• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Chhatarpur
  • Chhatarpur - खाली हाथ यूनिवर्सिटी भवन निर्माण का शिलान्यास, अब तक नहीं मिला बजट, कुलपति बोले: 41 करोड़ रुपए जल्दी मिल जाएगा
--Advertisement--

खाली हाथ यूनिवर्सिटी भवन निर्माण का शिलान्यास, अब तक नहीं मिला बजट, कुलपति बोले: 41 करोड़ रुपए जल्दी मिल जाएगा

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी ने भले ही शासन को यूनिवर्सिटी निर्माण को लेकर डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 02:36 AM IST
Chhatarpur - खाली हाथ यूनिवर्सिटी भवन निर्माण का शिलान्यास, अब तक नहीं मिला बजट, कुलपति बोले: 41 करोड़ रुपए जल्दी मिल जाएगा
महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी ने भले ही शासन को यूनिवर्सिटी निर्माण को लेकर डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) भेज दी हो, लेकिन अब तक यूनिवर्सिटी को हासिल कुछ भी नहीं हुआ है। फिर भी 29 सितंबर 18 को शिलान्यास करने की तैयारी है। यानि खाली हाथ ही आधारशिला रख दी जाएगी और फिर आचार संहिता लगने के बाद कार्य स्थिर हो जाएगा। मतलब साफ है कि यह चुनावी नजरिये से देखा जा रहा है और सीएम शिवराज सिंह चौहान इस शिलान्यास कार्यक्रम में आ रहे हैं।

गौरतलब है कि 18 एकड़ जमीन में महज 5 बिल्डिंगें बनाई जानी है, जिसमें प्रशासनिक भवन, शैक्षणिक भवन, बाउंड्रीवॉल, रेसीडेंटल कॉलोनी, हॉस्टल का निर्माण किया जाना है। इसमें 144 पेजों का 150 करोड़ रुपए का डीपीआर बनाकर भेजा गया था, जिसमें अब तक स्वीकृति नहीं मिली है। अभी यूनिवर्सिटी शिलान्यास कराने की तैयारी में जोरों पर जुटी है। यूनिवर्सिटी द्वारा कुछ निर्माण भी उस जमीन पर करा दिया गया, जिससे कि वहां कार्यक्रम हो सके। यूनिवर्सिटी की लेटलतीफी का परिणाम अब भुगतना पड़ रहा है। तीन सालाें में तो महज डीपीआर बन पाया और वह भी आधा अधूरा। अब यूनिवर्सिटी की लापरवाही पर सवाल उठ रहे है।

कुलपति बोले: मिलेंगे 41 करोड़ रुपए

कुलपति प्रो. प्रियव्रत शुक्ल का कहना है कि डीपीआर तो 150 करोड़ रुपए का भेजा गया था, लेकिन इसमें प्रथम किश्त के रुप में 41 करोड़ रुपए मिलने है। जाे प्राथमिक स्तर पर उसकी कार्रवाई पूरी हो गई। अब प्रमुख सचिव के यहां से फाइल होने के बाद 41 करोड़ रुपए हासिल होंगे, जिसमें दो बिल्डिंगें हाल ही में बनाई जाएगी। इसके बाद द्वितीय और अंतिम किश्त दी जाएगी।

एक नजर में समझे नक्शा : डीपीआर में यह नक्शा यूनिवर्सिटी द्वारा संलग्न कर भोपाल भेजा गया है। इसमें 418 एकड़ जमीन का यह पूरा नक्शा बनाया गया है, जिसमें जहां पर हरे कलर से रंग भरा हुआ है, वहां पर बिल्डिंग बननी है, बाकी जगह पूरी खाली रहेगी और चारों तरफ बाउंड्रीवॉल रहेंगी। इसमें दोनों तरफ से दो गेट होंगे। इसमें रास्ता बताया गया है। वहीं खाली जगह भी छोड़ी गई है। इसमें सफेद कलर भरा हुआ है।

भास्कर संवाददाता | छतरपुर

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी ने भले ही शासन को यूनिवर्सिटी निर्माण को लेकर डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) भेज दी हो, लेकिन अब तक यूनिवर्सिटी को हासिल कुछ भी नहीं हुआ है। फिर भी 29 सितंबर 18 को शिलान्यास करने की तैयारी है। यानि खाली हाथ ही आधारशिला रख दी जाएगी और फिर आचार संहिता लगने के बाद कार्य स्थिर हो जाएगा। मतलब साफ है कि यह चुनावी नजरिये से देखा जा रहा है और सीएम शिवराज सिंह चौहान इस शिलान्यास कार्यक्रम में आ रहे हैं।

गौरतलब है कि 18 एकड़ जमीन में महज 5 बिल्डिंगें बनाई जानी है, जिसमें प्रशासनिक भवन, शैक्षणिक भवन, बाउंड्रीवॉल, रेसीडेंटल कॉलोनी, हॉस्टल का निर्माण किया जाना है। इसमें 144 पेजों का 150 करोड़ रुपए का डीपीआर बनाकर भेजा गया था, जिसमें अब तक स्वीकृति नहीं मिली है। अभी यूनिवर्सिटी शिलान्यास कराने की तैयारी में जोरों पर जुटी है। यूनिवर्सिटी द्वारा कुछ निर्माण भी उस जमीन पर करा दिया गया, जिससे कि वहां कार्यक्रम हो सके। यूनिवर्सिटी की लेटलतीफी का परिणाम अब भुगतना पड़ रहा है। तीन सालाें में तो महज डीपीआर बन पाया और वह भी आधा अधूरा। अब यूनिवर्सिटी की लापरवाही पर सवाल उठ रहे है।

कुलपति प्रो. प्रियव्रत शुक्ल का कहना है कि डीपीआर तो 150 करोड़ रुपए का भेजा गया था, लेकिन इसमें प्रथम किश्त के रुप में 41 करोड़ रुपए मिलने है। जाे प्राथमिक स्तर पर उसकी कार्रवाई पूरी हो गई। अब प्रमुख सचिव के यहां से फाइल होने के बाद 41 करोड़ रुपए हासिल होंगे, जिसमें दो बिल्डिंगें हाल ही में बनाई जाएगी। इसके बाद द्वितीय और अंतिम किश्त दी जाएगी।

एक नजर में समझे नक्शा : डीपीआर में यह नक्शा यूनिवर्सिटी द्वारा संलग्न कर भोपाल भेजा गया है। इसमें 418 एकड़ जमीन का यह पूरा नक्शा बनाया गया है, जिसमें जहां पर हरे कलर से रंग भरा हुआ है, वहां पर बिल्डिंग बननी है, बाकी जगह पूरी खाली रहेगी और चारों तरफ बाउंड्रीवॉल रहेंगी। इसमें दोनों तरफ से दो गेट होंगे। इसमें रास्ता बताया गया है। वहीं खाली जगह भी छोड़ी गई है। इसमें सफेद कलर भरा हुआ है।

X
Chhatarpur - खाली हाथ यूनिवर्सिटी भवन निर्माण का शिलान्यास, अब तक नहीं मिला बजट, कुलपति बोले: 41 करोड़ रुपए जल्दी मिल जाएगा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..