उड़द-मूंग में तेजी का वातावरण

Chhatarpur News - इंदौर | उड़द उत्पादक क्षेत्रों में लगातार हो रही वर्षा के बाद अब सर्वाधिक नुकसान की आशंका लगाई जाने लगी है। अब उड़द के...

Sep 13, 2019, 07:00 AM IST
इंदौर | उड़द उत्पादक क्षेत्रों में लगातार हो रही वर्षा के बाद अब सर्वाधिक नुकसान की आशंका लगाई जाने लगी है। अब उड़द के भावों में सुधार भी आने लगा है। मुंबई में एफएक्यू उड़द 200 रुपए सुधरकर 4550 रुपए बोला जाने लगा है। सागर, विदिशा, भोपाल, गंजबासौदा, छतरपुर, ललितपुर, मंदसौर, नीमच तरफ वर्षा से फसल को नुकसानी आए दिन बढ़ती जा रही है। मूंग में लेवाल बनने लगे हैं। मनोवृत्ति बदलने लगी है। मप्र में खरीफ में मूंग की फसल नहीं के समान होती है। राजस्थान में फसल जोरदार खड़ी है। कर्नाटक में मौसम साफ होने लगा है। इससे विशेष नुकसान नहीं है। तुअर की स्थिति खराब है। लेमन तुअर हल्की आ गई है। घरेलू बाजारों में भाव घट गए हैं। तुअर में बड़ी तेजी इसलिए भी नहीं है कि मिल, कंपनियां, स्टॉकिस्ट, नैफेड के पास मिलाकर 12-13 लाख टन का स्टॉक होगा। इस बार चाहे जिस फसल को नुकसान हो किंतु तुअर की जोरदार फसल उतरने वाली है। अफ्रीका से आने वाली तुअर सस्ती पड़ेगी। अनंत चतुर्दशी की वजह से संयोगितागंज मंडी में अवकाश रहा। निजी कारोबार में मूंग गर्मी का 5800 से 5900 नया 5500 से 5600 उड़द बेस्ट 5200 से 5300 चना 4200 से 4250 रुपए के आसपास भाव बताए गए।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना