आदिवासी पारंपरिक वेशभूषा में मांदल लेकर पहुंचे भोंगर्या में, लोकगीत गाकर किया नृत्य

Burhanpur News - शनिवार को ग्राम बोरी बुजुर्ग में भोंगर्या पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। दो दर्जन गांव के सात हजार से ज्यादा...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 04:10 AM IST
Nepanagar News - mp news adiwasi arrived in madhya pradesh with traditional costumes singing folk songs and dance
शनिवार को ग्राम बोरी बुजुर्ग में भोंगर्या पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। दो दर्जन गांव के सात हजार से ज्यादा आदिवासी इसमें शामिल हुए। एक-दूसरे को गुलाल लगाया। मांदल की थाप पर आदिवासी धुन पर लोकनृत्य किया। कोई बासुरी बजाता रहा, तो कोई परंपरा के वाद्य लेकर अाए। जिसने भी भोंगर्या देखा वह इसमें शामिल हुए। खासा उत्साह सेल्फी और फोटो स्टूडियो में देखा गया। फोटो ग्राफरों ने सात चलित स्टूडियों लगाए गए। रिझाने के लिए आकर्षक सजावट भी की। जहां सैकड़ों युवक-युवतियों ने परंपरागत वेशभूषा में आकर फोटो खिंचवाए। बड़ों और बच्चों ने झूलों के साथ मिक्की माउस और जंपिंग जपाक का पूरे दिल लुत्फ उठाया।

आदिवासी समुदाय के पर्व भोंगर्या को लेकर बाेरी बुजुर्ग में खासा उत्साह रहा। सुबह से आरंभ हुए भोंगर्या में आसपास के गांव के लोगों ने दुकानें लगाई। पर्व को लेकर एक सप्ताह पहले से समुदाय के लोग तैयारियों में जुट जाते हैं। लेकिन खासा प्रभाव होली के पूर्व लगने वाले हाट बाजार में देखा जाता है। बुजुर्ग अपनी पारंपरिक वेशभूषा में शामिल हुए। लेकिन युवाओं और युवतियों पर पश्चिमी सभ्यताओं का असर भी देखने को मिला। सभी ने रंग, गुलाल, पिचकारी के साथ अन्य सामान की जमकर खरीदारी की गई।

युवाअों में पश्चिमी सभ्यताओं का असर भी देखने को मिला

आदिवासी गीतों के साथ मांदल पर लगाई युवाओं ने थाप और जमकर झूमे।

भोंगर्या में लोक गीतों पर झूमे यादव

निंबोला | बोरीबुजूर्ग में शनिवार को आयोजित भोंगर्या मेले में शनिवार शाम पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अरूण यादव भी पहुंचे। चश्मा लगाकर यादव लोगों के बीच पहुंचे और उन्हें गुलाल लगाया गया। आदिवासी लोक गीत पर आदिवासी झूमें, उनके साथ यादव भी काफी देर तक झूमते नजर आए। इस दौरान विधायक सुमित्रा कास्डेकर, जिलाध्यक्ष अजयसिंह रघुवंशी मौजूद थे।

हाट में सात हजार आदिवासी हुए शामिल

धुलकोट क्षेत्र अदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है। यहां त्यौहार को लेकर काफी उत्साह रहता है। इनमें भी युवक और युवतियों के लिए उत्सव महत्व पूर्ण माना जाता है। क्योंकि इसी मेले में वह अपने जीवन साथी को तलाशते हैं। सुबह से शाम तक चले भोंगर्या हाट में करीब सात हजार से लोग शामिल हुए। एक-दूसरे को होली और भौंगर्या पर्व की बधाई देते नजर आया।

साड़ियों के साथ लगाई माथे पर बिंदी

महिलाओं ने भी पर्व को लेकर कोई कसर नहीं छोड़ी। नई साड़ियों के साथ आकर्षक शृंगार किया। युवतियों ने कानों में बालिया, होटो पर लाली और माथे पर बिंदिया लगाई। वहीं युवा जिंस और टीर्श के साथ अांखों पर चश्मा चढ़ाकर घुमते रहे। समूह बनाकर आयी टोलियों ने अपने साथ मांदल भी लाए। जिसकी धुन सुनकर आसपास से गुजरने वाला भी अपने आप को नाचने से नहीं रोक पाया।

युवक ने मोबाइल तो युवतियों ने स्टूडियों पर ली फोटो

मेले में युवा जेब में मोबाइल के साथ आदिवासी गाने बजते रहे। वहीं युवतियां भी पीछे नहीं रही। टोली के साथ सजधज कर आई। युवकों ने मोबाइल से सेल्फी काे बढ़ावा दिया, तो युवतियों ने चलित स्टूडियों पर फैशन के साथ अपनी फोटो खिचाई। इसके लिए फोटो ग्राफरों ने भी एक से बढ़कर एक शानदार बैकग्राउंट लोगों को रिझाया।

सुरक्षा के लिए पुलिस बल रहा तैनात

शाम 7 बजे तक चले भोंगर्या पर्व में सुरक्षा आैर शांति व्यवस्था के लिए पुलिस बद तैनात रहा। निंबोला थाना और धुलकोट चोकी के पुलिस अधिकारी-जवान मेले में सुरक्षा के लिए तैनात रहे। शाम 7 बजे तक चले मेले में वाहनों की पार्किंग के साथ मेले में असामाजिक तत्वों पर कार्रवाई और अवैध शराब बेचने से रोकने के लिए पुलिस ने नियमित जांच की।

दस हजार आदिवासी होंगे भोंगर्या मेले में शामिल, तैयारियां पूरी

भोंगर्या उत्सव के तहत नेहरु स्टेडियम पर हुई तैयारियां।

जागृति कला केंद्र नेहरु स्टेडियम में रविवार को लोक उत्सव 2019 का होगा आयोजन

भास्कर संवाददाता | नेपानगर

रविवार को नगर में होली के पहले लगने वाले हाट बाजार में भोंगर्या पर्व मनेगा। दुकानों पर भी आदिवासियों को रिझाने के लिए कई प्रकार की मिठाई बनाई गई है। होटलों पर आदिवासी गीत भी बजेंगे। जिसकी तैयारियां हो चुकी है।

सुबह से शाम तक मातापुर बाजार में सैकड़ों लोगों की भीड़ रहेगी। भोंगर्या पर्व को उत्साह के साथ मनाए जाने के लिए जागृति कला केंद्र नेहरु स्टेडियम पर लोक उत्सव 2019 का आयोजन करेंगा। इसके लिए टैंट के साथ अन्य सुविधाओं को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गई है। इसमें बुरहानपुर के साथ अन्य जिलों और प्रदेश से आए दस हजार से ज्यादा आदिवासी शामिल होंगे। जागृति कला केंद्र के मुकेश दरबार ने बताया चार साल से नेहरु स्टेडियम पर भोंगर्या पर्व का आयोजन किया जा रहा है। इसमें लोकगीतों की प्रस्तुतियां दी जाएगी। उन्होंने बताया कार्यक्रम में शामिल होने वाले दलों को 1100 रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा। कार्यक्रम को लेकर एसडीएम विशा माधवानी, तहसीलदार सौरभ शर्मा, नायब तहसीलदार लौकेश चौहान, प्रवीण बानों अंसारी ने स्टेडियम का निरीक्षण किया। कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों को मतदान जागरुकता के लिए प्रेरित करने के लिए बैनर और पोस्टर लगाने की बात कही।

Nepanagar News - mp news adiwasi arrived in madhya pradesh with traditional costumes singing folk songs and dance
Nepanagar News - mp news adiwasi arrived in madhya pradesh with traditional costumes singing folk songs and dance
X
Nepanagar News - mp news adiwasi arrived in madhya pradesh with traditional costumes singing folk songs and dance
Nepanagar News - mp news adiwasi arrived in madhya pradesh with traditional costumes singing folk songs and dance
Nepanagar News - mp news adiwasi arrived in madhya pradesh with traditional costumes singing folk songs and dance
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना