श्रद्धा-भाव के साथ भक्तों ने किया गणपति बप्पा को विदा

Chhatarpur News - शहर में जगह-जगह पंडालों में विराजमान गणेश भगवान का गुरुवार को भक्तो के द्वारा उत्सुकता पूर्वक उनका विसर्जन किया...

Bhaskar News Network

Sep 13, 2019, 07:00 AM IST
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
शहर में जगह-जगह पंडालों में विराजमान गणेश भगवान का गुरुवार को भक्तो के द्वारा उत्सुकता पूर्वक उनका विसर्जन किया गया। इस दौरान गणपति बब्बा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आ डीजे की धुन रंग-गुलाल उड़ाते हुए युवा-युवतियां नजर आए। इसके साथ ही शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिमाओं के विसर्जन को लेकर प्रशासन चौकन्ना रहा। गणेश चतुर्थी से प्रारंभ गणेश उत्सव भक्तो के द्वारा उमंग और खुशी के साथ मनाया गया। आज जिला प्रशासन ने प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए नदियों और बूढा बांध स्थल पर पुलिस और रेस्क्यू टीम तैनात की गई। इसके चलते सुबह 10 बजे से गणेश प्रतिमाओं की विसर्जन का सिलसिला प्रारंभ हुआ जो देर शाम तक चलता रहा।

बूढ़ा बांध में बनाया गया विसर्जन के लिए कुंड:पन्ना रोड स्थित बूढ़ा बांध में प्रशासन के द्वारा मूर्ति विसर्जन के लिए कृत्रिम कुंड बनाया गया। इससे पूरे बांध का पानी गंदा न हो। इस कुंड में हवन सामग्री और मूर्तियों का विसर्जन कराया गया।

श्यामरी अाैर काठन नदी में हुअा प्रतिमाओं का विसर्जन : बड़ामलहरा। गणेशोत्सव के अंत में अनंत चुतर्दशी के दिन प्रशासन की चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के बीच सिद्धि विनायक भगवान गणेश की प्रतिमाओं का विसर्जन नदी के घाटों पर किया गया। गणेश भक्तों ने प्रशासन द्वारा निर्धारित किए गए विसर्जन स्थल पर आस्था और श्रद्धा के साथ पूजा अर्चना करते हुए गणपति बप्पा को विदा किया।

इस अवसर पर श्यामरी नदी, काठन नदी व धसान नदी में विसर्जन के दौरान एसडीएम एन आर गौड़, तहसीलदार केके गुप्ता, एसडीओपी आर आर साहू, थाना प्रभारी एस के दुबे अपने राजस्व व पुलिस दल बल व एनडीआरएफ टीम के साथ तैनात रहे। किसी भी अप्रिय वारदात से निबटने के लिए चौकस नजर आए।

छतरपुर। बूढ़ा बांध में बनाया गया कृत्रिम कुंड। गणपति भगवान की पूजन अर्चना कर प्रताप सागर तालाब में विसर्जन करने पहुंचे श्रृद्धालु। बड़ामलहरा। विसर्जन करते हुए बच्चे।

छतरपुर। पन्ना रोड स्थित गर्ल्स छात्रावास की छात्राएं उत्सुकता पूर्वक गणेश विसर्जन करते हुए।

भास्कर संवाददाता। छतरपुर

शहर में जगह-जगह पंडालों में विराजमान गणेश भगवान का गुरुवार को भक्तो के द्वारा उत्सुकता पूर्वक उनका विसर्जन किया गया। इस दौरान गणपति बब्बा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आ डीजे की धुन रंग-गुलाल उड़ाते हुए युवा-युवतियां नजर आए। इसके साथ ही शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिमाओं के विसर्जन को लेकर प्रशासन चौकन्ना रहा। गणेश चतुर्थी से प्रारंभ गणेश उत्सव भक्तो के द्वारा उमंग और खुशी के साथ मनाया गया। आज जिला प्रशासन ने प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए नदियों और बूढा बांध स्थल पर पुलिस और रेस्क्यू टीम तैनात की गई। इसके चलते सुबह 10 बजे से गणेश प्रतिमाओं की विसर्जन का सिलसिला प्रारंभ हुआ जो देर शाम तक चलता रहा।

बूढ़ा बांध में बनाया गया विसर्जन के लिए कुंड:पन्ना रोड स्थित बूढ़ा बांध में प्रशासन के द्वारा मूर्ति विसर्जन के लिए कृत्रिम कुंड बनाया गया। इससे पूरे बांध का पानी गंदा न हो। इस कुंड में हवन सामग्री और मूर्तियों का विसर्जन कराया गया।

श्यामरी अाैर काठन नदी में हुअा प्रतिमाओं का विसर्जन : बड़ामलहरा। गणेशोत्सव के अंत में अनंत चुतर्दशी के दिन प्रशासन की चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के बीच सिद्धि विनायक भगवान गणेश की प्रतिमाओं का विसर्जन नदी के घाटों पर किया गया। गणेश भक्तों ने प्रशासन द्वारा निर्धारित किए गए विसर्जन स्थल पर आस्था और श्रद्धा के साथ पूजा अर्चना करते हुए गणपति बप्पा को विदा किया।

इस अवसर पर श्यामरी नदी, काठन नदी व धसान नदी में विसर्जन के दौरान एसडीएम एन आर गौड़, तहसीलदार केके गुप्ता, एसडीओपी आर आर साहू, थाना प्रभारी एस के दुबे अपने राजस्व व पुलिस दल बल व एनडीआरएफ टीम के साथ तैनात रहे। किसी भी अप्रिय वारदात से निबटने के लिए चौकस नजर आए।

छतरपुर। घर पर पानी के टब में गणपति विसर्जन करते हुए।

तालाब में मूर्ति विसर्जित करने पहुंचे गौरव गोस्वामी और उनका परिवार।

अगले बरस जल्दी आने की कामना के साथ किया मूर्तियों का विसर्जन

राजनगर। राजनगर और आसपास के ग्रामों में जगह जगह गणेश जी की मूर्ति श्रद्धालुओं द्वारा रखीं गई थी। श्रद्धालुओं द्वारा लगातार विसर्जन पूर्व अनेकों कार्यक्रम किए गए थे। गणेश की की मूर्ति का विसर्जन, राजनगर के आसपास के ग्रामों के श्रद्धालुओं द्वारा कुटने पोषक जलाशय में किया गया।

राजनगर तहसील में अनुविभागीय अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े महाराष्ट्रीयन हैं और महाराष्ट्र में गणेश जी की मूर्ति रख कर उनका विसर्जन करना एक विशेष परंपरा है। उसी परंपरा का पालन करते हुए उन्होंने तहसील प्रांगण में ही मिट्टी से निर्मित गणेश जी की मूर्ति रखी गई थी। जिसमें प्रति रात्रि कार्यक्रम आयोजित किए गए। उसी तरह से गणेश जी की मूर्ति का गुरुवार को खजवा के चौडाखेरा धाम के पास कुटने डेम में पूरे धार्मिक कार्यक्रम से विसर्जन किया गया। मूर्ति विसर्जन पूर्व ढोल नगाड़ों के साथ नृत्य, गुलाल लगा कर पूजन अर्चन के साथ मूर्ति का विसर्जन किया गया। कार्यक्रम में अनुविभागीय अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े, उनकी प|ी राधिका वानखेड़े, तहसीलदार वेदप्रकाश सिंह, नायब तहसीलदार मृगेंद्र बंदोपाध्याय, झाम सिंह, नायब तहसीलदार नीलू बाग़री , एडवोकेट आरके उपाध्याय, देवेंद्र सोनी, नरेश शुक्ला, आरके शुक्ला, खजवा सरपंच मोहनलाल अहिरवार, रामकिशुन पटेल, अस्सु बाबा, प्रवीण पटेरिया, मुन्ना अहिरवार, अंगत, योगेंद्र सिंह, लालजी तिवारी, लंकेश समेत अन्य दर्जनों लोग मौजूद रहे। राजनगर थाना प्रभारी आरपी चौधरी द्वारा सभी मूर्ति विसर्जन के मौके पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए।

राजनगर। मूर्ति विसर्जन करते हुए एसडीएम अाैर उनकी प|ी।

Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
X
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
Chhatarpur News - mp news devotees left ganpati bappa with reverence
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना