• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Burhanpur News
  • पुणे-लखनऊ सुपर फास्ट ट्रेन में किन्नरों ने पांच यात्रियों के साथ लूट व मारपीट कर 9550 रुपए छीने
--Advertisement--

पुणे-लखनऊ सुपर फास्ट ट्रेन में किन्नरों ने पांच यात्रियों के साथ लूट व मारपीट कर 9550 रुपए छीने

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर भुसावल-खंडवा रेलवे स्टेशन के बीच बुरहानपुर के पास शुक्रवार रात करीब 1.30 बजे 12103...

Danik Bhaskar | Jun 03, 2018, 02:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

भुसावल-खंडवा रेलवे स्टेशन के बीच बुरहानपुर के पास शुक्रवार रात करीब 1.30 बजे 12103 पुणे-लखनऊ सुपर फास्ट एक्सप्रेस के जनरल कोच में ट्यूब लाइट की रॉड फोड़कर अंधेरा किया। इसके बाद यात्रियों के साथ मारपीट कर जेब में रखे पर्स व रुपए लूट लिए। रॉड फूटने से कई यात्रियों के शरीर में कांच के टुकड़े घुस गए जिससे वे घायल हो गए।

वारदात के बाद खंडवा स्टेशन पहुंचने से पहले आउटर पर ट्रेन से कूदकर भाग गए। पीड़ित यात्रियों ने जीआरपी कंट्रोल रूम में मोबाइल पर शिकायत की। इसके बाद इटारसी रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की शिकायत पर जोया, जेबा व दो किन्नरों पर लूट, मारपीट व अन्य धाराअों में केस दर्ज किया। ट्रेनों में यात्रियों के साथ लूट मारपीट की शिकायत पर नवागत रेल एसपी मनोज राय ने शुक्रवार को खंडवा-बुरहानपुर में जीआरपी थाना प्रभारियों को सख्त हिदायत दी थी कि ट्रेनों में किन्नर दिखाई नहीं देना चाहिए। इसके बाद भी अफसरों से चूक हुई।

एफआईआर से मिली जानकारी अनुसार लखनऊ एक्सप्रेस में पीछे की ओर वाले जनरल कोच में शुक्रवार रात 12.30 बजे ट्रेन लखनऊ के लिए रवाना हुई। ट्रेन की रफ्तार पकड़ते ही किन्नरों ने वसूली शुरू कर दी कई यात्रियों ने डर की वजह से उन्हें रुपए दिए। फरियादी मनीष विश्वकर्मा ने बताया मेरे पास दो किन्नर आए रुपए मांगने लगे। मैंने मना कर दिया। तभी एक किन्नर ने अपने साथी जेबा व जोया किन्नर का नाम लेकर बुलाया तो वह भी आ गए। चारों ने मिलकर मेरे साथ मारपीट की। मेरी जेब में रखे हुए 4 हजार रुपए छीन लिए। मेरे अलावा यात्री रवींद्र कुमार निशाद की जेब से 2500 रुपए, राकेश सिंह की जेब से 550 रुपए, रिंकू सिंह की जेब से 1000 रुपए, संत कुमार की जेब से 1000 रुपए हाथापाई कर जबरदस्ती निकाल लिए। कुल 9550 रुपए पांच यात्रियों से लूटकर खंडवा जंक्शन आने से पहले आउटर से भाग गए। यात्रियों ने बताया पांच किन्नर थे जिनके पास चाकू व धारदार हथियारभी थे।

किन्नरों ने ट्यूबलाइट फोड़कर बोगी में किया अंधेरा, यात्रियों को पीटा-लूटा व चलती ट्रेन से कूदकर भागे

20 की जगह 100 रुपए दे रहा था फिर भी मारा

फरियादी मनीष विश्वकर्मा ने फोन पर बताया किन्नरों के साथ एक युवक भी था। उसी के इशारे पर किन्नरों ने पहले ट्यूब लाइन की रॉड फोड़ी जिससे पूरी बोगी में अंधेरा हो गया। इसके बाद मारपीट शुरू कर दी। मैंने किन्नरों को देखते ही 20 रुपए निकाल लिए थे लेकिन चार किन्नर दिखते ही मैंने 100 रुपए देने के लिए हाथ आगे बढ़ाया तो किन्नर ने मुझे चांटा मारा। फिर एक ने पीछे से मारा। चारों तरफ से मुझे लात-घूसे मारने लगे। मेरा पर्स छीन लिया। पूरे 4000 रुपए छीन लिए।

चार किन्नर हिरासत में, एक की तलाश


करिश्मा गुरु के चेलों ने की लूट

लूट करने वाले संदिग्ध किन्नर जिनके नाम यात्रियों ने बताए वह खंडवा की करिश्मा गुरु के चेले हैं। जेबा, जोया के नाम यात्रियों ने बताए। 2 दिसंबर 17 को करिश्मा, निम्मो, सोफिया व गुड़िया ने ताप्ती गंगा में हरदा के पास त्रिकोलनाथ विश्वकर्मा (38) निवासी प्रतापगढ़ यूपी को चाकू मारकर 20 हजार रुपए की लूट की थी। करिश्मा, सोफिया, निम्मो एक महीने पहले ही जेल से छूटकर आए हैं।

आखिर कौन चला रहा है किन्नर

खंडवा से बुरहानपुर तक आरपीएफ व जीआरपी के थाना प्रभारियों ने अपने सिपाहियों को सख्त निर्देश दी है कि वे किन्नरों को ट्रेन में चलने न दें, इसके बावजूद रात होते ही ट्रेनों में किन्नर चलना शुरू हो जाते हैं। प्रतिबंध के पहले यह किन्नर रात को चलते थे। किन्नरों को चलवाने के पीछे कुछ जवानों का हाथ है जिन पर पूर्व में भी आरोप लगे और जांच के दौरान पकड़े भी गए थे।