• Hindi News
  • Mp
  • Chhatarpur
  • Chhatarpur News mp news the procession started without permission the administration stopped the palace and ended internet services remained closed

बगैर अनुमति शुरू हुआ जुलूस, प्रशासन ने महलों के पास रोककर कराया खत्म, इंटरनेट सेवाएं रहीं बंद

Chhatarpur News - शहर में भारी पुलिस बल रहा तैनात भास्कर संवाददाता | छतरपुर ईद मिलादुन्नबी के जुलूस को लेकर शहर में रविवार को...

Nov 11, 2019, 07:26 AM IST
शहर में भारी पुलिस बल रहा तैनात

भास्कर संवाददाता | छतरपुर

ईद मिलादुन्नबी के जुलूस को लेकर शहर में रविवार को भारी पुलिस बल तैनात रहा। रविवार को मुस्लिम समाज ने जुलूस की तैयारी की थी, लेकिन प्रशासन ने शनिवार की रात अनुमति निरस्त कर दी। प्रशासन के इस फैसले को लेकर मुस्लिम समाज के लोगों में आक्रोश रहा। रविवार को दाेपहर में मुस्किलकुशा मैदान से कुछ लोगों ने जुलूस शुरू कर दिया। बीच में अन्य लोगों की टोलियां भी शामिल होती गईं। प्रशासन ने इस जुलूस को महलों के पास रोक दिया। प्रशासन की समझाइश के बाद महलों पर ही जुलूस को खत्म कर दिया गया। वहीं छतरपुर में इंटरनेट सेवाएं बंद रहीं।

शहर के मुख्य बाजार, बस स्टैंड, छत्रसाल चौरहा, पुराना पन्ना नाका, पुरानी तहसील, नय मुहल्ला चौराहा पर भारी पुलिस बल तैनात रहा। इस दौरान पुलिस विभाग की ओर से लोगों की सुरक्षा के लिए एक प्वाइंट पर एक चार की गार्ड लगाई गई। महल तिराहा के बाद कलेक्टर मोहित बुंदस के आदेश के बाद यहां से जुलूस काे डायवर्ड कर दिया गया।

बस स्टैंड, जवाहर रोड, पन्ना रोड रहा सामान्य : फैसला आने के बाद बस स्टैंड नंबर एक को जिला प्रशासन ने शनिवार को खाली करा लिया था। रविवार को सामान्य दिनों की तरह ही बस स्टैंड एक और दो पर विभिन्न रोडों की बसें आती-जाती रहीं। शहर के जवाहर रोड पर, छत्रसाल चौराहा क्षेत्र, पन्ना रोड, सागर रोड, नौगांव और महोबा रोड पर सामान्य दिनों की तहत ही दुकानें खुलीं और लोगों ने अपने रोजमर्रा के कार्य किए। बल्कि बस स्टैंड, पुराना पन्ना नाका, छत्रसाल चौराहा, नौगांव रोड, सागर रोड और महोबा रोड पर एक चार की गार्ड तैनात रही।

मुश्किलकुशा जाने वालों की पुलिस ने की चैकिंग

शहर के राजनगर बायपास रोड स्थित मुश्किलकुशा ईदगाह से ईद मिलादुन्नबी पर्व का सालाना जुलूस शुरू होता है। इस बार राम जन्म भूमि का फैसला आने के बाद रविवार को निकलने वाला जुलूस स्थगित कर दिया गया। इस दौरान काेई अप्रिय घटना न घटे इसके लिए पुलिस प्रशासन की ओर से भारी पुलिस बल तैनात किया गया। प्रशासन के आदेशानुसार वहां मौजूद पुलिस ने इस रोड से आने और जाने वाले वाहन चालकों सहित वाहनों की चैकिंग की। इसके साथ ही मुश्किल कुशा रोड पर कई स्थानों पर बेरीकेड्स लगाए गए।

पुराना पन्ना नाका चौकी में मौजूद रही पुलिस

शहर में पुराना पन्ना नाका क्षेत्र की सुरक्षा के लिए सालों पहले पुलिस विभाग द्वारा गुमटी में चौकी स्थापित की गई है। शुरुआत में कुछ दिनों तक तो इस चौकी में पुलिस रही, पर पिछले 5-6 सालों से इसमें काई भी नहीं बैठा। इस दौरान इस चाैकी में वहां के सब्जी दुकानदार अपना कबाड़ रखते रहे। पर राम जन्म भूमि का फैसला आने के बाद इस चौकी की सफाई करते हुए यहां पर एक चार की गार्ड तैनात कर दी गई। अब पिछले तीन दिनों से इस पुलिस चौकी में पुलिस बैल बैठा दिखाई दे रहा है।

मुख्य बाजार पूरी तरह से रहा बंद

शनिवार की शाम शांति समिति की बैठक में आपसी सहमति से मुस्लिम समाज और प्रशासन ने निर्णय लिया कि ईद मिलादुन्नबी पर्व पर शहर में निकलने वाला सालाना जुलूस नहीं निकाला जाएगा। जुलूस न निकलने और भारी पुलिस बल मुख्य बाजार मैजूद रहने के कारण शहर के व्यापारियों ने मुख्य बाजार रविवार को पूरी तरह से बंद रखा। इस दौरान महल तिराहा से लेकर सिटी कोतवाली तक और जैन मंदिर से लेकर चौक बाजार तक की सभी दुकानें बंद रहीं। इसके साथ ही पुरानी गल्ला मंडी की सभी थाेक दुकानों सहित पूरा मार्केट बंद रहा। वहीं हटवारा से लेकर फव्वारा चौक तक कुछ दुकानें खुली भी रहीं।

सिर्फ झंडे लेकर जुलूस में निकले लोग

रविवार को सुबह से ही मुस्लिम समुदाय के उत्साही युवक शहर में जुलूस निकालने की मांग करने लगे। सुबह पहले कुछ लोग बाइकों की टोलियों में निकले। इस पर प्रशासन ने महल परिसर संकट मोचन तिराहा, चौक बाजार आदि में चैकिंग प्वांइट बना दिए। सामूहिक रूप से निकलने पर रोक लगा दी। इस पर समाज के प्रमुख लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूप में कलेक्टर मोहित बुंदस और एसपी तिलक सिंह के साथ जुलूस निकालने के लिए अनुमति देने की फिर से मांग की। प्रशासन ने कहा कि पूरे मप्र में कहीं जुलूस निकालने की अनुमति नहीं है। इस कारण वे अनुमति नहीं दे सकते। बेनतीजा रही बैठक के बाद बड़ी संख्या में लोग मुश्किल कुशा मैदान में एकत्रित हो गए। दोपहर में करीब 3 बजे कुछ लोग झंडे लेकर निकल पड़े। जैसे-जैसे यह जुलूस आगे बढ़े लोगों की संख्या बढ़ती गई। संकट मोचन तालाब, बसारी दरवाजा, ग्वालमगरा तालाब, चौक बाजार, महल रोड से होते हुए महल चौक पहुंचा। महल चौका पर प्रशासन ने प्रशासन ने जुलूस को रोक दिया। कलेक्टर और एसपी के साथ बड़ी देर तक चली बातचीत के बाद महलों पर ही जुलूस को खत्म कर दिया गया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना