स्ट्रीट लाइट बंद, वाटर वर्क्स का कनेक्शन काटा, आज आधे शहर को नहीं मिलेगा पानी

Burhanpur News - भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर देरशाम के बाद नगर निगम क्षेत्र की सभी सड़कों पर रातभर अंधेरा छाया रहा, क्योंकि नगर...

Oct 13, 2019, 07:01 AM IST
भास्कर संवाददाता | बुरहानपुर

देरशाम के बाद नगर निगम क्षेत्र की सभी सड़कों पर रातभर अंधेरा छाया रहा, क्योंकि नगर सरकार ने पिछले एक महीने का 75 लाख रुपए बिजली बिल नहीं भरा है। ऐसे में बिजली कंपनी ने स्ट्रीट लाइट बंद कर वाटर वर्क्स का कनेक्शन काट दिया। इस कारण रविवार को आधे शहर के 50 हजार से ज्यादा लोगों को पानी सप्लाय नहीं हो पाएगा।

निगम अफसरों के अनुसार राज्य सरकार से निगम को हर माह दो करोड़ रुपए चुंगी क्षतिपूर्ति प्राप्त होती रही है। कुछ माह से ये राशि घटकर 1.60 करोड़ रुपए तक मिल रही थी। अब ये राशि धीरे-धीरे और भी कम मिलने लगी है। इस बार चुंगी क्षतिपूर्ति समय पर नहीं मिलने से निगम का बिल बकाया रह गया है। निगम पर बिजली कंपनी का करीब 75 लाख रुपए बिजली बिल बकाया हो गया है। ये बकाया शहर संभाग और लालबाग झोन के कनेक्शन का मिलाकर है। अकेले शहर संभाग का निगम पर 49 लाख रुपए बकाया चल रहा है। इसको लेकर बिजली कंपनी ने नगर सरकार को नोटिस दिया था।

बिल नहीं भरने पर कंपनी ने शनिवार दोपहर शहर के सभी स्ट्रीट लाइट बंद कर दिए। निगम के शिकारपुरा वाटर्स वर्क्स का कनेक्शन भी काट दिया है। इससे रविवार को दक्षिण क्षेत्र यानी आधे शहर में जल सप्लाय ठप रहेगा। इससे राज्य की कांग्रेस और नगर की भाजपा सरकार के बीच चल रहा टकराव साफ दिख रहा है, क्योंकि आगामी दिनों में नगर सरकार के चुनाव आने वाले हैँ।

आगे क्या : रविवार शिकारपुरा वाटर्स बंद होने से शिकारपुरा, महाजनापेठ, प्रतापपुरा, नेहरु नगर, सिलमपुरा, संजय नगर, सुंदर नगर, रास्तीपुरा, तिलक वार्ड, शाह बाजार में पानी सप्लाय नहीं होगा। यानी दक्षिण बुरहानपुर के 50 हजार लोग परेशान होंगे।

50 लाख की हुई आय : लालबाग क्षेत्र में कंपनी ने 10 से ज्यादा उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन काटे। कुछ ने अफसरों को मौके पर बकाया देकर कनेक्शन कटने से बचाया। कंपनी को इनसे करीब 50 लाख की आय हुई। इनमें कई नेताओं के नाम सामने आ रहे हैं। लेकिन अफसर नामों को सार्वजनिक नहीं कर रहे हैं।

लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बनी तो बिजली कंपनी जिम्मेदार होगी


चुंगी क्षतिपूर्ति बहुत कम मिल रही, खर्च वहन नहीं हो पा रहे

इंदौर वरिष्ठ कार्यालय के निर्देश पर की गई ये कार्रवाई



400 फीट ऊंचाई से ड्रोन कैमरे से ली गई तस्वीर। रात में जो शहर चमचमाता था वह अंधेरे में डूबा से नजर आ रहा है

जब से कांग्रेस सरकार आई, तब ही ये स्थिति बन रही है


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना