बुरहानपुर

--Advertisement--

आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर बुधवार अधिकतम तापमान 39 डिग्री के बीच दिनभर उमस के बाद शाम 6 बजे तेज हवा और झमाझम...

Dainik Bhaskar

Jun 07, 2018, 03:25 AM IST
आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल
भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

बुधवार अधिकतम तापमान 39 डिग्री के बीच दिनभर उमस के बाद शाम 6 बजे तेज हवा और झमाझम बारिश ने लोगों को राहत के साथ ही नुकसान भी पहुंचाया। चारों तरफ अंधेरा छाने के बाद झमाझम बारिश हुई और आंधी से जगह-जगह पेड़ धराशायी हो गए। ग्राम खातला में दो मकान गिरे जिनमें तीन लोग घायल हुए हैं।

शाहपुर और फोफनार क्षेत्र में केली के पौधों को अधिक नुकसान हुआ है। करीब आधा घंटे तक चली बारिश ने शहर की रफ्तार रोक दी। इधर बारिश की अाहट होते ही बिजली कंपनी ने पूरे शहर की लाइन बंद कर दी। इससे गर्मी और उमस से लोग बेचैन हो गए। बिजली के इंतजार में रात 9 बजे तक लोग बैठे रहे। कई जरूरी काम रुक गए। इंदौर-इच्छापुर हाईवे पर यातायात आधा घंटा प्रभावित रहा। फोफनार व शाहपुर क्षेत्र में एक दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे। प्री-मानसून की पहली ही बारिश ने बिजली कंपनी के मेंटेनेंस की पोल खोलकर रख दी।

तापमान में गिरावट आएगी- बुधवार को अधिकतम तापमान 39 व न्यूनतम तापमान 27 डिग्री दर्ज किया गया। जैसे-जैसे जून के दिन आगे बढ़ेंगे तापमान वैसे-वैसे कम होता चला जाएगा। कारण यह कि प्री-मानसून होगा। इससे तापमान में गिरावट आएगी। इसके बाद मानसून सक्रिय हो जाएगा। इससे भी तापमान पर बढ़ा फर्क पड़ेगा।

प्री-मानसून की पहली ही बारिश ने बिजली कंपनी के मेंटेनेंस की खोल दी पोल

शहर में आधे घंटे तक तेज बारिश हुई। सिंधी बस्ती चौराहा, लालबाग रोड, शनवारा गेट सहित जगह-जगह डबरे भरा गए।

इसलिए बने बारिश के आसार

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार बंगाल की खाड़ी में एक लो-प्रेशर क्षेत्र बन रहा है। इस कारण मानसून तेजी से आगे की ओर बढ़ रहा है। इसी कारण दक्षिण की ओर से मानसून 10 के बाद मप्र में प्रवेश कर सकता है।

आगे क्या- मौसम विज्ञान केंद्र भोपाल के अनुसार अागामी दिनों में आंधी व बारिश होगी। 8 जून को असर कम होगा 9 व 10 जून को बारिश के साथ ही 11 जून को मानसून निमाड़ में दस्तक देगा।

बहादरपुर रोड पर उखड़े खंभे

बारिश और तेज हवा से लोनी बहादरपुर रोड पर 11 केवी लाइन के तार टूट गए खंभे उखड़ गए जिससे रात 9 बजे तक बिजली विभाग के कर्मचारी व अधिकारी सुधार कार्य में जुटे रहे।

लोनी में स्कूल के टीन उड़कर व्यवसायी को लगे

महाराष्ट्र बार्डर पर ग्राम लोनी के पास आंधी हवा से मप्र शासन का लगा हुआ गेट जमीन से उखड़ गया। लोनी के हाट बाजार में कटलरी की दुकान समेटते समय व्यवसायी बंडू भाई को टीन उड़कर लगा जिससे उनकी हाथ अंगुलियों कट गई। गांव के सरकारी स्कूल व घरों पर लगे टीन भी उड़ गए।

बारिश थमते ही ग्रामीण क्षेत्र में दौरे पर निकले मंत्री और कलेक्टर

बारिश थमने के बाद मंत्री अर्चना चिटनीस, कलेक्टर सत्येंद्रसिंह सहित अधिकारी नाचनखेड़ा सहित ग्रामीण क्षेेत्र के दौरे पर निकल पड़े। मंत्री ने कलेक्टर को निर्देश दिए कि नुकसान का अधिक से अधिक मुआवजा दिया जाए। सर्वे की टीम तत्काल गांवों में रवाना करवा दो। वहीं सांसद नंदकुमारसिंह चौहान ने भी मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को जिले में हुए नुकसान से अवगत कराया व उचित मुआवजा देने की मांग की।

फीडर पर गिरा पेड़, पोल उखड़े, तार टूटे

आंधी से बहादरपुर रोड स्थित होटल उत्सव के पीछे 33 केवी स्पिनिंग मिल फीडर पर नीम का पेड़ गिरा। इससे 33 केवी इंडस्ट्रीयल और 33 केवी लाइन बंद पड़ी है। राधा स्वामी सत्संग के सामने पोल जमीन से उखड़ गया। इससे हाईटेंशन लाइन के तार भी टूट गए। अर्वाचीन स्कूल के पास हाईटेंशन पर कविट का पेड़ टूटकर गिरा। राधा स्वामी सत्संग के सामने पोल टूट गया। इससे शनवारा और शिकारपुरा क्षेत्र का फीडर बंद पड़ा है। एई आरके दीक्षित ने बताया शहर में जल्द बिजली सुचारू हो सके इसके लिए मेंटेनेंस विभाग के सभी कर्मचारी जुटे हुए हैं। शहर का एक कोई भी फीडर जल्द शुरू करेंगे। बाकी गुरुवार सुबह तक सुचारू हो जाएंगे।

आधे घंटे तेज हवा से गिरे पेड़, टीन उड़े, फसल जमींदोज

शाहपुर | क्षेत्र में बुधवार को शाम 6 बजे से तेज हवा चली। इससे केले की फसल जमींदोज हो गई। मकानों पर लगे टीन उड़ गए। शाहपुर-फोपनार रोड पर पेड़ गिरने से यातायात अवरूद्ध हुआ। अासपास के गांवों में पेड़ गिरे। शाहपुर सहित नीमगांव, रायगांव, धामनगांव, खामनी, भावसा, बख्खारी, इच्छापुर, चापोरा में आंधी, बारिश से नुकसान हुआ है। लगभग 400 से 500 हेक्टेयर में केले की फसल को नुकसान हुआ।

धुलकोट में आंधी से दीवार गिरी, तीन लोग घायल

धुलकोट | क्षेत्र में शाम 6 बजे से तेज हवा चली। हल्की बारिश हुई। ग्राम खातला में मिट्‌टी, ईंट की जुड़ाई से बने दो मकान गिर गए। इसमें तीन लोग घायल हो गए। सदस्यों को हाथ, पैर पर खरोचें आई। हवा चलने के दौरान मंशू देवराम और बेटे रमेश देवराम अपने परिवार के साथ घर में थे। इस दौरान दोनों के मकानों की दीवारें गिर गई। सभी सदस्य घर से बाहर निकल गए।

आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल
आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल
X
आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल
आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल
आंधी से दो मकान, 1 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिरे, 3 लोग घायल
Click to listen..