• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Chhatarpur News
  • वैश्यावृत्ती कराने की शिकायत लेकर कोतवाली पहुंची युवती ने टीआई और आरक्षक पर भी लगाए आरोप
--Advertisement--

वैश्यावृत्ती कराने की शिकायत लेकर कोतवाली पहुंची युवती ने टीआई और आरक्षक पर भी लगाए आरोप

एसपी से शिकायत करने के बाद युवती ढाबा संचालक के साथ बुधवार को टीआई पर मामला दर्ज करने पहुंची थी थाने भास्कर...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:25 AM IST
एसपी से शिकायत करने के बाद युवती ढाबा संचालक के साथ बुधवार को टीआई पर मामला दर्ज करने पहुंची थी थाने

भास्कर संवाददाता| छतरपुर

सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में टौरिया मोहल्ले की एक युवती ने 27 फरवरी को मोहल्ले के एक युवक द्वारा मारपीट कर जबरन वैश्यावृत्ति कराने की शिकायत की है। दूसरे दिन यह युवती थाना पुलिस द्वारा दबाव बनाकर ढाबा संचालक पर दुष्कर्म का झूठा मामला दर्ज करने के मामले को लेकर सिटी कोतवाली टीआई और एक आरक्षक पर मामला दर्ज कराने पहुंच गई।

पुलिस ने उसे बैरंग लौटा दिया। शुक्रवार की देर रात यह युवती अकेले कोतवाली पहुंची और टौरिया मोहल्ले के युवक पर मारपीट कर जबरन वैश्यावृत्ति कराने का मामला दर्ज कराया है। टौरिया मोहल्ले का असलम नट पिछले दो सालों से एक युवती को अपने पास रखकर जबरन उससे वैश्यावृत्ति करा रहा था। न करने पर वह उसके साथ मारपीट करता था। 26 फरवरी को सिटी कोतवाली पुलिस ने उसे अवैध कट्‌टे के साथ गिरफ्तार कर लिया। इस बात का फायदा उठाते हुए यह युवती 27 को एसपी कार्यालय पहुंची और उसने टौरिया मोहल्ले के असलम नट पर जबरन साथ रखकर वैश्यावृत्ति कराने और न करने पर मारपीट करने की शिकायत एसपी विनीत खन्ना से की। 28 फरवरी को यह युवती थाने पहुंची और टीआई केके खनेजा और आरक्षक धर्मेंद्र चतुर्वेदी पर आरोप लगाते हुए बोली कि इन लोगों ने मुझ पर दबाव बनाकर एक साल पहले ढाबा संचालक अरविंद पचौरी पर दुष्कर्म का झूठा मामला दर्ज करा दिया था। इस पर कोतवाली टीआई और आरक्षक पर मामला दर्ज किया जाए। इसी बीच सीएसपी राकेश शंखवार वहां पहुंच गए और उन्होंने वहां से युवती को लौटा दिया।

वैश्यावृत्ति करवाने के आरोप

शुक्रवार की देर रात 9 बजे अचानक यह युवती अकेले कोतवाली पहुंची। युवती ने टाैरिया मोहल्ले के असलम नट के शारीरिक शोषण और जबरन वैश्यावृत्ति करवाने के आरोप लगाते हुए उस पर मामला दर्ज कराया। कोतवाली टीअाई ने बताया कि युवती की शिकायत पर असलम नट पर 376/2, 365, 506 आईपीसी के तहत शिकायत दर्ज कर, मामले की जांच शुरू कर दी गई है। इस दौरान युवती ने बताया कि ढाबा संचालक पर मैने एक साल पहले दुष्कर्म करने का मामला दर्ज करवाया था। इस मामले को सुलझाने ने लिए ढ़ाबा संचालक उसे डरा धमका रहा था। इसलिए में 28 फरवरी बुधवार को उनके साथ आ गई थी। मुझे आज जैसे ही वहां से भागने का मौका मिला में सीधे कोतवाली पहुंच गई।