• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Chhatarpur News
  • भितरघात से चिंतित बावरिया बोले : छोटे कार्यकर्ता का सम्मान करें, वोट दिलाएगा नहीं, तो काटेगा भी नहीं
--Advertisement--

भितरघात से चिंतित बावरिया बोले : छोटे कार्यकर्ता का सम्मान करें, वोट दिलाएगा नहीं, तो काटेगा भी नहीं

डेरा पहाड़ी में शनिवार को कांग्रेस सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:15 AM IST
डेरा पहाड़ी में शनिवार को कांग्रेस सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व मध्यप्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया छतरपुर पहुंचे थे। जिन्होंने कांग्रेसियों को छोटे कार्यकर्ता का सम्मान करने की हिदायत दी। वहीं पन्ना पहुंचकर श्री बाबरिया ने दलित के यहां भोजन कर कहा कि नफरत की राजनीति के खिलाफ सामाजिक समरसता को मजबूत करेगी कांग्रेस। डेरा पहाड़ी में सम्मेलन के दौरान जिलेभर के कांग्रेसी पदाधिकारी और कार्यकर्ता पहुंचे थे। इस दौरान किडनी से पीड़ित अंशुल गुप्ता की मदद के लिए दान पात्र रखा गया, जिसमें सभी कांग्रेसियों ने अपना सहयोग दिया। इसके पहले छतरपुर प्रवेश के दौरान ही कांग्रेस सेवा दल ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया।

बागियों और भितरघातियों से निपटने के लिए कांग्रेस पार्टी रणनीति बना रही है। सोच-समझकर जनता के सर्वे और कार्यकर्ताओं की राय से कांग्रेस प्रत्याशियों का चयन किया जाएगा। इस बात का ऐलान कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने डेरा पहाड़ी छतरपुर में आयोजित कांग्रेस के सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में अभी तक जो भितरघात की जा रही थी और प्रत्याशी के विरोध में बागी प्रत्याशी आ जाते थे। इससे निपटने के लिए भी पूरी तरह से रणनीति बनाई गई है। प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने भाजपा की दमनकारी नीतियों का भी चिट्ठा खोला।

रामदास जाटव के यहां हुआ रात्रि भोज : महासचिव और प्रदेश प्रभारी श्री बाबरिया ने पन्ना में धाम मोहल्ला की दलित बस्ती में स्थित रामदास जाटव के घर पर रात्रि भोज किया। श्री बावरिया ने कहा कि कांग्रेस पार्टी शुरू से ही आदिवासी, दलित, पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यकों की सच्ची हितैषी रही है। इन कमजोर वर्गों के सम्मान और उत्थान के लिए कांग्रेस पार्टी की सरकारों ने आरक्षण समेत कई महत्वपूर्ण प्रावधान करते हुए विशेष योजनाएं और कार्यक्रम लागू किए है। उन्होंने कहा कि सत्ता की भूखी भारतीय जनता पार्टी आज समाज के विभिन्न वर्गों को जाति और धर्म के नाम पर बांटने की घिनौनी राजनीति कर रही है। उसे समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान से कोई सरोकार नहीं है। केंद्र में जब से नरेंद्र मोदी की सरकार आई है, तब से लगातार देश भर में दलितों-आदिवासियों, अल्पसंख्यकों और गरीब-मजदूरों पर अत्याचार बढ़ा है। भगवाधारी भाजपा के गुंडे कानून और संविधान को ताक पर रखकर सरेआम देश में भय व अराजकता फैला रहे है। वहीं दूसरी तरफ आरएसएस और भाजपा के शीर्ष नेताओं के इशारे पर समाज के वंचित, कमजोर और पिछड़े वर्गों के सशक्तिकरण के खिलाफ लगातार निर्णय लिए जा रहे है। देश के बहुसंख्यकों के खिलाफ भाजपा की इस साजिश को कांग्रेस पार्टी किसी भी सूरत में सफल नहीं होने देगी।

छतरपुर। मेडिकल कॉलेज की मांग को लेकर चल रहे धरना स्थल पर पहुंचे।

सरकार पर साधा निशाना

प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने कहा कि सरकार द्वारा झूठी घोषणाएं की जा रही हैं, प्रशासनिक अधिकारियों पर सरकार का दबाव नहीं है। मुख्यमंत्री घोषणावीर और जुमलेबाज हैं, उन्होंने कहा कि सभी कार्यकर्ता एकजुट हों और छोटे कार्यकर्ताओं का सम्मान करें, ऐसा करने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में असंतोष नहीं रहेगा। यदि छोटा कार्यकर्ता वोट नहीं दिला सकता, तो वह आपका वोट भी नहीं काटेगा। इस अवसर पर मेडिकल कॉलेज संघर्ष समिति के सदस्य भी उनसे मिले और अपनी मांग रखी जिसका प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने समर्थन किया। इसके पहले छतरपुर आने पर ग्राम बृजपुरा में ढोल-नगाड़ों और अतिशबाजी के साथ प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया का स्वागत किया गया। सम्मेलन में पूर्व मंत्री राजा पटेरिया, चंद्रिका प्रसाद द्विवेदी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आलोक चतुर्वेदी, पूर्व विधायक मुन्ना राजा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोज त्रिवेदी, आबिद सिद्दीकी मौजूद रहे। बृजपुरा में स्वागत के दौरान मंडी उपाध्यक्ष भवानीदीन मिश्रा के नेतृत्व में सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया।