• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Burhanpur
  • किस्त पास कराने के पार्षद मांग रहे रुपए हितग्राही बोले- बारिश में कहां जाएंगे
--Advertisement--

किस्त पास कराने के पार्षद मांग रहे रुपए हितग्राही बोले- बारिश में कहां जाएंगे

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर प्रधानमंत्री आवास योजना में पार्षदों द्वारा रुपए लेकर किस्त पास कराने की...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 03:15 AM IST
किस्त पास कराने के पार्षद मांग रहे रुपए हितग्राही बोले- बारिश में कहां जाएंगे
भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

प्रधानमंत्री आवास योजना में पार्षदों द्वारा रुपए लेकर किस्त पास कराने की शिकायतें सामने आई है। शहर में 5464 आवासों का काम अधूरा पड़ा है। कुछ मकान 80 फीसदी बन गए है तो कुछ मकानों के पीलर ही खड़े हुए है। हितग्राहियों ने कहा वार्ड के पार्षद रुपए की मांग करते हैं। प्रत्येक किस्त पर पांच हजार रुपए मांग रहे हैं। ढाई लाख रुपए पास होने पर 15 हजार रुपए देना होगा। जिन लोगों ने रुपए दे दिए उनका मकान पूरा बन गया। और जिन्होंने बहस की उनका काम अधूरा पड़ा हुआ है। लोगों की किस्त पास नहीं हो रही।

पीएम आवास योजना में 5464 आवास निर्माण के लिए करीब 30 करोड़ रुपए स्वीकृत हुए है। आवासों का निर्माण शुरू होने आठ माह हो गए है। ज्यादातर लोग खुले आसमान में खानाबदोिशयों की तरह जिंदगी गुजार रहे हैं। किस्तें पास कराने के बदले रुपए मांगने की शिकायत पर भास्कर टीम ने वार्ड में जाकर रियलिटी चेक किया इस दौरान एक, दो नहीं बल्कि सभी लोगों की एक ही शिकायत थी। मकान अधूरा पड़ा है, बारिश में कहां जाएंगे। किस्त पास कराने के लिए निगम के अधिकारियों के नाम पर वार्ड के पार्षद रुपए मांग रहे हैं। जिन लोगों ने रुपए दे दिए उनकी किस्तें समय पर मिल गई। निर्माण कार्य भी समय पर हो गया। खैराती बाजार व चाचा फकीरचंद वार्ड में निर्माणाधीन पीएम आवास के हितग्राहियों ने कैमरे के सामने वार्ड पार्षद मीनाक्षी चौहान के पति मुकेश चौहान व पड़ोस के खैराती वार्ड के सलीम पार्षद पर रुपए मांगने का अारोप लगाया है। हितग्राहियों ने बाकायदा दाेनों की लिखित शिकायत की हैं। हितग्राहियों ने कहा अगर पहले पता होता तो कच्चा मकान तोड़ते ही नहीं पीएम आवास से अच्छा तो हमारा झोपड़ा था। कम से कम धूप, ठंड और बारिश में सिर तो ढंक जाता।

सीके ग्रेंड कॉलोनी अब पंजीयन विभाग की नई गाइडलाइन से जुड़ेगी।

लोकायुक्त, कलेक्टर, निगम आयुक्त से की शिकायत

खैराती वार्ड के मखतूम मियां ने बताया कि वार्ड पार्षद सलीम खान ने मुझसे 15 हजार रुपए मांगे थे। उन्हें रुपए नहीं देने पर उन्होंने मेरी किस्त नहीं निकलवाई। परेशान होकर कलेक्टर और निगम आयुक्त को शिकायत की लेकिन यहां भी सुनवाई नहीं हुई तो लोकायुक्त इंदौर को शिकायत की है। पार्षद ने कहा कि इंजीनियर साहब और अन्य अधिकारियों को पैसे देना है। जल्द काम हो जाएगा।

पहली किश्त पास कराने पर दिए थे 1500 रुपए

चाचा फकीरचंद वार्ड के फिरोज खान चार महीने हो गए लेंटर तक काम हुआ है अब तक एक लाख रुपए ही मिले है। निगम के चक्कर लगाकर परेशान हो गए हैं। पार्षद पति मुकेश चौहान रुपए मांग रहे हैं। पहली 40 हजार रुपए की किस्त आने पर 1500 रुपए दिए। दूसरी किस्त पास कराने के लिए उन्हें रुपए चाहिए उनका कहना है कि पीएम आवास का कार्य देख रहे गौरव साहब को पैसे देना है।

पार्षद बोले- हमने नहीं मांगे किसी से रुपए

चाचा फकीरचंद वार्ड के पार्षद पति मुकेश चौहान व खैराती वार्ड पार्षद सलीम खान ने कहा हमने किसी से रुपए नहीं मांगे और न ही किसी अधिकारी को देने दिए। लोग झूठे आरोप लगा रहे है। हमारा प्रयास है कि जल्द से जल्द वार्ड के लोगों को खुद का मकान मिले।

ठंड से बंद पड़ा काम, कलेक्टर और आयुक्त से शिकायत

फकीरचंद वार्ड की सुमनबाई पति गंगाराम ने बताया कि दो किस्त आई है ठंड से काम बंद पड़ा हुआ है। पार्षद पति कहता है निगम पर आओ मैं देखता हूं लेकिन जाते है तो वहां पर मिलते नहीं है। वार्ड में जिन लोगों के मकान बन गए है उनका कहना है कि बगैर रुपए दिए कुछ नहीं होगा। अगर ऐसा ही रहा तो ये बारिश भी निकल जाएगी लेकिन मकान नहीं बनेगा। कलेक्टर, आयुक्त को शिकायत की है।

X
किस्त पास कराने के पार्षद मांग रहे रुपए हितग्राही बोले- बारिश में कहां जाएंगे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..