बुरहानपुर

--Advertisement--

पहले से तय था संवाद, नहीं हो पाया छात्राओं का संपर्क

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर भोपाल में आयोजित कॅरियर काउंसलिंग कार्यक्रम के सीधे प्रसारण के दौरान जिले की...

Dainik Bhaskar

Jun 09, 2018, 02:30 AM IST
पहले से तय था संवाद, नहीं हो पाया छात्राओं का संपर्क
भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

भोपाल में आयोजित कॅरियर काउंसलिंग कार्यक्रम के सीधे प्रसारण के दौरान जिले की उत्कृष्ट स्कूलों से छात्राएं मुख्यमंत्री से सीधे संवाद नहीं कर पाई। क्योंकि पहले से उनका चुनिंदा विद्यार्थियों से संवाद तय था। जिस कारण छात्राओं की समस्या का समाधान नहीं हो पाया।

शुक्रवार सुबह 10 बजे भोपाल से प्रदेशभर में सीधा प्रसारण शुरू हुआ। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने विद्यार्थियों से सीधे संवाद किया। जिसके लिए लोक शिक्षण संचालनालय ने टेलीफोन नंबर 0755-2762590 जारी किया। जिस पर जिले के विद्यार्थियों ने भी सीधे संवाद के लिए मोबाइल से कॉल करना शुरू कर दिया। लाइन व्यस्त होने और सिग्नल नहीं मिलने पर छात्राएं भवन से बाहर निकली। करीब 11.40 बजे तक छात्राएं उस नंबर पर डायल करती रहीं लेकिन एक भी कॉल नहीं लग पाया। करीब 25 मिनट में उन्होंने 150 से ज्यादा कॉल किए। जिसके बाद संवाद कार्यक्रम खत्म हो चुका था। इस दौरान डीईओ आरएल उपाध्याय सहित सभी काउंसलर उपस्थित थे।

12वीं में 70 या उससे कम अंक पाने वाले की कॅरियर काउंसलिंग शनिवार से शुरू होगी। जिसमें बुरहानपुर ब्लाॅक के 1702 और खकनार ब्लॉक के 678 विद्यार्थियों की काउंसलिंग होगी। जिसके लिए उनके मोबाइल पर भोपाल से मैसेज किया गया है। इसमें छात्र-छात्राओं को काउंसलिंग की तिथि, समय और स्थान दिया है। काउंसलिंग बुरहानपुर और खकनार उत्कृष्ट स्कूल में हो रही है। यहां सुबह 11 से शाम 4 बजे तक काउंसलिंग होगी। काउंसलर नरेंद्र मोदी, सुचिता सक्सेना, सीमा तंवर, आशीष पटेल, प्रकाश चौधरी है।

कॅरियर काउंसलिंग कार्यक्रम में सीएम से सीधे संवाद के लिए नंबर ट्रायल करते रहे विद्यार्थी

छात्राओं ने पूरे समय संवाद के लिए बताए नंबर पर संपर्क करने का प्रयास किया।

ये प्रश्न लेकर आई थी छात्राएं

पुरुषार्थी स्कूल से गणित विषय की कक्षा 12वीं से 70 अंक पाने वाली छात्रा गीता सोड़ेजा का प्रश्न था कि उन्हें इंजीनियरिंग में प्रवेश लेना है लेकिन जेईई की परीक्षा नहीं दे पाई। तो क्या ऐसे में प्रवेश मिल सकता है। बायलॉजी विषय की छात्रा प्रियंका का प्रश्न था कि निट के माध्यम से यदि प्रवेश किसी अन्य राज्य में होता है तो क्या उस कॉलेज में भी फीस माफ हो सकती है।

यहां कर सकते हैं संपर्क

मुख्यमंत्री के पोर्टल www.cmdashboard.mp.gov.in पर विद्यार्थी सीएम को अपना संदेश भेज सकते हैं। जिसमें आपके दिए नंबर पर उसका समाधान मैसेज किया जाएगा।

X
पहले से तय था संवाद, नहीं हो पाया छात्राओं का संपर्क
Click to listen..