• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Burhanpur
  • समझौते योग्य मामलों में मध्यस्थता की अहम भूमिका : न्यायाधीश
--Advertisement--

समझौते योग्य मामलों में मध्यस्थता की अहम भूमिका : न्यायाधीश

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 04:25 AM IST

Burhanpur News - शिविर में लोगों को विभिन्न जानकारी दी गई। भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर गुरुगोविंदसिंह डेंटल कॉलेज में...

समझौते योग्य मामलों में मध्यस्थता की अहम भूमिका : न्यायाधीश
शिविर में लोगों को विभिन्न जानकारी दी गई।

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

गुरुगोविंदसिंह डेंटल कॉलेज में मध्यस्थता विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला को संबोधित करते हुए अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश नरेन्द्र पटेल ने कहा कि मध्यस्थता के माध्यम से मामलों को निपटाकर प्रकरणों की संख्या कम की जा सकती है जिससे त्वरित न्याय एवं सस्ता सुलभ न्याय प्राप्त किया जा सकता है। मध्यस्थता की प्रक्रिया में पक्षकारों की जानकारी को गोपनीय रखा जाता है। मध्यस्थता में संयुक्त सत्र, प्रथम सत्र के माध्यम से मध्यस्थता अधिकारी द्वारा मध्यस्थता कराकर एक सस्ता एवं सुलभ न्याय प्रदान किया जा सकता है। इस दौरान उन्होंने विधिक सेवा के प्रावधानों को बताया एवं उदाहरण के माध्यम से समझाया कि किस प्रकार से समझौते योग्य मामलों में समझौता कराकर वैकल्पिक विवाद समाधान केंद्र द्वारा न्याय प्रदान किया गया। कार्यशाला को जिला विधिक सहायता अधिकारी रॉबिन दयाल, वरिष्ठ समाजसेवी एवं परिवार कल्याण समिति के अध्यक्ष महेंद्र जैन ने संबोधित किया। कार्यशाला का संचालन दिलीप मोरे ने किया एवं आभार कॉलेज के डायरेक्टर उपेन्द्रसिंह कीर ने माना।

X
समझौते योग्य मामलों में मध्यस्थता की अहम भूमिका : न्यायाधीश
Astrology

Recommended

Click to listen..