बड़वानी : 5 प्रतिष्ठानों से 2.70 करोड़ रुपए की अघोषित आय का खुलासा

Chhatarpur News - आयकर सर्वे का संयुक्त आयुक्त वीजे बोरिचा ने शनिवार सुबह रेस्ट हाउस पर अघोषित आय का खुलासा किया। प्रेस कांफ्रेंस...

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 07:21 AM IST
DEREE News - mp news barwani disclosure of undisclosed income of rs 270 crore from 5 establishments
आयकर सर्वे का संयुक्त आयुक्त वीजे बोरिचा ने शनिवार सुबह रेस्ट हाउस पर अघोषित आय का खुलासा किया। प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने बताया 5 प्रतिष्ठानों से 2.70 करोड़ रुपए की अघोषित आय पकड़ी है। मार्च तक उन्हें राशि जमा कराना होगी। वहीं एक फर्म के दस्तावेज जब्त कर संचालक को कार्यालय में जाकर जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

इंदौर व खंडवा रेंज के आयकर विभाग के 30 अफसरों की टीम ने शनिवार दोपहर 12 बजे से शहर में 6 प्रतिष्ठानों पर आयकर सर्वे की कार्रवाई शुरू की थी। 5 प्रतिष्ठानों पर सर्वे की प्रक्रिया देर रात पूरी हो गई थी। जबकि महामृत्युंजय अस्पताल में दोपहर 1 बजे तक कार्रवाई चली। बोरिचा ने बताया आनंदवर्धिनी ज्वेलर्स के यहां से 40 लाख रुपए, सतपुड़ा बिल्डर्स व अकबर अली मशीनरी मार्ट से डेढ़ करोड़ रुपए, अशरफी स्टील 30 लाख रुपए की अघोषित आय पकड़ी है। महामृत्युंजय अस्पताल से 50 लाख रुपए की अघोषित आय का खुलासा हुआ है। मनोरम डेवलपर्स के दस्तावेज जब्त किए हैं।

उन्होंने बताया प्रतिष्ठानों के बुक्स व विभाग को जमा किए रिकॉर्ड की जांच में अघोषित आय का खुलासा हुआ है। बोरिचा सहित डिप्टी कमिश्नर जगत सोलंकी, जिला आयकर अधिकारी युवराज ठाकुर, शिवप्रकाश शर्मा, असीम पाल, विपिन गुप्ता, ओम मीणा, अभिषेक मिश्रा सहित खरगोन, खंडवा, बुरहानपुर, सेंधवा व इंदौर के अफसरों ने कार्रवाई की।

आयकर सर्वे : निजी अस्पताल में 25 घंटे चली कार्रवाई

सिटी सर्विलांस के कैमरों से प्रदेशभर में नजर रखे थे डीजीपी

भोपाल | पुलिस मुख्यालय के स्टेट सर्विलांस रूम (एसएसआर) में पुलिस महानिदेशक विजय कुमार सिंह और एडीजी इंटेलीजेंस एसडब्ल्यू नकवी अपनी टीम के साथ शनिवार की सुबह लगभग 8.30 बजे पहुंच गए थे। सिटी सर्विलांस के कैमरों से वीडियो वाॅल पर वे प्रदेशभर की स्थिति का जायजा लेते रहे। भीड़ जमा होने या उत्सव मनाने की सूचना मिलते ही उन्होंने तत्काल संबंधित जिले के एसपी एवं अन्य अफसरों से बात कर उन्हें दिशा निर्देश भी दिए। डीजीपी सिंह का कहना है सात-आठ स्थानों पर लोगों द्वारा आतिशबाजी की सूचना मिलने पर तुरंत फोर्स को भेजकर उन्हें रोका गया था। स्थिति शांतिपूर्ण है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस पिछले 15 दिन से लगी है। सभी धर्मों के लोगों से लगातार बातचीत की जा रही है। पुलिस की डायल-100 एफआरवी और सिटी सर्विलांस से काफी मदद मिली है। सोशल मीडिया पर सख्ती की गई है, जिस कारण अफवाहें नहीं फैलीं। अफसरों को कहा है वे सभी लोगों से लगातार बातचीत करते रहें।

पेज 1 के शेष

माेदी बाेले- 550वें प्रकाश पर्व पर दाेहरी खुशी मिली, इमरान खान का अभिनंदन...

करतारपुर में इमरान खान ने भारतीय श्रद्धालुओं के पहले जत्थे का स्वागत किया। कॉरिडोर के उद्घाटन भाषण में प्रधानमंत्री माेदी ने कहा कि इंटीग्रेटेड चेकपाेस्ट, करतारपुर साहिब कॉरिडोर का खुलना हम सभी के लिए दोहरी खुशी लेकर आया है। माेदी ने कहा कि कॉरिडोर को कम वक्त में तैयार करने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान नियाजी को धन्यवाद देता हूं। उन्होंने हजारों भारतीयों की भावना काे समझा अाैर उसका सम्मान किया। उनका अभिनंदन। मैं पाकिस्तान के श्रमिक साथियों का भी आभार व्यक्त करता हूं, जिन्होंने इतनी तेजी से अपनी तरफ के कॉरिडोर को पूरा करने में मदद की। 4 किमी लंबे कॉरिडोर का निर्माण काम 11 महीने में पूरा हुआ है।

बर्लिन की दीवार गिर सकती है, ताे एलओसी भी खत्म हाे सकती है - कुरैशी : उद्घाटन समारोह में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कश्मीर मुद्दे का जिक्र करते हुए कहा, “अगर बर्लिन की दीवार गिराई जा सकती है। करतारपुर कॉरिडोर खाेला जा सकता है, ताे फिर नियंत्रण रेखा पर अस्थाई सीमा काे भी खत्म किया जा सकता है।’ उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोगों से किए गए आत्म निर्णय के अधिकार के वादे को भी पूरा किया जा सकता है। इससे पहले शुक्रवार काे कुरैशी ने इसे “काॅरिडाेर अाॅफ लव’ बताया था।

इमरान ने सिखों का दिल जीत लिया है -सिद्धू : कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि इमरान ने करतारपुर कॉरिडोर खाेलकर सिखाें का दिल जीत लिया है। 72 साल में सिखों की आवाज किसी ने नहीं सुनी। हर प्रधानमंत्री अपना नफा-नुकसान देखता रहा। इमरान खान वह सिकंदर हैं, जो लोगों के दिलों पर राज करते हैं। उनका दिल समंदर जितना बड़ा है। उन्होंने सिखों की इच्छा को पूरा कर दिया है। सिख कौम को इमरान को उस स्तर पर ले जाना है, जहां तक किसी की सोच भी नहीं जा सकती।

पहले जत्थे में ये प्रमुख लाेग शामिल रहे : पहले जत्थे में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन िसंह, अकाल तख्त के जत्थेदार हरप्रीत िसंह, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर िसंह, पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, सुखबीर सिंह बादल, हरसिमरत काैर बादल अाैर पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के साथ ही शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सभी सदस्य, पंजाब के सभी 117 विधायक अाैर सांसद शामिल थे।

रूट पर जल्द बसें मिल सकें, इसलिए ऑनलाइन होगी परमिट व्यवस्था

भोपाल | परिवहन विभाग द्वारा अब यात्री वाहनों के परमिट ऑनलाइन दिए जाएंगे। इससे जहां परमिट प्रक्रिया में देरी नहीं हो सकेगी, वहीं समय सीमा में यात्रियों को विभिन्न स्थानों के लिए यात्री गाड़ियां उपलब्ध होने लगेंगी। इसके अलावा छोटे यात्री वाहनों में व्हीकल ट्रैकिंग डिवाइस लगाने की प्रक्रिया शुरू करने से पहले उनकी निगरानी के लिए राज्य स्तरीय कमांड एंड कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। इसका संचालन सी-डैक के माध्यम से किया जाएगा। ट्रांसपोर्ट कमिश्नर बी. मधु कुमार ने बताया कि राज्य सरकार स्तर पर निर्णय के बाद प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा।

हाल ही में परिवहन विभाग की बैठक में कुछ निर्णय लिए गए हैं। उनमें सबसे महत्वपूर्ण निर्णय यह है कि परमिट प्रक्रिया के आवेदन से लेकर ऑपरेटर को ऑनलाइन ही दिया जाएगा। इससे अन्य ऑपरेटरों को ऑनलाइन ही रूट से लेकर अन्य वे जानकारियां दिखाई देने लगेंगी, जिनके बारे में जानकारी न होने पर वे आपत्ति लगाकर प्रक्रिया में देरी कर देते हैं। इतना ही नहीं कुछ ऑपरेटरों द्वारा रूट निर्धारित होने से पहले ही उसकी जानकारी देने संबंधी आवेदन लगा दिए जाते हैं, जिससे प्रक्रिया में देरी हो जाती है और यात्रियों को समय से यात्री वाहन उपलब्ध नहीं हो पाते। इन्हीं पर रोक लगाने के लिए प्रक्रिया को पूरी तरह पारदर्शी बनाने परमिट के आवेदन से लेकर अलॉटमेंट तक ऑनलाइन किया जाएगा।

X
DEREE News - mp news barwani disclosure of undisclosed income of rs 270 crore from 5 establishments
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना