--Advertisement--

लिपिक नियुक्ति समय की परिस्थिति बताकर जपं सीईओ ने दिया जवाब

मामला जनपद पंचायत कार्यालय में लिपिक पद पर नियुक्ति का भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर बुरहानपुर जनपद पंचायत...

Dainik Bhaskar

May 23, 2018, 03:45 AM IST
मामला जनपद पंचायत कार्यालय में लिपिक पद पर नियुक्ति का

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

बुरहानपुर जनपद पंचायत कार्यालय में लिपिक पद पर नियम के खिलाफ नियुक्ति के जवाब में जनपद सीईओ ने उस समय की परस्थितियां दर्शाकर जवाब प्रभारी जिला पंचायत सीईओ को भेज दिया है। आगे कार्रवाई का निर्णय भी उन पर छोड़ दिया है।

वर्ष 2012 शरद पवार और कमलेश महाजन की लिपिक पद पर नियुक्ति हुई थी। डॉ. आनंद दीक्षित की शिकायत पर लेखाधिकारी राजकपूर वर्मा ने जांच में पाया था कि

29 मई 2012 को जो चयन समिति बनाई थी, उसमें डिप्टी कलेक्टर पाटीदार बतौर सदस्य थे लेकिन उस समय उनकी अनुपस्थिति कोरम पूरा बताकर लिपिक की नियुक्ति कर दी थी। जिसे कि जांच में उन्होंने अवैध माना है। इसकी जिम्मेदार नियुक्तिकर्ता अधिकारी की थी। जो कि जनपद सीईओ अनिल पवार थे। वर्तमान में भी वही जनपद संभाल रहे हैं। जिन्हें जिपं प्रभारी सीईओ रोमानुस टोप्पो ने शोकॉज दिया था। उसमें अवैध नियुक्ति का हवाला देकर सात दिन में जवाब मांगा था कि जवाबदारी, जिम्मेदारी नियुक्तिकर्ता अधिकारी की होती है। जो की आपके कार्यकाल के दौरान हुई थी। जिसके उत्तर में जपं सीईओ ने कहा सीईओ साहब से जो निर्देश आए थे, उसके हिसाब से नियमतीकरण निरस्त कर पालन प्रतिवेदन भिजवा दिया। किस परिस्थितियों में कार्रवाई की थी उसका भी जवाब दे दिया है। जिला पंचायत जैसा निर्णय लेना चाहे ल सकती है। जिपं सीईओ रोकानुस टोप्पाे ने कहा उन्होंने कार्रवाई के प्रतिवेदन के साथ जवाब दिया है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..