• Hindi News
  • Rajya
  • Madhya Pradesh
  • Chhatarpur
  • Chhatarpur News mp news no mobile network in kupi village taking advantage of the signals being received on the mountain the youth formed a whatsapp group now provide information

कुपी गांव में नहीं माेबाइल नेटवर्क; पहाड़ पर मिल रहे सिग्नल का फायदा उठाकर युवाओं ने बनाया एक वाट्सएप ग्रुप, अब सूचनाअांे का करते हैं अादान-प्रदान

Chhatarpur News - आदिवासी क्षेत्र किशनगढ़ के कुपी गांव में मोबाइल नेटवर्क काम नहीं करता। इससे ग्राम से बाहर रह रहे लोगों का अपने...

Nov 18, 2019, 07:06 AM IST
Chhatarpur News - mp news no mobile network in kupi village taking advantage of the signals being received on the mountain the youth formed a whatsapp group now provide information
आदिवासी क्षेत्र किशनगढ़ के कुपी गांव में मोबाइल नेटवर्क काम नहीं करता। इससे ग्राम से बाहर रह रहे लोगों का अपने परिजनों से दूरसंचार संपर्क नहीं हाे पाता है। कुछ दिनाें से गांव के पास एक पहाड़ पर एक निजी क्षेत्र की कंपनी के सिग्नल मिलने लगे हैं। अब एक इमरजेंसी नाम से वाट्सएप ग्रुप बनाकर गांव के युवा गांव तक लाेगाें की सूचनाअाें का अादान प्रदान करके मदद कर रहे हैं।

लाेगांे ने कुछ दिन गांव की पहाड़ी और ऊंचे स्थानों पर जाकर नेटवर्क तलाशा। गांव के बाहर देवी जी मंदिर और नाला के पास एक निजी माेबाइल कंपनी का नेटवर्क मिल रहा हे। गांव के कुछ युवाओं ने उस कंपनी की सिम लेकर उस गांव में जाकर बात करना शुरू की। युवाओं ने इस समस्या से निजात पाने की तरकीब सोची और “इमरजेंसी’’ नाम से एक वाट्सएप ग्रुप बनाया। इसमें गांव के युवाओं के साथ ही इसी गांव के लोग जो बाहर रहते हैं उन्हें शामिल किया। इस ग्रुप के माध्यम से गांव के लोगों की मदद शुरू की। इस वाट्स एप ग्रुप के माध्यम से दूर दराज रहने वाले लोगों की सूचनाओं का आदान प्रदान आसानी से हो जाता है।

ग्रुप में इन युवाओं को किया गया शामिल: ग्रुप में उमाशंकर यादव, राजेश यादव, गनेश सेन, राजेश सेन, राकेश यादव, अज्जू गुप्ता, अंकित सेन, टिंकू विश्वकर्मा, हरविंद्र यादव, सप्पू सोनी, अरविंद सोनी सहित पुलिस चौकी में तैनात कमलजीत सिंह, राजेश शर्मा भी शामिल हैं। ग्रुप की मदद से इसी गांव के रामगोपाल यादव, सिया राम यादव जो मुंबई मे रहते हैं अपने परिजनों के संपर्क में रहते हैं । छतरपुर मे रहने वाले संजय जैन भी ग्रुप की मदद से परिजनों के संपर्क मे रहते हैं।

चैटिंग, बधाई, शुभकामना संदेश पर है प्रतिबंध: इमरजेंसी ग्रुप के उमाशंकर यादव ने बताया कि इस ग्रुप में बधाई, शुभकामना संदेश, निजी चैटिंग प्रतिबंधित है, सदस्य इस नियम का पालन करते हैं। दिलीप गुप्ता ने बताया कि गांव के लोग बस पर सामान रखकर किसी के बिजावर जाने पर दवा या अन्य सामान मंगाने, बाहर जाने पर किसी कारण से वापस नहीं आने, किसी के बीमार आदि की जानकारी बाहर रहने वाले परिजनों तक पहुंचाने के लिए इसी ग्रुप की सहायता लेते हैं।

पहाड़ी पर पहुंचने पर मिले मैसेज से अवगत कराया जाता है

ग्रुप के दिलीप गुप्ता ने बताया कि इस ग्रुप मे शामिल लोग बाहर होने पर ग्रुप मे मैसेज डाल देते हैं कोई न कोई सदस्य नेट वर्क स्थल पर पहुंचता रहता है और मैसेज चैक कर संबंधित से बात करके घर सूचना देता है। ज़रुरत होने पर बात भी करवा देता है। इसके बाद उस सदस्य को उस ग्रुप मे बात हो जाने अथवा सूचना पहुंच जाने का मैसेज डालना पड़ता है।

X
Chhatarpur News - mp news no mobile network in kupi village taking advantage of the signals being received on the mountain the youth formed a whatsapp group now provide information
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना