बंद बोरी में खून से लतपथ मिला तीन घंटे पहले जन्मा शिशु, भर्ती कराया

Chhatarpur News - एक मां द्वारा अपने कलेजे के टुकड़े को मरने के लिए छोड़ दिया गया, लेकिन कहते हैं मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है।...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 04:02 AM IST
Naugaon News - mp news in the closed sack the baby was born three hours before the baby was born got admitted
एक मां द्वारा अपने कलेजे के टुकड़े को मरने के लिए छोड़ दिया गया, लेकिन कहते हैं मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है। नौगांव नगर के वार्ड नंबर 1 पिपरी में रात के अंधेरे में एक घर के बाहर बने चबूतरे पर नवजात शिशु को बोरी में लपेटकर फेंक गया। बच्चे के रोने की आवाज सुनकर मोहल्ले वालों ने बोरी खोलकर देखा उसके अंदर नवजात शिशु मिला, उसकी सांसें चल रही थीं। डायल 100 टीम ने बच्चे को बरामद कर पहले नौगांव अस्पताल लाई फिर नौगांव से जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। डॉक्टरों की देखरेख में शिशु वार्ड में बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है। हालांकि उसके मां बाप का पता नहीं चल सका है।

नगर के वार्ड नंबर 1 पिपरी में बनी मस्जिद के पास रहने वाले नेक मोहम्मद ने बताया कि मंगलवार-बुधवार की रात 2 बजे बाहर एक बच्चे के रोने की आवाज आ रही थी। सोचा किसी का बच्चा रो रहा होगा इस कारण से ध्यान नहीं दिया, लेकिन जब बच्चे के रोने की आवाज लगातार बंद नहीं हुई तो घर की महिलाओं ने बाहर जाकर देखा तो घर के बाहर बने चबूतरे पर एक बोरी पड़ी थी। इसमें से रोने की आवाज आ रही थी, जब बोरी को खोलकर देखा तो उसके अंदर एक नवजात शिशु मिला। इसके शरीर में लगा खून भी पूरी तरह से साफ न होकर सूख चुका था। तुरंत ही पड़ोसियों की मदद से इसकी सूचना डायल 100 पुलिस को दी गई। बच्चे को जिला अस्पताल के शिशु वार्ड में भर्ती करके इलाज किया जा रहा है। बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है, लेकिन अभी तक बच्चे के माता पिता का पता नहीं लग सका है।

डायल 100 पुलिस की मदद से नवजात शिशु को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सिविल सर्जन डाॅ. आरपी पांडेय का कहना है कि पुलिस ने करीब 3 बजे शिशु को बरामद किया है। बच्चे को देखकर अनुमान है कि पुलिस ने शिशु के जन्म के 3 से 4 घंटे के बाद ही बरामद कर लिया। अब बच्चा स्वस्थ है।

नौगांव। खून से लतपथ मिला नवाजात। इनसेट में अस्पताल में भर्ती किया

भास्कर संवाददाता| नौगांव

एक मां द्वारा अपने कलेजे के टुकड़े को मरने के लिए छोड़ दिया गया, लेकिन कहते हैं मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है। नौगांव नगर के वार्ड नंबर 1 पिपरी में रात के अंधेरे में एक घर के बाहर बने चबूतरे पर नवजात शिशु को बोरी में लपेटकर फेंक गया। बच्चे के रोने की आवाज सुनकर मोहल्ले वालों ने बोरी खोलकर देखा उसके अंदर नवजात शिशु मिला, उसकी सांसें चल रही थीं। डायल 100 टीम ने बच्चे को बरामद कर पहले नौगांव अस्पताल लाई फिर नौगांव से जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। डॉक्टरों की देखरेख में शिशु वार्ड में बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है। हालांकि उसके मां बाप का पता नहीं चल सका है।

नगर के वार्ड नंबर 1 पिपरी में बनी मस्जिद के पास रहने वाले नेक मोहम्मद ने बताया कि मंगलवार-बुधवार की रात 2 बजे बाहर एक बच्चे के रोने की आवाज आ रही थी। सोचा किसी का बच्चा रो रहा होगा इस कारण से ध्यान नहीं दिया, लेकिन जब बच्चे के रोने की आवाज लगातार बंद नहीं हुई तो घर की महिलाओं ने बाहर जाकर देखा तो घर के बाहर बने चबूतरे पर एक बोरी पड़ी थी। इसमें से रोने की आवाज आ रही थी, जब बोरी को खोलकर देखा तो उसके अंदर एक नवजात शिशु मिला। इसके शरीर में लगा खून भी पूरी तरह से साफ न होकर सूख चुका था। तुरंत ही पड़ोसियों की मदद से इसकी सूचना डायल 100 पुलिस को दी गई। बच्चे को जिला अस्पताल के शिशु वार्ड में भर्ती करके इलाज किया जा रहा है। बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है, लेकिन अभी तक बच्चे के माता पिता का पता नहीं लग सका है।

डायल 100 पुलिस की मदद से नवजात शिशु को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सिविल सर्जन डाॅ. आरपी पांडेय का कहना है कि पुलिस ने करीब 3 बजे शिशु को बरामद किया है। बच्चे को देखकर अनुमान है कि पुलिस ने शिशु के जन्म के 3 से 4 घंटे के बाद ही बरामद कर लिया। अब बच्चा स्वस्थ है।

Naugaon News - mp news in the closed sack the baby was born three hours before the baby was born got admitted
X
Naugaon News - mp news in the closed sack the baby was born three hours before the baby was born got admitted
Naugaon News - mp news in the closed sack the baby was born three hours before the baby was born got admitted
COMMENT