Hindi News »Madhya Pradesh »Burhanpur» मुझे या पोती को देते अनुकंपा नियुक्ति, बहू अब ख्याल नहीं रखती मेरा

मुझे या पोती को देते अनुकंपा नियुक्ति, बहू अब ख्याल नहीं रखती मेरा

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर प्रधान आरक्षक सचिन करणकर की मां ने अपनी बहू पर अनुकंपा नियुक्ति के बाद से पालन-पोषण...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 03, 2018, 02:30 AM IST

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

प्रधान आरक्षक सचिन करणकर की मां ने अपनी बहू पर अनुकंपा नियुक्ति के बाद से पालन-पोषण नहीं करने का आरोप लगाया है। उन्होंने पुलिस अफसरों से गुहार लगाई कि मुझे या पोती को अनुकंपा नियुक्ति देते। क्योंकि अब उनकी बहू सास-ससुर का ख्याल नहीं रख रहीं। जिसको लेकर सास ने बहू के खिलाफ एसपी, एएसपी को शिकायत की है। जिसके बयान के लिए शनिवार को कार्यालय पहुंचे थे।

पुष्पाबाई करणकर ने कहा आठ माह पहले मेरे बेट प्रधान आरक्षक सचिन करणकर का देहांत हो गया। उससे पहले मेरे बेटे ने प|ी मीनाश्री करणकर का नाम नॉमिनी में अनुकंपा नियुक्ति के लिए आवेदन दिया था लेकिन उस बीच उन दोनों के बीच में अनबन हो गई और मेरे बेटे ने दोबारा आवेदन कर बेटी समीक्षा करणकर को नॉमिनी में दर्ज करने को कहा था लेकिन यहां के बाबू ने मिलकर मेरी बहू को नियुक्ति कर दिया। नियुक्ति में बहू ने पति पर आश्रित माता-पिता के पालन-पोषण करने को कहा था। जिसके बाद उसे मेरे बेटे के सारे लाभ मिल गए। उसके बाद मेरे घुटने में दर्द उठने लगा। इलाज के लिए मैंने साढ़े तीन लाख मांगे लेकिन उसने देने से इनकार कर दिया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुनील पाटीदार ने कहा सास-बहू का आपसी विवाद है। शिकायत मिल गई है। उसकी जांच शुरू कर दी है।

पेयजल के लिए 6 गांवों में नलकूप खनन, पंप को दी स्वीकृति

बुरहानपुर | ग्राम पंचायत भातखेड़ा के ग्राम मेर, भातखेड़ा में पेयजल व्यवस्था के लिए बंद नलजल योजना शुरू करने के लिए मोटर पंप स्थापना के लिए 1.49 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की गई है। कलेक्टर डॉ. सतेंद्रसिंह ने कहा इसके अलावा नलकूप खनन के लिए ग्राम सिरसोदा में 1.75 लाख रुपए, दरियापुर व सिरपुरमाल के लिए 1.70-1.70 लाख रुपए दाहिंदा के लिए 1.54 लाख रुपए स्वीकृत किए गए है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Burhanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×