पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Nimbola News Mp News Not Even One Kilometer Of Station Road Built In 30 Years Mp Minister Even Pleaded

30 साल में भी नहीं बना एक किलोमीटर का स्टेशन रोड,सांसद, मंत्री तक से लगा चुके गुहार

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्षेत्र के विकास का दम भरने वाले जनप्रतिनिधियों के दावों की कलई असीरगढ़ रोड स्टेशन पर खुल रही है। एक किमी का यह रोड 30 साल बाद भी अधूरा पड़ा है। इस कारण यात्रियों सहित क्षेत्र के ग्रामीण और किसान आवाजाही में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहे हैं। समस्या को लेकर वे पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस और सांसद नंदकुमारसिंह चौहान सहित क्षेत्र के कई जनप्रतिनिधियों से भी गुहार लगा चुके हैं। लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। इस बदहाल रोड पर परेशानी का सफर जारी है। ग्रामीणों और यात्रियों ने रोड का निर्माण जल्द पूरा करने की मांग की है।

निंबोला के पास एक किमी का यह रोड असीरगढ़ स्टेशन को इंदौर-इच्छापुर हाईवे से जोड़ता है। लेकिन 30 साल बाद भी इसका निर्माण पूरा नहीं हो पाया है। यहां रोड बनाकर डामरीकरण नहीं किए जाने से रोड पर कीचड़ होने के साथ घास उग आई है। इस कारण यहां से आवाजाही मुश्किल हो गई है। रेलवे स्टेशन आने-जाने वाले यात्रियों सहित क्षेत्र के ग्रामीण और किसान रेलवे ट्रैक से सटी पगडंडी से आना-जाना कर रहे हैं। ऐसे में हर समय हादसे का अंदेशा रहता है। लोगों का कहना है बारिश के कारण इस पगडंडी पर भी कीचड़ रहता है। ट्रेन के गुजरने के दौरान कोई फिसल कर ट्रैक पर गिर पड़े तो जान भी जा सकती है। बावजूद इसके रोड के निर्माण की ओर कोई जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहा है।

अधूरे पड़े असीरगढ़ स्टेशन रोड पर कीचड़ होने के साथ घास उग आई है।

भास्कर संवाददाता | निंबोला

क्षेत्र के विकास का दम भरने वाले जनप्रतिनिधियों के दावों की कलई असीरगढ़ रोड स्टेशन पर खुल रही है। एक किमी का यह रोड 30 साल बाद भी अधूरा पड़ा है। इस कारण यात्रियों सहित क्षेत्र के ग्रामीण और किसान आवाजाही में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहे हैं। समस्या को लेकर वे पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस और सांसद नंदकुमारसिंह चौहान सहित क्षेत्र के कई जनप्रतिनिधियों से भी गुहार लगा चुके हैं। लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। इस बदहाल रोड पर परेशानी का सफर जारी है। ग्रामीणों और यात्रियों ने रोड का निर्माण जल्द पूरा करने की मांग की है।

निंबोला के पास एक किमी का यह रोड असीरगढ़ स्टेशन को इंदौर-इच्छापुर हाईवे से जोड़ता है। लेकिन 30 साल बाद भी इसका निर्माण पूरा नहीं हो पाया है। यहां रोड बनाकर डामरीकरण नहीं किए जाने से रोड पर कीचड़ होने के साथ घास उग आई है। इस कारण यहां से आवाजाही मुश्किल हो गई है। रेलवे स्टेशन आने-जाने वाले यात्रियों सहित क्षेत्र के ग्रामीण और किसान रेलवे ट्रैक से सटी पगडंडी से आना-जाना कर रहे हैं। ऐसे में हर समय हादसे का अंदेशा रहता है। लोगों का कहना है बारिश के कारण इस पगडंडी पर भी कीचड़ रहता है। ट्रेन के गुजरने के दौरान कोई फिसल कर ट्रैक पर गिर पड़े तो जान भी जा सकती है। बावजूद इसके रोड के निर्माण की ओर कोई जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहा है।

10 से अधिक गांव के लोग झेल रहे परेशानी

क्षेत्र के किसान अनिल पाटील, बबलू चौधरी, सुभाष महाजन और नारायण ठाकुर सहित अन्य लोगों ने बताया रोड का काम पूरा नहीं होने के कारण 10 से अधिक गांवों के लोगों को आवाजाही में परेशानी झेलना पड़ रही है। इनमें निंबोला, मगरूल, गारबलड़ी, ठाठर, बलड़ी, खामला, झिरी, चुलखान, झांझर, नसीराबाद, बोरी, बसाड़, असीरगढ़, दहीनाला, हसनपुरा सहित अन्य गांव शामिल हैं। धुलकोट क्षेत्र के यात्रियों सहित रेलवे के कर्मचारी भी पगडंडी से आवाजाही कर रहे हैं। 30 साल से हर साल बारिश में परेशानी झेल रहे हैं। करीब 8 माह पहले लोक निर्माण के ठेकेदार ने यहां पेंचवर्क शुरू किया था। लेकिन बाद में इसे भी अधूरा छोड़ दिया। इसका ठेका खंडवा के कोठारी कंस्ट्रक्शन को दिया है। लेकिन काम अधूरा होने की ओर किसी का ध्यान नहीं है।

सारोला के बाजार में पसरा कीचड़, आवाजाही में फजीहत झेल रहे लोग

नेपानगर | ग्राम सारोला में हर बुधवार को लगने वाले साप्ताहिक बाजार में लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बारिश के कारण यहां हर तरफ कीचड़ हो गया है। इस कारण लोगों को आवाजाही में परेशानी हो रही है। हालात यह हैं कि यहां पैदल चलना भी मुश्किल हो रहा है। समस्या को लेकर पंचायत से कई बार शिकायत करने के बाद भी जिम्म्मेदारों द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। लोगों ने समस्या के जल्द निराकरण की मांग की है।

सारोला में लगने वाले साप्ताहिक हाट बाजार में कई व्यापारी दुकानें लगाते हैं। खरीदी के लिए भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं। लेकिन बारिश के कारण हर तरफ कीचड़ पसरा होने से सभी को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बार-बार शिकायत के बाद भी पंचायत यहां सुधार नहीं करा रही है। लोगों ने बताया क्षेत्र में पंचायत द्वारा किसी तरह का विकास कार्य नहीं किया गया है। कीचड़ के कारण आवाजाही तो मुश्किल हो रही है, वहीं कई बार बाइक सवार यहां फिसलकर गिर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...