नगरीय निकाय के बाद पंचायत चुनाव भी टलने के आसार

Chhatarpur News - भास्कर न्यूज | भोपाल. नगरीय निकाय के बाद अब पंचायत चुनाव के भी समय पर होने में संशय है। पंचायत चुनाव मार्च-2020 में होने...

Nov 11, 2019, 07:42 AM IST
भास्कर न्यूज | भोपाल. नगरीय निकाय के बाद अब पंचायत चुनाव के भी समय पर होने में संशय है। पंचायत चुनाव मार्च-2020 में होने हैं, लेकिन निकाय चुनाव के निर्धारित समय पर नहीं होने और नई मतदाता सूची के कारण उसके भी टलने के आसार हैं। राज्य निर्वाचन आयोग की प्राथमिकता निकाय चुनाव हैं। निकायों के परिसीमन कार्यक्रम के अनुसार नगर निगम के महापौर और नगर पालिका व नगर परिषद के अध्यक्ष पदों के आरक्षण के लिए 15 फरवरी तक का समय दिया गया है। इससे स्पष्ट है कि उससे पहले निकाय चुनाव नहीं होंगे। साथ ही 1 जनवरी से नई मतदाता सूची का काम शुरू होगा, चुनाव उसके आधार पर ही होंगे। इस काम में ही दो-तीन महीने का समय लगेगा।



अत: नगरीय निकाय चुनाव उसके बाद ही होंगे। निर्वाचन आयोग के सूत्रों के अनुसार इन चुनावों के बाद ही पंचायत चुनाव की बारी आएगी। इसके लिए तैयारी करने में भी कुछ समय लगेगा। पुलिस-प्रशासन आदि की व्यवस्था भी करना पड़ेगी। इस स्थिति में चुनाव समय पर कराया जाना संभव नहीं होगा।

22 हजार से ज्यादा ग्राम पंचायतें

प्रदेश में 22795 ग्राम पंचायत, 313 जनपद पंचायत और 52 जिला पंचायतों में चुनाव होना हैं। इसमें 843 जिला पंचायत सदस्य, 6816 जनपद पंचायत सदस्य, 22795 सरपंच और 363337 पंच चुने जाएंगे। पिछले चुनाव में करीब साढ़े तीन करोड़ मतदाता थे। इनके चुनाव के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष, जनपद पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष और उप सरपंचों का चुनाव भी चुनाव आयोग कराएगा।

हमारी तैयारी है

नगरीय निकाय व पंचायत चुनाव के लिए हम पूरी तरह तैयार हैं। इनका समय थोड़ा बहुत आगे-पीछे हो सकता है, लेकिन ज्यादा देरी नहीं होगी।

- बीपी सिंह, राज्य निर्वाचन आयुक्त

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना