--Advertisement--

पीड़ित बोले- फायर फाइटर होता तो इतने मकान व मवेशी नहीं जलते

जिला मुख्यालय से 60 किमी दूर तुकईथड़ क्षेत्र के ग्राम रायतलाई के फोकटपुरा में शुक्रवार रात भूसे में लगी आग के बाद आठ...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:10 AM IST
पीड़ित बोले- फायर फाइटर होता तो इतने मकान व मवेशी नहीं जलते
जिला मुख्यालय से 60 किमी दूर तुकईथड़ क्षेत्र के ग्राम रायतलाई के फोकटपुरा में शुक्रवार रात भूसे में लगी आग के बाद आठ मकान पूरी तरह जलकर खाक हो गए। जबकि 34 से ज्यादा मवेशी जले। सब कुछ राख होने के 2 घंटे बाद बुरहानपुर और नेपानगर से फायर फाइटर पहुंचे।

शनिवार सुबह कलेक्टर दीपकसिंह पीडितों के हाल जानने रायतलाई पहुंचे। पीडितों ने रोते हुए कहा साहब अगर समय पर आग बुझाने फायर आ जाता तो इतने मकान और मवेशी नहीं जलते।कलेक्टर ने कहा सूचना मिलते ही हमने तुरंत फायर फाइटर घटना स्थल पर भेजे थे। इसके बावजूद 8 घर पूरी तरह जलकर खाक हो गए। इन सभी प्रभावित लोगों को आरबीसी 6/8 के तहत सहायता राशि दी जाएगी। इसके साथ ही सभी परिवारों को 50 किलो गेहूं तुरंत दिया गया है। उनके रुकने की व्यवस्था भी पंचायत भवन और स्कूलों में कराई गई है। आनंदम की तरफ से पीड़ित परिवारों को कपड़े भी दिए गए हैं। इससे फिलहाल उन्हें कोई परेशानी न हो। 34 मवेशी जो जले है उनके मालिकों को मुआवजा देंगे जिसके लिए राजस्व विभाग के अधिकारियों ने पंचनामा बनाया है।

कलेक्टर ने रायतलाई पहुंचकर घटनास्थल का किया निरीक्षण।

हमारे तो राशन कार्ड, ऋण पुस्तिका भी जल गए

तहसील में नहीं है फायर फाइटर

ग्रामीणों ने कहा करीब 15 साल पहले जब तुकईथड़ में कृषि उपज मंडी चालू थी। तब यहां एक फायर फाइटर हुआ करता था। मंडी बंद होने के बाद यहां के फायर फाइटर को भी बुरहानपुर ले गए। यहां तक की खकनार तहसील में आग पर काबू करने के लिए कोई साधन नहीं है।

कलेक्टर सिंह ने लोगों से बात करते समय मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया तो लोगों ने कहा हमारा तो सभी सामान जल गया है। राशन कार्ड, ऋण पुस्तिका, बैंक पास बुक सभी जरुरी दस्तावेज जल गए है। अब हम कहा चक्कर लगाएंगे। इस पर कलेक्टर ने कहा इन सभी जरुरी दस्तावेजों के कॉपी संबंधित कार्यालयों से निकलवाकर अगले दो दिन के अंदर सभी को मुआवजे की राशि उपलब्ध करवाई जाएगी।

बुरहानपुर से फायर फाइटर आने में लगते हैं दो घंटे

ग्रामीणों ने कहा पहले भी तहसील के कई गांवों में आग लगी है। फायर फाइटर बुरहानपुर में है इसे आने में दो घंटे का समय लगता है। तब तक सब कुछ जलकर खाक हो जाता है। 5 साल पहले ग्राम चोखंडिया में आग लगी थी। फायर फाइटर आया तब तक पूरा गांव जल चुका था।

सांसद चौहान की तरह अब मंजू दादू ने दिया आश्वासन

शुक्रवार रात हुई घटना की सूचना मिलते ही विधायक मंजू दादू मौके पर पंहुची। उन्होंने लोगों के लिए खाने की व्यवस्था की और आश्वासन दिया कि हर थाना क्षेत्र में फायर फाइटर की व्यवस्था करवाई जाएगी। लोगों ने कहा दादू की ही तरह सांसद नंदकुमार सिंह चौहान तीन साल पहले जब यहां आए थे। तो हमने उनसे फायर फाइटर की व्यवस्था करने की मांंग की थी। आश्वासन देकर गए तब से गांव में न फायर फाइटर आया न सांसद पलटकर वापस आए।

X
पीड़ित बोले- फायर फाइटर होता तो इतने मकान व मवेशी नहीं जलते
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..