--Advertisement--

बोरगांव से धनगांव तक 58 किमी में बनेगा फोरलेन

इंदौर-इच्छापुर (एदलाबाद) सड़क को फोरलेन करने के लिए राष्ट्रीय सड़क प्राधिकरण ने काम शुरू कर दिया है। पहले चरण में 58...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 03:25 AM IST
बोरगांव से धनगांव तक 58 किमी में बनेगा फोरलेन
इंदौर-इच्छापुर (एदलाबाद) सड़क को फोरलेन करने के लिए राष्ट्रीय सड़क प्राधिकरण ने काम शुरू कर दिया है। पहले चरण में 58 किमी सड़क की डीपीआर बनाकर सड़क बनाने के लिए नेशनल हाईवे ने टेंडर किए हैं। इसमें बोरगांव से धनगांव तक की सड़क बनेगी।

प्रदेश सरकार ने स्टेट हाईवे 27 इंदौर-इच्छापुर को नेशनल हाईवे को देने का निर्णय लिया था। औपचारिकताएं पूरी हाेने के बाद अब इसे फोरलेन कराने का काम शुरू कर दिया है। स्टेट हाईवे-27 को टू लेन से बढ़ाकर फोरलेन किया जाएगा। यह नेशनल हाईवे के मापदंडों के मुताबिक बनाया जाएगा। इंदौर-इच्छापुर स्टेट हाईवे 27 को फोरलेन कराने के लिए डीपीआर बनाने के लिए टेंडर किए हैं। सड़क डीबीओटी के आधार पर बनेगी। यानी डिजाइन बनाना, सड़क बनाना और उसे चलाने की जिम्मेदारी कंपनी की होगी। तय समय सीमा के बाद सरकार को वापस की जाएगी। पहले चरण में महाराष्ट्र सीमा की ओर से 86 से 143 किलोमीटर तक के टेंडर हुए हैं। करीब 58 किलोमीटर सड़क 652 करोड़ से बनेगी। टेंडर जुलाई में खोले जाएंगे। सड़क बनाने के लिए कंपनियां आती हैं तो काम आगे बढ़ेगा। नहीं तो दोबारा टेंडर कराना होंगे।

वन विभाग का क्लीयरेंस मिलना बाकी


11 किमी के घाट सेक्शन में भेरू घाट व दुर्गम चोरल घाट को काटकर फोरलेन सड़क बनेगी

ऐसे समझें

03 हजार करोड़ लागत

1785 करोड़ सड़क निर्माण पर खर्च होगी। शेष राशि जमीन अधिग्रहण, बाधक खंभे, पेड़ व निर्माण हटाने पर खर्च की जाएगी

381 पुल-पुलियाएं बनाई जाएंगी, जिसमें 9 बड़े व 74 छोटे पुल होंगे, 53 स्लैब कल्वर्ट और 245 पुलियाओं के साथ दो रेलवे ब्रिज भी बनाए जाएंगे।

इंदौर, खंडवा, खरगोन व बुरहानपुर के 61 गांव की जमीन होगी अधिग्रहित

इंदौर-इच्छापुर फोरलेन प्रोजेक्ट में इंदौर के तीन, खंडवा के 21, खरगोन के 26 व बुरहानपुर के 11 छोटे बड़े गांवों की जमीनों का अधिग्रहण होगा। एमपीआरडीसी ने जिला प्रशासन को 59 गांवों के लिए जमीन अधिग्रहण संबंधी जानकारी भी भेज दी है। कुछ स्थानों पर प्रक्रिया अंतिम चरण में है। पूरे प्रोजेक्ट की लागत करीब तीन हजार करोड़ रुपए होगी। इसमें से 1785 करोड़ रुपए सड़क निर्माण पर खर्च होंगे। बाकी राशि जमीन अधिग्रहण, बाधक खंभे, पेड़ और निर्माण हटाने के कामाें पर खर्च की जाएगी। इधर, राजमार्ग के फोरलेन निर्माण में 300 हेक्टेयर निजी भूमि,100 हेक्टयेर सरकारी भूमि और 96 हेक्टेयर वन भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा।

चोरल-बाईग्राम के बाहर बनेंगे बायपास, दो पहाड़ काटेंगे ताकि जाम से मिले मुक्ति

सड़क को सीधा व तकनीकी रूप से सही बनाने के लिए टेढ़े-मेढ़े रास्तों को सीधा करेंगे। 4 किमी की दूरी कम होगी। दो पहाड़ों को काटकर राजमार्ग निकालेंगे। सड़क सकरी होने व अंधे मोड़ और खतरनाक उतार-चढ़ावों के कारण दुर्घटना और लंबे चक्काजाम की स्थिति घाट सेक्शन में बनती रहती है। रास्ते में आने वाले चोरल व बाईग्राम के सीमा क्षेत्र से बाहर बायपास बनाए जाएंगे। 11 किमी के घाट सेक्शन में भेरू घाट व दुर्गम चोरल घाट को काटकर फोरलेन सड़क बनेगी।

प्रस्तावित बायपास

राजमार्ग के रास्ते में आनेवाले ग्राम एवं नगर सिमरोल, बाईग्राम, बलवाड़ा, बड़वाह, सनावद, धनगांव, देशगांव, छैगांव माखन, बोरगांव, रुस्तमपुर, बुरहानपुर, शाहपुर की सीमा क्षेत्र के बाहर से बायपास निकाले जाएंगे।

X
बोरगांव से धनगांव तक 58 किमी में बनेगा फोरलेन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..