• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Burhanpur News
  • फरार छह उपद्रवी 34 दिन में उत्तर देने कोर्ट में नहीं आए तो पुलिस कुर्क करेगी संपत्ति
--Advertisement--

फरार छह उपद्रवी 34 दिन में उत्तर देने कोर्ट में नहीं आए तो पुलिस कुर्क करेगी संपत्ति

प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट ने फरार छह आरोपियों के घर भेजे नोटिस, उत्तर जानने के लिए 16 जून तक कोर्ट बुलाया ...

Danik Bhaskar | May 14, 2018, 04:25 AM IST
प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट ने फरार छह आरोपियों के घर भेजे नोटिस, उत्तर जानने के लिए 16 जून तक कोर्ट बुलाया

भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

दुष्कर्म पीड़िता को इंसाफ दिलाने की आड़ में 20 अप्रैल को शहर में अराजकता फैलाने वाले फरार छह उपद्रवियों को 16 जून तक उत्तर देने के लिए कोर्ट बुलाया है। सूचना के लिए प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट रवि नायक ने उनके घर नोटिस भेज दिए है।

पुलिस के अनुसार यदि 34 दिन में आत्मसमर्पण नहीं करते है या उन्हें अग्रिम जमानत नहीं मिलती है और कोर्ट में भी नहीं आए तो उनकी संपत्ति कुर्क की जाएगी। प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट रवि नायक ने नोटिस जारी कर कहा है कि मेरे समक्ष परिवाद किया गया है कोतवाली में दर्ज आरोपी माेमीनपुरा निवासी शेरा उर्फ सुरेंद्रसिंह पिता नवलसिंह ठाकुर, हर्षितसिंह चंद्रप्रकाशसिह ठाकुर, आजाद नगर निवासी जहीरदउद्दीन पिता इकरामउद्दीन, शिकारपुरा के देवानंद पिता जीवनलाल तायड़े, बुधवारा के हफीजउद्दीन पिता नजीरउद्दीन और सिंधीपुरा के नूर अहमद पिता रहमतउल्ला पर धारा 147, 148, 149, 336, 427, 332, 333, 152, 152, 153 क(1) क ख, 440, 188, 120बी के तहत केस दर्ज किया गया है। गिरफ्तारी के लिए उनके घर वारंट भेजा गया लेकिन परिजन ने उत्तर में ये लिखकर वारंट लौटा दिया गया कि वारंटी घर से फरार हो गए है। यानी तामिली से बचने के लिए अपने आप को छुपा लिया है। ऐसे में आदेश दिया जाता है कि धारा 82 दप्रस के तहत वारंटी 16 जून तक कोर्ट में उत्तर देने के लिए पेश हो जाए। नोटिस जारी होने के बाद से उपद्रवियों के परिजन घबरा गए है। जमानत के लिए हाईकोर्ट के चक्कर लगा रहे हैं। हालांकि अब तक किसी को जमानत नहीं मिली है।