Hindi News »Madhya Pradesh »Burhanpur» पूर्व सरपंच ने नाबालिग के मुंह में कपड़ा ठूंसा और भांजों के साथ 15 दिन तक किया दुष्कर्म

पूर्व सरपंच ने नाबालिग के मुंह में कपड़ा ठूंसा और भांजों के साथ 15 दिन तक किया दुष्कर्म

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर धुलकोट पुलिस चौकी क्षेत्र के पिपराना गांव में 15 दिन पहले शादी समारोह से गायब हुई...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 31, 2018, 03:25 AM IST

  • पूर्व सरपंच ने नाबालिग के मुंह में कपड़ा ठूंसा और भांजों के साथ 15 दिन तक किया दुष्कर्म
    +1और स्लाइड देखें
    भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

    धुलकोट पुलिस चौकी क्षेत्र के पिपराना गांव में 15 दिन पहले शादी समारोह से गायब हुई नाबालिग को परिजन ने पिपराना गांव से दो किमी दूर चिरोंजीमाल से बरामद किया। बालिका को शादी समारोह से अगवा कर बंधक बनाकर आरोपी बाहर से ताला लगाकर बालिका के साथ दुष्कर्म करते थे। गांव की एक महिला की सतर्कता से मामले का खुलासा हुआ। बालिका के परिजन उसे लेने पहुंचे तो आरोपियों ने लट्‌ठ, पाइप व धारदार हथियारों से हमला कर दिया। इसमें युवक घायल हुए सभी का उपचार जिला अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने सात आरोपियों पर केस दर्ज किया है। इनमें तीन पर सामूहिक दुष्कर्म पाक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में आरोपी बनाया व चार आरोपियों पर मारपीट का मामला दर्ज किया।

    जानकारी अनुसार पिपराना गांव में 15 दिन पहले पूर्व सरपंच ध्यानसिंह पिता गुलाबसिंह (50) की भतीजी की शादी थी। शादी में शामिल होने के लिए गांव की ही बालिका (15) अपनी मां के साथ गांव के ही एक मोहल्ले में गई थी। सुबह करीब 5 बजे बालिका को बेटी कहकर ध्यानसिंह ने अपनी तरफ बुलाया तो वह चली गई। आम के पेड़ के पास बालिका के साथ जबरदस्ती कर मुंह में कपड़ा ठूंसकर बाइक पर बैठाया। आरोपी के साथ उसके दो भांजे नसरिया पिता नरसिंह व रामलाल पिता नरसिंह भी बाइक पर बैठ गए। बाइक पर बालिका को बीच में दबाया और गांव से दो किमी दूर चिरोंजीमाल ले गए। यहां पर रिश्तेदार के घर में बंधक बनाकर रख दिया। आरोपियों ने बालिका के साथ मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी और ज्यादती की। 15 दिन तक रोज ज्यादती करते रहे। मुंह में कपड़ा ठूंस देते थे। इस बीच चिरोंजीमाल गांव की एक महिला गेहूं पिसाने के लिए पिपराना आई। उसने बालिका के बारे में उसकी मां को बताया कि तुम्हारी लड़की को बाहर से बंद कर रखा है। वह बहुत तकलीफ में है। जानकारी मिलते ही बालिका के पांच भाई वहां पहुंचे। भाइयों की आवाज सुन बालिका ने दरवाजा तोड़ दिया। उसे लेकर जा रहे थे इस दौरान तीनों आरोपी और चार अन्य रिश्तेदार आ गए। बालिका के भाइयों के साथ मारपीट की जिसमें उन्हें गंभीर चोट लगी है। चार लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती किया है। एसपी पंकज श्रीवास्तव ने बताया आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम बनाई है। दुष्कर्म, अपहरण, पाक्सो सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है।

    गेहूं पिसाई के बहाने सूचना देने आई महिला

    बालिका की चीखें सुन एक महिला का दिल पसीज गया। वह गेहूं पिसाने का बहाना कर गांव से बाहर निकली और बालिका की मां को सूचना दी। महिला ने बालिका की मां से कहा- 15 दिन से मुझे तुम्हारी बेटी की आवाज आ रही। उसकी चीखें सुन मेरा दिल दहल गया। वहशी दरिंदों के जाल से अपनी बेटी को बचाओ।

    आरोपियों के हमला करने से चार लोग घायल हुए हैं।

    आपबीती : बालिका ने बताई पूरी घटना

    मां के साथ शादी में आई थी। ध्यानसिंह ने मुझे बेटी कहकर बुलाया। सोचा कुछ बोल रहे होंगे। मैं उनके पास चली गई। अचानक मुझे पकड़ा और बाइक पर बैठा दिया। मैं चिल्लाई तो मेरे मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। फिर उसके दोनों भांजे नसरिया व रामलाल भी आ गए। मुझे उन्होंने बाइक की सीट पर बीच में दबा लिया। बाइक से कूदने की कोशिश की लेकिन मेरी आवाज भी नहीं निकाल पाई। एक मकान पर ले गए और कहा अब अगर आवाज निकाली तो तुझे जान से मार देंगे। दरवाजा बंद कर चले जाते थे। रोज मारपीट कर मेरे साथ बारी-बारी गलत काम करते रहे। ध्यानसिंह व उसके भांजों के पैर पकड़कर रोई गिड़गिड़ाई दया की भीख मांगी लेकिन आरोपियों ने मेरी एक न सुनी। रोती चिल्लाती थी ताकि बाहर वालों को अावाज सुनाई दे व मेरी मदद के लिए आए। मेरे भाइयों को भी मारा। आरोपियों ने मेरे साथ बहुत गलत किया ऐसे लोगों को फांसी पर चढ़ा देना चाहिए। मैं उन्हें माफ नहीं करूंगी।

    तीन पर सामूहिक दुष्कर्म व चार पर मारपीट का केस

    आरोपी ध्यानसिंह गुलाबसिंह व उसके दो भांजे नसरिया, रामलाल पर सामूहिक दुष्कर्म, अपहरण, मारपीट, जान से मारने की धमकी व पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। जबकि 4 आरोपी जुवानसिंह गुलाबसिंह, मांगीलाल भेंगड़ा, अखात्या टेटिया, अमरदया टेटिया पर मारपीट, बंधक बनाने में मदद करने आदि धाराओं में केस दर्ज किया। घटना के बाद से आरोपी फरार हैं।

    ...इधर, बालिका का मुंह दबाकर उठा ले गया दुष्कर्मी

    खकनार |
    जिला मुख्यालय से 45 किमी दूर खड़की गांव में मंगलवार रात 9.30 बजे बालिका (15) शौच के लिए जा रही थी। तभी आरोपी राजाराम पिता सोनाजी कोरकू (32) ने बालिका का मुंह दबाकर डोरे के कोठे पर ले गया और ज्यादती की। बालिका की आवाज सुन परिजन व गांव वाले दौड़े। लोगों को अाता देख आरोपी मौके से भागा लेकिन बाद में उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता के पिता ने बताया बालिका देर तक घर नहीं लौटी तो तलाश शुरू की। तभी डोरे के कोठे से चिल्लाने की आवाज सुनाई देने पर वहां पहुंचा।

    आरोपी राजाराम

  • पूर्व सरपंच ने नाबालिग के मुंह में कपड़ा ठूंसा और भांजों के साथ 15 दिन तक किया दुष्कर्म
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Burhanpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: पूर्व सरपंच ने नाबालिग के मुंह में कपड़ा ठूंसा और भांजों के साथ 15 दिन तक किया दुष्कर्म
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Burhanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×