--Advertisement--

6 पदों पर आए 17 आवेदनों की जांच करने के लिए बनी समिति निरस्त

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय छतरपुर द्वारा प्रोफेसरों के 6 पदों पर नियुक्ति करने के लिए आवेदन...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:40 AM IST
महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय छतरपुर द्वारा प्रोफेसरों के 6 पदों पर नियुक्ति करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे। इसमें 17 आवेदकों ने ऑनलाइन आवेदन भरे है। यूनिवर्सिटी द्वारा आवेदनों का डाउनलोड कर लिया गया है। अब इन 17 आवेदनों की स्कूटनी यानि छानबीन की जानी है, जिसके लिए यूनिवर्सिटी ने एक महाराजा कॉलेज प्राचार्य डॉ एलएल कोरी की अध्यक्षता में छानबीन समिति बनाई थी, लेकिन अब यूनिवर्सिटी ने इस समिति को निरस्त करते हुए नई समिति बनाने को कहा है।

गौरतलब है कि यूनिवर्सिटी द्वारा छानबीन समिति में महाराजा कॉलेज के प्राचार्य डॉ एलएल कोरी को अध्यक्ष बनाया गया था और प्राचार्य डॉ. कोरी पर लोकायुक्त पुलिस भोपाल द्वारा जा.प्र.994/17 प्रकरण दर्ज किया गया है। इस मामले को लेकर दैनिक भास्कर ने प्रमुखता से समाचार का प्रकाशित किया। इसके बाद महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विवि के कुलपति डॉ प्रियव्रत शुक्ल ने समाचार को संज्ञान में लेते हुए तत्काल ही इस समिति को भंग कर दिया। यूनिवर्सिटी के कुलसचिव डॉ एलएल सोलंकी का कहना है कि समिति को भंग कर दिया गया है।

यह भर्ती प्रक्रिया है, इसमें दागी या आरोपों में फंसे सदस्याें को शामिल नहीं किया जाएगा। निष्पक्ष भर्ती प्रक्रिया के लिए हम अब अलग से समिति का गठन करेंगे। फिलहाल इस समिति को निरस्त किया गया है। इसमें एक प्रोफेसर डॉ बीएस राजपूत, जो 31 मार्च 18 को महाराजा कॉलेज से सेवानिवृत्त हो चुके है, उन्हें भी शामिल कर लिया गया था। इसलिए यह पूरी समिति निरस्त की गई है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..