपटों से मिलेगी मुक्ति

हाईवे पर बीच घुरैल जोड़, सुठालिया से मधुसूदनगढ़ के बीच एक बड़ा पुल, गिंदौर हाट गांव जोड़ के पास रपटे की जगह हाई लेबल पुलिया बनेगी। जबकि घुरैल से ब्यावरा के बीच एक खतरनाक मोड़ को भी सीधा किया जाएगा। इससे हजारों वाहन चालकों को सुविधा होगी।


X
ब्यावरा-सिरोंज हाईवे चौड़ीकरण की प्रक्रिया शुरू, अप्रैल 2020 में बनेगा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..