पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Burhanpur News Mp News Temporary Culvert Swept Away Due To Heavy Rain At Midnight Movement Stopped For 6 Hours

आधी रात को तेज बारिश में बह गई अस्थायी पुलिया, 6 घंटे ठप रही आवाजाही

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दो से ढाई फिट गहरे गड्‌ढे से बस निकलते समय जमीन से टकरा रही।

यात्री बस और पिकअप सहित कई वाहन फंसे रहे, बाद में 2 जेसीबी से गिट्‌टी और मिट्‌टी डालकर और एक-एक कर निकाले वाहन

कमलखेड़ा से असीर तक बन रहे 35 किमी के रोड का काम अब भी अधूरा

भास्कर संवाददाता | बोरीबुजुर्ग

कमलखेड़ा से असीर तक बनाए जा रहे 35 किमी का रोड दो साल बाद भी अधूरा पड़ा है। इस रोड पर बनाई जाने वाली करीब 8 से 10 पुलियाओं का निर्माण भी अधर में है। बोरीबुजुर्ग के पास पुरानी पुलिया तोड़कर आवाजाही के लिए बनाई गई अस्थायी पुलिया बुधवार आधी रात के बाद शुरू हुई तेज बारिश के कारण नदी में आई बाढ़ के कारण बह गई। इस कारण गुरुवार सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक यहां से आवाजाही बंद रही। बस, पिकअप सहित कई वाहन यहां फंसे रहे। रोड निर्माण कंपनी ने बाद में दो जेसीबी से गिट्‌टी और मिट्‌टी डालकर यहां से जैसे-तैसे आवाजाही शुरू की गई।

धुलकोट क्षेत्र में कमलखेड़ा से असीर और धुलकोट से कालंका तक करीब 35 किमी का यह रोड बनाया जाना है। इसकी लागत 58 करोड़ रुपए है। रोड का निर्माण विदिशा की रघुवंशी कंपनी कर रही है। लेकिन निर्माण में लापरवाही बरती जा रही है। दो साल बाद भी रोड अधूरा पड़ा है। वहीं पुलियाओं का निर्माण भी नहीं किया गया है। जहां-जहां पुलिया बनना है, वहां रोड का काम अधूरा छोड़ दिया गया है। इस रोड से कमलखेड़ा, बोरीबुजुर्ग, भगवानिया, धुलकोट, पिपराना, अंबा और उतांबी सहित 25 से अधिक गांवों के 25 हजारों लोगों की आवाजाही है। दिनभर में हजारों लोग यहां से गुजरते हैं। लेकिन रोड की बदहाली के कारण सभी को आवाजाही में काफी फजीहत झेलना पड़ रही है।

ड्राइवर ने यात्रियों को उतार कर निकाली बस, दूसरी बस का पिछला हिस्सा पानी में डूब गया

रात में अस्थायी पुलिया बह जाने के बाद गुरुवार सुबह 7 बजे यहां से गुजरने वाली पहली बस के ड्राइवर ने यात्रियों को उतारकर जैसे-तैसे यहां से बस निकाली। अस्थायी पुलिया इतनी संकरी थी कि यहां से एक बार में एक ही वाहन निकल सकता है। इसके बहने के बाद तो यहां परेशानी और बढ़ गई। एक अन्य बस के ड्राइवर ने यहां से बस निकालने की कोशिश की तो गड्ढे में उतरने के कारण बस का पिछला हिस्सा पानी में डूबकर जमीन से टिक गया। ऐसे में बस पलट भी सकती थी। इस रोड से रोजाना करीब 15 बसें गुजरती हैंं। ये बसें खरगोन से बुरहानपुर और परतकुंडिया से बुरहानपुर आती-जाती हैं।

चार महीने पहले ही बनाई थी अस्थायी पुलिया

रोड निर्माण कंपनी ने आवाजाही के लिए यहां करीब चार महीने पहले अस्थायी पुलिया बनाई थी। करीब 15-20 दिन पहले भी बारिश के कारण अस्थायी पुलिया का कुछ हिस्सा बह गया था। इससे पुलिया धंस गई थी। बाद में गिट्‌टी डालकर इसकी मरम्मत की गई थी। बुधवार रात बारिश के कारण पहले पुलिया की साइड की मिट्‌टी बही। इसके बाद गिट्‌टी बहने के कारण पाइप भी धंस गए और यहां से आवाजाही पूरी तरह बंद हो गई। वाहन चालक कैलाश चौहान, मोहम्मद सलीम, इब्राहिम और मुकेश चौहान सहित कई लोग यहां परेशान होते रहे। सभी ने रोड और पुलियाओं का निर्माण जल्द पूरा करने की मांग की है।

क्षतिग्रस्त पुलिया से मलबा हटाती जेसीबी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें