--Advertisement--

दूध, दही से किया भगवान स्वामीनारायण का अभिषेक

भगवान स्वामिनारायण का दूध और केसर केे जल से अभिषेक किया गया। भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर 188 वर्ष पुराने...

Danik Bhaskar | May 17, 2018, 03:20 AM IST
भगवान स्वामिनारायण का दूध और केसर केे जल से अभिषेक किया गया।

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

188 वर्ष पुराने स्वामीनारायण मंदिर में बुधवार से पुरुषोत्तम मास शुरू हुआ। पहले दिन सैकड़ों लीटर दूध और केसर के जल से भगवान स्वामीनारायण का अभिषेक किया गया। मीडिया प्रभारी गोपाल देवकर ने बताया पूरे विश्व के स्वामीनारायण संप्रदाय का यही एक ऐसा मंदिर है जहां 125 साल से लगातार पूरे पुरुषोत्तम मास में दूध और केसर से अभिषेक होता है।

भक्त अपने घर से दूध लाकर अभिषेक करते हैं। वेदोच्चारण के लिए ब्राम्हण मंत्रों का उच्चारण कर ईश्वर को प्रसन्न कर भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं। मंदिर के कोठारी महंत पीपी स्वामी ने कहा मल मास जो 3 साल में एक बार आता है। यह प्रतिवर्ष ग्यारह दिनों की अधिकता के कारण उत्पन्न हुआ माह है। इसलिए इसे अधिकमास के नाम से भी जाना जाता है। चूंकि इस अधिकमास को भगवान श्रीकृष्ण ने अपनाया और उसे अपना नाम दिया तो यह पुरुषोत्तम मास कहलाया। इस माह में दानपुण्य करने से 100 गुना लाभ मिलता है। अभिषेक के अवसर पर सांसद नंदकुमारसिंह चौहान, फेडरेशन अध्यक्ष ज्ञानेश्वर पाटील, महापौर अनिल भोसले, भाजपा जिला अध्यक्ष विजय गुप्ता ने दर्शन किए। निर्माणाधीन घनश्याम भवन का निरीक्षण किया। इस दौरान सोमेश्वर मर्चेंट, भक्त किशोर शाह, अशोक शाह, गजेंद्र शाह, ठाकोर शाह, चंद्रकांत शाह, बालाजी शाह, अशोक भाई, सेवकदास शाह, सुरेंद्र भाई सहित अन्य मौजूद थे।